'एक बेहद ज़िंदादिल हमसफ़र हाथ छुड़ा कर चला गया'; राहत इंदौरी के निधन पर दुखी हुए कुमार विश्वास

देश
लव रघुवंशी
Updated Aug 11, 2020 | 21:05 IST

Kumar Vishwas on Rahat Indori Death: मशहूर शायर राहत इंदौरी का कोविड-19 के इलाज के दौरान निधन हो गया है। मंगलवार सुबह 70 वर्षीय शायर ने खुद ट्वीट कर अपने संक्रमित होने की जानकारी दी थी।

Rahat Indori
राहत इंदौरी का निधन 

मुख्य बातें

  • मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन हो गया है
  • कोरोना वायरस की चपेट में आए थे राहत इंदौरी, आईसीयू में हुए थे भर्ती
  • राहत इंदौरी के निधन पर कवि कुमार विश्वास ने शोक जताया है

नई दिल्ली: मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन हो गया है। वो कोरोना वायरस से संक्रमित थे और आज उन्होंने ही ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी। श्री अरबिंदो अस्पताल के डॉ. विनोद भंडारी ने कहा, 'उन्हें आज दो बार दिल का दौरा पड़ा और उन्हें बचाया नहीं जा सका। कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उन्हें रविवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें 60% निमोनिया था। उनके निधन पर कवि कुमार विश्वास ने शोक जताया है। 

कुमार विश्वास ने कहा, 'हे ईश्वर ! बेहद दुखद ! इतनी बेबाक़ ज़िंदगी और ऐसा तरंगित शब्द-सागर इतनी ख़ामोशी से विदा होगा,कभी नहीं सोचा था ! शायरी के मेरे सफ़र और काव्य-जीवन के ठहाकेदार क़िस्सों का एक बेहद ज़िंदादिल हमसफ़र हाथ छुड़ा कर चला गया' 

कुमार विश्वास ने इससे पहले राहत इंदौरी के कोरोना संक्रमित पाए जाने पर ट्वीट किया था, 'ग़लत आदमी से भिड़ गया है कोरोना इस बार ( बाक़ी साइलेंट है) ! जल्दी ठीक हो जाइए राहत भाई ! हज़ारों रातें लुटा कर कमाई करोड़ों दुआएँ, मेरी तरह आपको जल्दी ही आसमान से मुख़ातिब होकर शेर सुनाते हुए देखने के लिए हमा तन गोश हैं' 

कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद राहत इंदौरी को इंदौर में एक निजी अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई (ICU) में भर्ती किया गया था। 70 साल के शायर ने कहा था, 'कोविड-19 के शुरूआती लक्षण दिखायी देने पर कल (सोमवार) मेरी कोरोना वायरस की जांच की गई जिसमें संक्रमण की पुष्टि हुई। दुआ कीजिये (मैं) जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं।' 

राहत इंदौरी को हुआ था निमोनिया

इंदौरी के बेटे और युवा शायर सतलज राहत ने बताया कि कोविड-19 के प्रकोप के कारण मेरे पिता पिछले साढ़े चार महीने से घर में ही थे। वह केवल अपनी नियमित स्वास्थ्य जांच के लिए घर से बाहर निकल रहे थे। इंदौरी को पिछले पांच दिन से बेचैनी महसूस हो रही थी और डॉक्टरों की सलाह पर जब उनके फेफड़ों का एक्स-रे कराया गया, तो इनमें निमोनिया की पुष्टि हुई। बाद में जांच में वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। सतलज ने बताया कि उनके पिता हृदय रोग और मधुमेह सरीखी पुरानी बीमारियों से पहले ही जूझ रहे हैं। 

शायरी की दुनिया में कदम रखने से पहले, इंदौरी एक चित्रकार और उर्दू के प्रोफेसर थे। वह हिन्दी फिल्मों के लिए गीत भी लिख चुके हैं और दुनिया भर के मंचों पर काव्य पाठ कर चुके हैं।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर