Rahul Gandhi: लब से निकले बोल कुछ ऐसे कि राहुल गांधी पर बिफर पड़ी अमेठी की जनता

देश
ललित राय
Updated Feb 24, 2021 | 15:10 IST

केरल दौरे पर राहुल गांधी ने जब उत्तर भारत की राजनीतिक तौर तरीकों के बारे में बताया तो ना सिर्फ सियासी चेहरे तमतमा उठे। बल्कि उनकी पारिवारिक विरासत रही अमेठी के लोग भी भड़क उठे और सबक सिखाने की चेतावनी डे डाली।

Rahul Gandhi:  लब से निकले बोल कुछ ऐसे कि अमेठी की जनता राहुल गांधी पर बिफर पड़ी
केरल दौरे पर राहुल गांधी ने की थी बयानबाजी 

मुख्य बातें

  • राहुल गांधी ने केरल में कहा था कि उत्तर भारत की राजनीति अलग तरह की होती है
  • अमेठी की जनता ने राहुल गांधी के बयान को बताया शर्मनाक
  • 2024 में कहीं का नहीं रहेगा गांधी का परिवार, अमेठी के लोगों ने साधा निशाना

नई दिल्ली। कांग्रेस के कद्दावर नेता राहुल गांधी कभी यूपी की अमेठी संसदीय क्षेत्र से सांसद हुआ करते थे। लेकिन 2019 के चुनाव में उन्हें स्मृति ईरानी के हाथों करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा। यह बात अलग है कि वो संसद पहुंचने में कामयाब रहे। राहुल गांधी ने अमेठी के साथ साथ केरल के वायनाड से किस्मत आजमाई और वहां से कामयाब रहे। इस समय राहुल गांधी केरल में है, केरल में चुनाव भी है लिहाजा उन्होंने केरल की तारीफ करते करते बताया कि उत्तर भारत और दक्षिण भारत की राजनीति में क्या फर्क है। एक तरह से उन्होंने अपने बयान में बताया कि उत्तर भारत में स्वार्थनिहीत राजनीति होती है। राहुल गांधी के बयान पर उनकी विरोधी स्मृति ईरानी ने तो निशाना साधा ही उनके साथ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी जमकर बोले। लेकिन इन सबके बीच अमेठी की जनता क्या कुछ कहती है उसे भी जानना जरूरी है। 

अमेठी की नजर में राहुल गांधी

  1. बहुत ही जल्द अगर अमेठी की जनता समझदार होकर अमेठी से गांधी परिवार को मुक्त कर दिया है तो उसी तरह रायबरेली की जनता भी सोनिया गांधी को अपने आप से मुक्त कर देगी। यही नहीं पूरा प्रदेश गांधी परिवार मुक्त हो जाएगा।
  2. राहुल गांधी नासमझ हैं, पिछले 14 साल में उन्होंने कुछ नहीं किया। लेकिन स्मृति ईरानी ने बहुत कुछ दिया। स्मृति ईरानी ने अपने संसदीय क्षेत्र को अच्छी सड़कें दी हैं, अस्पताल दीं। सैनिक स्कूल मिला आम लोगों से सर्वसुलभ रहती हैं। लेकिन राहुल गांधी सिर्फ बयानबाजी करते रहे हैं। 
  3. राहुल गांधी का बयान बचकाना है। अमेठी के लोगों के प्यार और सम्मान के साथ धोखा किया। इनकी कोई पहचान नहीं थी। अमेठी की जनता ने इन्हें ऊंचाई पर पहुंचाया। लेकिन यह क्या कर रहे हैं। जिस तरह से अमेठी के लोगों के साछ छल किया है वैसे ही वायनाड के साथ भी करेंगे। 2019 में तो चुनाव हार ही चुके हैं, 2024 इनके परिवार के लिए और बुरा साबित होगा। 
  4. अमेठी के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। लेकिन राहुल गांधी के लिए ज्यादा है। जिस तरह से वो उत्तर और दक्षिण को बांटने की साजिश कर रहे हैं उसका करारा जवाब मिलेगा। राहुल गांधी सिर्फ नासमझी की बात कर रहे हैं। विकास के नाम पर उन्होंने अमेठी के लिए कुछ भी नहीं किया और यही वजह है जनता ने उन्हें नकार दिया। 

स्मृति ईरानी और योगी आदित्यनाथ ने साधा था निशाना
राहुल गांधी के बयान पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि वो एहसानफरामोश हैं और इसके साथ ही थोथा चना बाजे घना के मुहावरे से नवाजा। इसके साथ ही यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राहुल गांधी और कांग्रेस हमेशा क्षेत्रवाद की राजनीति करती रही है और उस मानसिकता से कांग्रेस और गांधी परिवार कभी बाहर नहीं निकल सकी

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर