Jaipur Kidnapping Case: बेखौफ बदमाश अस्पताल से ले उड़ा बच्चा, तीसरी आंख का पहरा हुआ फेल

Jaipur Kidnapping Case: प्रदेश के सबसे बड़े हाई-प्रोफाइल हॉस्पिटल में किडनैपिंग की घटना होने के बाद इलाके में हड़कंप मचा गया। शहर के मध्य में दिन दहाड़े हुई वारदात के चलते खाकी भी सवालों के घेरे में है।

Jaipur Crime
जयपुर के हॉस्पिटल से बच्चा चोरी  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • आरोपी एसएमएस के सभी सीसीटीवी कैमरों को चकमा देने में कामयाब रहा
  • पहले परिजनों का भरोसा जीता फिर दी दगा
  • एक निजी अस्पताल के सीसीटीवी कैमरे में आरोपी कैद हुआ

Jaipur Kidnapping Case: राजधानी जयपुर में सबसे सुरक्षित माने जाने वाले एसएमएस अस्पताल से बच्चा चोरी होने का मामला सामने आया है। प्रदेश के सबसे बड़े हाई-प्रोफाइल हॉस्पिटल में किडनैपिंग की घटना होने के बाद इलाके में हड़कंप मचा गया। शहर के मध्य में दिन दहाड़े हुई वारदात के चलते खाकी भी सवालों के घेरे में है। बीमारी से जूझ रहे लोगों को नई जिंदगी देने वाले एसएमएस अस्पताल में लगी तीसरी आंख में भी शातिर बदमाश ने धूल झोंक दी। आपको बता दें कि, अस्पताल में कुल 90 सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। सांप निकल गया अब पुलिस लकीर पीट रही है।

दरअसल घटना एसएसएम अस्पताल में जेएलएन मार्ग पर पीछे की ओर स्थित बांगड़ केंपस की है। यहां पर दौसा जिले के वृद्ध अपने बड़े पौत्र का उपचार करवाने के लिए आए हुए हैं। पीड़ित कालूराम खाना खा रहे थे। इस बीच उनका एक अन्य चार माह का पौत्र दिव्यांश एक तरफ लेटा हुए था। महज चंद क्षणों में ही उनके पास बैठा आरोपी मासूम दिव्यांश को लेकर फरार हो गया।

ऐसे भरोसा जीत दिया दगा

एसएचओ नवरतन धोलिया ने बताया कि दौसा जिले के गांव के रहने वाले कालूराम ने थाने में बच्चे के किडनैप होने का मामला दर्ज करवाया है। एसएचओ के मुताबिक कालूराम ने अपने पौत्र आयुष को गत 24 जुलाई को एसएसएस के बांगड़ अस्पताल में रीढ़ की हड्डी के इलाज के लिए भर्ती करवाया था। जिसके चलते कालूराम की पत्नी धोळी देवी, बेटा अंकुर, पुत्रवधु खेला देवी व मासूम दिव्यांश उनके साथ अस्पताल में थे। चोरी हुए मासूम की दादी धोळी देवी ने बताया कि बुधवार की दोपहर को पार्क में एक अनजान शख्स ने उनसे बातचीत शुरू की। उसने वृद्धा को बताया कि उसके पौत्र के जैसी बीमारी उसके भाई को भी है। उसने झांसे में लेकर धोळी देवी को विश्वास दिलाया कि उनके पौत्र आयुष का उपचार एक अच्छे डॉक्टर से करवाएगा। वह कालूराम व उनकी पत्नी को अपने साथ लेकर गया व एक निजी अस्पताल के डॉक्टर को आयुष की रिपोर्ट भी दिखाई। 

इंदिरा रसोई से खाना लेने गई थी

पुलिस के मुताबिक कालूराम के पास वह अनजान शख्स शाम को दोबारा आया। इस बीच वृद्धा खाना लेने जाने लगी तो दिव्यांश उसके पास था। जिस पर उस शख्स ने कहा कि पौत्र को दादा को दे दो। पुलिस के मुताबिक इसके बाद वह वृद्धा इंदिरा रसोई से खाना लेने चली गई। इसके बाद वह आयुष को खाना देने वार्ड में चली गई। इस बीच कालूराम खाना खा रहा था। दिव्याशं उसके पास लेटा अठखेलियां कर रहा था। 15 मिनट के बाद धोळी देवी वापस लौटी तो दिव्याशं गायब मिला। इसके बाद परिजनों में कोहराम मच गया। दिव्यांश के पिता अंकुर ने बताया कि वह सोमवार रात्रि को घर संभालने के लिए गांव गया हुआ था। 

पुलिस को मिले कुछ सुराग

जयपुर कमिश्ररेट के डीसीपी ईस्ट राजीव पचार ने बताया कि बच्चा चोरी होने के मामले को लेकर पुलिस को कुछ अहम सुराग मिले हैं। कमिश्ररेट की सीएसटी टीमों सहित 6 थानों की पुलिस को सर्च अभियान में लगाया है। हालांकि गत वर्ष इस तरह की घटना हुई थी, उसके एक साल बाद बच्चा चोरी होने का हैरान करने वाला प्रकरण हुआ है। उन्होंने दावा किया कि जल्द आरोपी की गर्दन पुलिस के हाथों में होगी। डीसीपी के मुताबिक अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। वहीं एक निजी अस्पताल के डाक्टर से भी पूछताछ की गई है। जिसमें डॉक्टर ने बताया कि आरोपी ने नीले रंग की फेडेड जिंस व आसमापी रंग की टीशर्ट पहन रखी है। 

Jaipur News in Hindi (जयपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर