Taliban in Afghanistan: अफगानिस्तान में चीन- पाकिस्तान, खतरनाक प्लान तैयार !

अफगानिस्तान में तालिबान नई सरकार के गठन के लिए करीब करीब तैयार है और जिस तरह से तालिबान और पाकिस्तान के बयान आए है उससे साफ है कि वो खतरनाक मंसूबों को जमीन पर उतारने के बारे में सोच रहे हैं।

Taliban new  government, Afganistan, Pakistan, china, taliban news latest, ISI, infiltration in jammu kashmir, taliban reaction on kashmir
तालिबानी अफगानिस्तान में चीन- पाकिस्तान, खतरनाक प्लान तैयार ! 

आज अफगानिस्तान में तालिबान की नई सरकार का गठन हो रहा है ।मुल्ला बरादर को मुखिया बनाया गया है ।.सरकार बनने से पहले जगह-जगह पोस्टर लगाए गए।पोस्टरों में लिखा गया है कि कब्जा खत्म, आजादी आई।राष्ट्र हमसे है और हम राष्ट्र से हैं।देशवासियों को आजादी मुबारक।.तो दूसरी तरफ अफगानिस्तान में महिलाओं ने तालिबानी सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद की है। तालिबान के विरोध में प्रदर्शन किया जा रहा है।

अफगानिस्तान में तालिबान, कश्मीर पर आतंकियों की नजर !
इस बीच अफगानिस्तान में तालिबान के आ जाने से अब आतंकियों की नजर कश्मीर पर है । पाकिस्तान-चीन और तालिबान मिलकर भारत के खिलाफ साजिश रचने की फिराक में हैं । मकसद सिर्फ एक है अलगाववादी एजेंडे को हवा देकर कश्मीर के मुसलमानों को भड़काना और घाटी का माहौल फिर से खराब करके आतंकी साजिश रचना। ऐसा हम इसलिए कह रहे है क्योंकि दो दिन पहले जो तालिबान भारत को भरोसा दिलाता है कि वो अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल भारत के खिलाफ साजिश के लिए नहीं किया जाएगा। अब उसी तालिबान ने पलटी मार ली है। अब तालिबान अलगाववादी एजेंडे को हवा दे रहा है।

तालिबान ने कहा है कि वो कश्मीर के मुसलमानों के लिए आवाज उठाएगा ।इतना ही नहीं किसी भी देश के मुसलमानों के लिए आवाज उठाने का हक तालिबान के पास है ।.साथ ही तालिबान ने कहा है कि भारत घाटी के लोगों के प्रति सकारात्मक रुख अपनाए और पाकिस्तान के साथ मिलकर कश्मीर मुद्दे पर बैठक करे पाकिस्तान भी यही चाहता है कि वो तालिबान के साथ मिलकर कश्मीर में आतंक फैलाए ।इसके  लिए पाकिस्तान की आईएसआई ने पूरी तैयारी भी कर ली है ।.

भारत के खिलाफ ISI की साजिश

  • तालिबानी आतंकियों को कश्मीर भेज रहा ISI 
  • 50 आतंकियों का ग्रुप LoC के पास कहूटा लाया गया
  • ग्रुप में सभी आतंकी अफगान मूल के हैं
  • तालिबानी आतंकी बसों के जरिए LOC तक लाए गए 
  • जैश में शामिल होने के बाद कश्मीर में घुसपैठ की साजिश

खबरों के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई तालिबानी आतंकियों को कश्मीर भेज रहा है ।.50 आतंकियों का ग्रुप LoC के पास कहूटा लाया गया..इस ग्रुप में सभी आतंकी अफगान मूल के हैं ।बसों से जरिए एलओसी लाए गए इन आतंकियों को जैश में शामिल कर कश्मीर में घुसपैठ करने की साजिश रची जा रही है 

पाकिस्तान की नई साजिश

LoC पर ताकत बढ़ा रहा है पाकिस्तान
PoK में रावलकोट और कोटली एयरबेस फिर से चालू
श्रीनगर से रावलकोट और कोटली की दूरी 100km
कोटली एयरबेस पर 3 PoK ब्रिगेड को तैनात किया
बड़ी संख्या में एयरफोर्स के जवान कोटली भेजे गए
रावलकोट एयरबेस पर 2 PoK ब्रिगेड को तैनात किया
PoK में दोनों एयरबेस पिछले 4 सालों से बंद थे
पाकिस्तान की नापाक हरकत और उसके मंसूबे सामने आ रहे हैं ।.बीती रात LOC पर पुंछ सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश है .घुसपैठियों को देखने के बाद जबरदस्त गोलीबारी भी हुई है ..हालांकि भारतीय सेना के जवानों ने घुसपैठियों के मंसूबों को नाकाम कर दिया।.. पिछले पांच दिनों में सुरक्षा बल ने दो घुसपैठ की कोशिश को नाकाम किया है और पिछले दिनों लश्कर के दो टॉप कमांडर मार गिराए।.


चीन-तालिबान भाई-भाई!

  • अफगानिस्तान में $3 ट्रिलियन की खनिज संपदा
  • तांबे की खदानों पर चीन की नजर
  • अफगानिस्तान में दुनियाभर के प्रोजेक्ट्स 
  • उईगर मुसलमानों को दबाने में तालिबान की मदद
  • सिल्क रूट का अहम हिस्सा है अफगानिस्तान
  • वन बेल्ट वन रोड प्रोजेक्ट में आसानी
  • अफगानिस्तान में तालिबान को करेगा मदद 


कौन है मुल्ला बरादर 

  • वर्तमान में  तालिबान का राजनीतिक प्रमुख 
  • तालिबान में दूसरे नंबर का नेता
  • 1994 में तालिबन के गठन के दौरान अहम सदस्य
  • तालिबान के संस्थापक मुल्ला मोहम्मद उमर खास था
  • 1996 में अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे में अहम भूमिका
  • 1996 में तालिबान ने उप रक्षामंत्री बनाया था
  • तालिबान की सत्ता जाने तक उप रक्षामंत्री पद रहा
  •  2010 में CIA की मदद से कराची से गिरफ्तार हुआ
  • 2018 में पाकिस्तान ने जेल से रिहा किया

इतना ही नहीं पाकिस्तान ने एलओसी के पास चार साल से बंद पड़े अपने एयरबेस खोल दिए हैं ।जिनका इस्तेमाल पाकिस्तान भारत के खिलाफ आतंकी गतिविधि के लिए कर सकता है ।.उधर चीन भी तालिबान को फुल सपोर्ट कर रहा है ।
ऐसे में सवाल है 




 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर