Rashtravad: 'वोट के सौदेबाज' खुफिया कैमरे पर बेनकाब, आग लगाएंगे, मर्डर करेंगे, कुर्सी के लिए सब करेंगे?

Rashtravad: टाइम्स नाउ नवभारत के स्टिंग ऑपरेशन में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर और निषाद पार्टी के संजय निषाद बेनकाब हो गए हैं।

sanjay nishad
राष्ट्रवाद...देश से बढ़कर कुछ नहीं 

'राष्ट्रवाद...देश से बढ़कर कुछ नहीं' में बात हुई टाइम्स नाउ नवभारत के 'ऑपरेशन मुख्यमंत्री' की। इस स्टिंग ऑपरेशन के बाद सियासी गलियारों में खलबली मच गई है। आज सुबह से आप टाइम्स नाउ नवभारत पर देख रहे हैं कि कैसे यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए संजय निषाद और ओम प्रकाश राजभर सियासी पिच तैयार कर रहे हैं। संजय निषाद हमारे कैमरे में सीट बेचकर चुनाव लड़ने की बात कबूल करते दिखाई दिए। यहां तक कि चुनाव जीतने के लिए संजय निषाद ने हत्या और हिंसा करवाने तक की बात कबूल की। वहीं राजभर ने हमारे कैमरे पर ये दावा किया कि वो यूपी चुनाव में पैसों के दम पर चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे। खुलासे के बाद संजय निषाद ने खुद को कमरे में बंद कर दिया तो राजभर स्टिंग देखने के बाद गाड़ी से भागते हुए नजर आए।

संजय निषाद के बाद यूपी के एक और नेता ओपी राजभर का भी स्टिंग ऑपरेशन हमने आपको दिखाया। स्टिंग ऑपरेशन में पैसे लेने से लेकर मुस्लिम वोट तक राजभर ने कई खुलासे किए। संजय निषाद पर हुए खुलासे पर ओपी राजभर बड़ी बड़ी बातें कर रहे थे लेकिन जब उन पर खुलासा हुआ तो राजभर बौखला गए। 

इस खुलासे के बाद सवाल हैं:

  1. आग लगाएंगे, मर्डर करेंगे, कुर्सी के लिए सब करेंगे?
  2. संजय निषाद सन्नाटे में, ओपी राजभर क्यों बौखलाए?
  3. 'ऑपरेशन मुख्यमंत्री' से बदलेगी UP की सियासत? 
  4. राजभर और निषाद से गठबंधन करेंगी पार्टियां?

इस स्टिंग में संजय निषाद कहते हैं कि अभी हम बेसलेस लीडर ऑफ पार्टी हैं, पावर नहीं है ,पैसा नही है, पब्लिक है लेकिन पब्लिक को कंट्रोल करने वाले हमारे पास कैडर्स नहीं हैं। और मैनेजमेंट वहां चलता है जहां एक सिस्टम डेवलप हो और मैनेज करके उसे प्रोडक्शन किया जाए। मैनेजमेंट वहां चलता है, यहां अभी कुछ है ही नही। मैनेजमेंट किसपे करोगे और मैनेज करके चुनाव लड़ा जीता जा सकता है, आगे बढ़ा जा सकता है, 2024 के लिए, हमारा टारगेट 2024, 2027 है। इसीलिए मैं सपा को मारना चाहता हूं, बसपा मर गई है लगभग, कांग्रेस को खत्म कर दिया, जब तक मैं खड़ा रहूंगा, कांग्रेस भी खड़ी रहेगी। अब पिछड़ी जातियों के लिए जहर हूं मैं, उनके तरफ से उनके लिए इंसेक्टिसाइड हूं मैं। बोलता रहता हूं मैं।

वहीं ओपी राजभर कहते हैं कि हम जिसके साथ जाएंगे उससे पहले ही कह देंगे कि देखो भाई हमारे पास पैसे नहीं हैं। हम बाहर से प्रत्याशी नहीं लड़वाएंगे। हम तुम्हारे साथ अगर गठबंधन करेंगे तो तुम्हारा रेट बढ़ जाएगा। जहां तुम 2 करोड़ लेती हो तो तुमको 5 करोड़-6 करोड़ मिलेगा। तो हमको लड़ने के लिए पैसा देना पड़ेगा हम देंगे नहीं। हमारे पास कुछ है नहीं। पहले इसके लिए तैयार हो, भले ही सीट कम दे दो हमको। बेच देना तुम सीट हम बेचने वाले नहीं हैं। राजभर ने SP-BSP को फुका हुआ कारतूस बताया और कहा कि यूपी में बीजेपी के खिलाफ माहौल बन रहा है और अब उनका वक्त आ चुका है। 
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर