Jaipur Murder Case: चोर समझ बेगुनाह को इस कदर पीटा निकल गई जान, जानिए क्या है पूरा मामला

 Jaipur Murder Case: खेत से लौट रहे चिरंजीलाल को चोर समझ 15- 20 लोगों ने बुरी तरह पीट डाला। जिससे वह गंभीर घायल हो गया। जयपुर में इलाज के दौरान सोमवार देर रात्रि को चिरंजी ने दम तोड़ दिया।

Jaipur Murder Case
चोरी के शक में निर्दोष की हत्या  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • रामबास में एक बेगुनाह शख्स को चोर समझकर इतना पीटा की उसकी मौत हो गई
  • घटना से जुड़े हुए सभी आरोपियों को हिरासत में लिया गया है
  • मृतक सब्जी का ठेला लगाकर 11 लोगों के परिवार में अकेला कमाने वाला था

Jaipur Murder Case: राजस्थान का अलवर जिला एक बार फिर से सुर्खियों में है। जिले के गोविंदगढ़ इलाके के गांव रामबास में एक बेगुनाह शख्स को चोर समझकर इतना पीटा की उसकी मौत हो गई। घटना से गुस्साए परिजनों ने हंगामा खड़ा कर दिया। मृतक का दाह संस्कार नहीं करने पर अड़ गए। परिजन व ग्रामीण 50 लाख के मुआवजे सहित परिवार के एक जने को सरकारी नौकरी देने की मांग पर अड़ गए। वहीं घटना के दोषियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग भी की। मामले की गंभीरता को देखेते हुए मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है। पुलिस के मुताबिक गांव रामबास का सब्जी का ठेला लगाने वाला चिंरजी लाल सैनी (45) एक खेत में शौच के लिए गया था। इस बीच अलवर के सदर थाना इलाके से चोर एक ट्रैक्ट चोरी करके ला रहे थे। पुलिस व ट्रैक्टर मालिक चोरों का पीछा कर रहे थे। चोर खुद को पुलिस की पकड़ में आते देख चुराए गए ट्रैक्टर को मौके पर छोड़ कर भाग गए।

इस बीच पीछा करते हुए ट्रैक्टर मालिक पुलिस से पहले ट्रैक्टर के पास पहुंच गए। जब तक पुलिस मौके पर पहुंचती खेत से लौट रहे चिरंजीलाल को चोर समझ 15- 20 लोगों ने बुरी तरह पीट डाला। जिससे वह गंभीर घायल हो गया। इसके बाद पुलिस घायल को पास के ही एक अस्पताल लेकर गई। जहां पर डाक्टर्स ने उसकी गंभीर हालत देखेते हुए उसे जयपुर रेफर कर दिया। जयपुर में इलाज के दौरान सोमवार देर रात्रि को चिरंजी ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने मृतक के बेटे की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

घर में मचा कोहराम

मंगलवार को मृतक चिरंजीलाल सैनी का पार्थिव शरीर गांव पहुंचा तो घर में कोहराम मच गया। पूरे गांव में सन्नाटा पसर गया व ग्रामीण घटना से आहत हैं। परिजनों को रो- रो कर बुरा हाल है। वह सब्जी का ठेला लगाकर 11 लोगों के परिवार में अकेला कमाने वाला था। मृतक के घर के आसपास सैंकड़ों ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। गुस्साए ग्रामीणों ने बाजार बंद करवा दिए व गोविंदगढ़ मार्ग पर जाम लगा दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि, पुलिस दोषियों पर कार्रवाई करने के बजाय प्रदर्शन कर रहे लोगों को धमकाने लगी। इधर, गोविंदगढ़ डिप्टी कमल मीणा मौके पर आए व लोगों से समझाइश की। उन्होंने कहा कि, मामले के दोषियों की पहचान कर ली गई है। जल्द ही सभी सलाखों के पीछे होंगे। वहीं मौके पर आए लक्ष्मणगढ़ एसडीएम लखन गुर्जर ने कहा कि, मांगों को सरकार तक भेज दिया जाएगा। 

सभी आरोपी गिरफ्तार 

डीएसपी कमल मीणा के मुताबिक मृतक के बेटे ने एफआइआर दर्ज करवाई है। डिप्टी मीणा के मुताबिक घटना से जुड़े हुए सभी आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। साथ ही जिन वाहनों में सवार होकर आरोपी आए थे, उन दो वाहनों सहित ट्रेक्टर को भी जब्त कर लिया है। इलाके में शांति बहाली तक पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है। वहीं आरोपियों से मामले को लेकर पूछताछ की जा रही है। डिप्टी के मुताबिक घटना की गंभीरता को देखते हुए हर एंगल से जांच की जा रही है। 

Jaipur News in Hindi (जयपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर