PM मोदी से मिलकर भावकु हुए कई Paralympics खिलाड़ी, एथलीट कशिश ने साझा किया दिलचस्प किस्सा

देश
किशोर जोशी
Updated Sep 12, 2021 | 12:25 IST

प्रधानमंत्री Narendra Modi ने कुछ दिन पहले टोक्यो पैरालंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों से मुलाकात की। इस मुलाकात का वीडियो आज जारी किया गया जिसमें खिलाड़ियों ने अपने अनुभव साझा किए।

PM Modi to Indian Paralympics athletes- you all are well known because of your hard work
PM मोदी से मिलकर भावकु हुए कई Paralympics खिलाड़ी 

मुख्य बातें

  • पीएम मोदी ने पैरालंपिक खिलाड़ियों के कोच की तारीफ़ की और उनके अनुभवों के बारे में जानने की कोशिश की
  • पैरालंपिक खिलाड़ियों ने प्रधानमंत्री को प्रदान की पैरालंपिक रिंग

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ समय पहले टोक्यो पैरालंपिक (Tokyo Paralympics) में भाग लेने वाले खिलाड़ियों से मुलाकात की थी। मुलाकात के दौरान खिलाड़ियों और पीएम के बीच क्या बातचीत हुई उसका वीडियो आज जारी किया गया। वीडियो में दिख रहा है कि बातचीत के दौरान खिलाड़ियों ने भी पीएम मोदी से कई सवाल किए। खिलाड़ियों ने पीएम से पूछा कि वो दवाब के क्षणों से कैसे पार पाते हैं। प्रधानमंत्री से पहली बार मिलने के दौरान कई खिलाड़ी भावुक भी गए।  पदक से चुके खिलाड़ियों ने प्रधानमंत्री को भरोसा दिया कि अगली बार वो पदक जरूर लाएंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने सभी खिलाड़ियों को बधाई दी और अगले खेलों के लिए फोकस करने को कहा।

कशिश लाकड़ा ने शेयर किया अपना किस्सा

भारत की सबसे युवा पैरालंपिक खिलाड़ी और टोक्यो पैरालंपिक में हिस्सा लेने वालीं 17 वर्षीय एथलीट कशिश लाकड़ा प्रधानमंत्री को धन्यवाद करते हुए हुए एक किस्सा शेयर किया और बताया, 'मैं 2014 में जब आप पीएम बने तो साढ़े 11 साल की थी, तब आपकी फोटो देख मैं अपनी मां से जिद करने लगी कि मुझे इन बाबा से मिलना है और आज मेरा सपना सच हो गया। मुझे लगता है कि आज का दिन मेरे लिए सौभाग्यशाली है।'

सामान्य ओलंपिक से अलग

 बातचीत के दौरान खिलाड़ियों ने बताया कि कैसे सामान्य ओलंपिक से पैरालंपिक, बहुत अलग होता है। खिलाड़ियों ने सरकार का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि फिलहाल भारतीय खेल जगत बहुत ऊपर उठ रहा है। पैरालंपिक खिलाड़ी पलक ने कहा, 'पैरालंपिक का हिस्सा होना गर्व की बात है. मैं बहुत खुश हूं कि भगवान से मुझे ये विकलांगता मिली है. जिसके कारण आज मैं पैरालंपिक का हिस्सा बन सकी।' वहीं पैरालंपिक खिलाड़ी प्राची ने कहा, 'मैंने कोशिश की मगर उतना वक्त नहीं मिल पाया था लेकिन फिर भी में फाइनल में पहुंची। आपने बोला था कि अपना बेस्ट देना।'

पीएम के साथ मुलाकात को बताया बड़ी बात

इस दौरान नोएडा के डीएम और पैरालंपिक में रजत पदक जीतने वाले एल वाई यथिराज ने कहा, '2018 में जिस इंडोनेशियाई खिलाड़ी ने मुझे हराया, उसे इस बार क्वार्टर फाइनल में हराया। आप ने जो प्रेरणा दी है वो हमारे लिए पदक जीतन में सबसे अधिक सहायक सिद्ध हुई।' अधिकांश खिलाड़ियों ने एक बात कही, 'अन्य देश के खिलाड़ी हमसे कह रहे थे कि तुम्हारे प्रधानमंत्री तुमसे बात कर रहे हैं ये गर्व की बात है। हमारे प्रधानमंत्री तो हमसे बात नहीं करते हैं।' पीएम मोदी ने पैरालंपिक खिलाड़ी रुबीना को दिलासा देते हुए कहा कि आप हार-जीत की बात दिमाग से निकाल दो. वहां तक पहुंचना ही बड़ी बात है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर