Sawal Public Ka: हिंदुस्तान की सियासत में 'काला जादू' का खेला क्या है, इस पर होगा 2024 का महायुद्ध?

Sawal Public Ka: प्रधानमंत्री मोदी के काला जादू वाले बयान पर राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि महंगाई, बेरोजगारी के नाम पर पीएम मोदी को घेरने की कोशिश की, ये भी कहा कि  जनता के मुद्दों पर जवाब तो देना ही पड़ेगा। इसलिए आज पब्लिक का सवाल है- हिंदुस्तान की सियासत में 'काला जादू' का खेला क्या है? क्या काला धन Vs काला जादू पर होगा 2024 का महायुद्ध?

Sawal Public Ka: What is the game of 'black magic' in the politics of India, Will the Great War of 2024 be on this?
2024 में होगा काला जादू बनाम काला धन? 
मुख्य बातें
  • काला धन छिपाने के लिए 'काला जादू' और कारनामे? 
  • क्या 2024 में काला धन+'काला जादू' Vs नरेंद्र मोदी? 
  • क्या काला धन Vs काला जादू पर 2024 का महायुद्ध?

Sawal Public Ka: प्रधानमंत्री मोदी के एक बयान पर देश में सियासी घमासान मचा है। पीएम के दो शब्द से राजनीतिक दल परेशान हैं।  ये शब्द हैं- काला जादू और रेवड़ी पॉलिक्टस। इसी शब्द से आगे काला धन, कारनामे जैसे कई शब्द-बाण चल रहे हैं। इस पर क्या हो रहा है इस पर अभी बात करते हैं लेकिन पहले आपको एक तस्वीर दिखाती हूं। महाराष्ट्र के जालना में एक स्टील कारोबारी के यहां इनकम टैक्स की रेड पड़ी है। वहां 58 करोड़ रुपये कैश बरामद हुए। जी हां 58 करोड़, मैं तो हैरान हूं। आजकल तो छापेमारी कुछ लाख रुपये मिले ये तो सुनने को भी नहीं मिलता। सीधे करोड़..वो भी 50 करोड़, 100 करोड़ इस तरह से। जालना के बिजनेसमैन की 390 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ। इस कारोबारी के घिर जितना कैश मिला उसे गिनने में 13 घंटे लग गए। 32 किलो सोना भी मिला। ये काले धन पर मोदी सरकार की ताबड़तोड़ स्ट्राइक का ताजा EXAMPLE है। 

अर्पिता-पार्थ वाली स्टोरी हम आपको दिखाते रहे हैं। पश्चिम बंगाल में शिक्षा घोटाले को लेकर कितने रुपए मिले। कैसे हिस्सा चल रहा था। वहां भी 50 करोड़ से ज्यादा कैश,10 से ज्यादा फ्लैट्स, आधे-आधे किलो के सोने के 6 कंगन, विदेशी करेंसी..क्या नहीं मिला। यूपी चुनाव के समय इत्र कारोबारी के घर में नोटों के ढेर जनता आज तक नहीं भूली। ये सब हाल के EXAMPLES मैंने आपको इसलिए दिखाए और बताए ताकि ये क्लियर हो जाए कि मोदी सरकार करप्शन पर एक्शन को लेकर क्या कर रही है। ऐसे ही एक्शन में ED हेराल्ड विवाद में कांग्रेस की टॉप लीडरशीप तक पहुंच गई। बस उसके बाद से काला धन के साथ काला जादू का नया चैप्टर हिन्दुस्तान की राजनीति में खुल गया। इसलिए आज पब्लिक का सवाल है- हिंदुस्तान की सियासत में 'काला जादू' का खेला क्या है?
क्या काला धन Vs काला जादू पर होगा 2024 का महायुद्ध?

प्रधानमंत्री मोदी के काला जादू वाले बयान पर आज कांग्रेस पूरे होमवर्क के साथ सामने आई। राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि महंगाई, बेरोजगारी के नाम पर पीएम मोदी को घेरने की कोशिश की, ये भी कहा कि  जनता के मुद्दों पर जवाब तो देना ही पड़ेगा। मतलब पलटवार काला जादू वाले बयान पर था लेकिन नेशनल हेराल्ड केस की तरह कांग्रेस ने महंगाई को ही हथियार बनाया। दरअसल ये पूरी डिबेट कांग्रेस के 5 अगस्त वाले प्रोटेस्ट को लेकर शुरू हुई। जिस दिन सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी, राहुल गांधी समेत कांग्रेस के लगभग तमाम नेता काले कपड़ों में प्रदर्शन करने उतरे। इसी पर कल प्रधानमंत्री ने काला जादू वाला रिएक्शन दिया। ये बयान मैं आपको आज फिर से सुनवाती हूं। 

प्रधानमंत्री की ये बात कांग्रेस को इतनी चुभी कि आज कांग्रेस ने मोर्चा खोल दिया। इंडियन यूथ कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से एक के बाद कई ट्वीट किए गए। कई सारे मीम्स सामने आए। यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी इस मुद्दे को काले धागे तक ले गए। उन्होंने पीएम मोदी के हाथ में बंधे काले धागे यानी कलाबा वाली तस्वीरों को ट्वीट किया। इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस सांसद शक्ति सिंह गोहिल भी सामने आए। काले कपड़े में मोदी की तस्वीर दिखाई। और इस पर रिएक्शन भी दिया।

आपने देखा काले जादू पर कैसी राजनीति हो रही है। काला धन और काले कारनामे तक की बातें हो रही। हर तरफ सवाल उठाए गए कि काले धन पर क्या एक्शन हुआ। कुछ फैक्ट्स हम इसे लेकर रखना चाहते हैं। 

  • 11 अगस्त 2022 यानी आज महाराष्ट्र के जालना में इनकम टैक्स का छापा पड़ा । जिसमें 58 करोड़ कैश जब्त हुए । 390 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ ।
  • 31 जुलाई 2022 को शिवसेना सांसद संजय राउत के घर पर ED की रेड हुई। बिना हिसाब वाले साढ़े ग्यारह लाख रुपए जब्त किए गए । हालांकि पात्रा चॉल घोटाला 1034 करोड़ का है । ED की जांच जारी है । 
  • जुलाई के महीने में ही पश्चिम बंगाल के मंत्री रहे पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के कई फ्लैट पर ED के छापे पड़े । 50 करोड़ रुपए से ज्यादा कैश जब्त, 2 करोड़ 76 लाख के गोल्ड जब्त हुए ।
  • 15 जुलाई 2022 को झारखंड में अवैध खनन मामले में हेमंत सोरेन के करीबी पंकज मिश्रा के ठिकानों पर ED के छापे पड़े, 11 करोड़ 88 लाख रुपए कैश जब्त हुए,  37 बैंक खातों की जानकारी मिली ।
  • इसी मामले में 9 जुलाई 2022 को झारखंड में पंकज मिश्रा के 18 ठिकानों पर 5 करोड़ 32 लाख रुपए कैश मिले थे  
  • 7 जून 2022 को दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन पर ED की रेड हुई..2 करोड़ 85 लाख रुपये, 133 सोने के सिक्के जब्त हुए । 

दर्शकों, हर दूसरी सुबह कहीं न कहीं कैश के ढेर की तस्वीर आ जाती है। हालांकि मैं ये भी मानती हूं कि जितना एक्शन हो रहा है उससे कहीं ज्यादा होना चाहिए। काला धन इस देश के टैक्सपेयर का पैसा है। ये जहां भी हो उसे खोजकर निकाला जाना चाहिए। बस रेफरेंस के लिए हमने कुछ हाल में हुए एक्शन आपके सामने रखे। अगर ऐसे एक्शन को एक जगह जोड़ लें तो पिछले 8 साल में 1 लाख करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त हो चुकी है। जी हां 1 लाख करोड़ से ज्यादा। ये तो काला धन पर स्ट्राइक हुआ लेकिन काला धन की आड़ में काला जादू पर सियासत हो रही है। करप्शन पर एक्शन के examples भी देखें। 

इन सबके बीच आज पब्लिक का सवाल है ? 

हिंदुस्तान की सियासत में 'काला जादू' का ये खेला क्या है ?
क्या काला धन Vs काला जादू पर होगा 2024 का महायुद्ध?
'रेवड़ी कल्चर' पर कौन सच्चा, कौन झूठा ? 
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर