News ki Pathshala: टॉप कंपनियों के CEOs से मिले PM, हुई बिजनेस की बातें, समझें निवेश के लिए 'मोदी फॉर्मूला'

News ki Pathshala: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिल्ली से वॉशिंगटन पहुंचने में करीब 16 घंटे का वक्त लगा। इन 16 घंटे के दौरान भी प्रधानमंत्री मोदी का वर्क मोड ऑन रहा। उन्होंने फ्लाइट में भी जरूरी फाइलों को देखा।

News Ki Pathshala
न्यूज की पाठशाला 

'न्यूज की पाठशाला' में बात हुई पीएम मोदी के अमेरिका दौरे की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका पहुंचते ही बैक टू बैक मीटिंग्स शुरू कर दी है। उन्होंने टॉप अमेरिकी कंपनियों के CEOs से आमने सामने बातचीत की है। इनमें क्वॉलकॉम, अडोबे, फर्स्ट सोलर, जनरल एटॉमिक्स, ब्लैकस्टोन के CEOs शामिल हैं। ये सारी कंपनी अपने-अपने सेक्टर की टॉप ग्लोबल कंपनियां हैं।

ये 5 अमेरिकी CEOs कौन हैं?

  1. क्रिस्टियोना एमॉन, CEO, क्वॉलकॉम
  2. शांतनु नारायण, CEO, अडोबी
  3. मार्क विडमर, CEO, फर्स्ट सोलर
  4. विवेक लाल, CEO, जनरल अटॉमिक्स
  5. स्टीफन ए श्वार्जमैन, CEO, ब्लैकस्टोन

इसमें क्वॉलकॉम के CEO क्रिस्टियानो एमॉन से पीएम मोदी की क्या बातचीत हुई है। वो हम आपको बताते हैं। क्वॉलकॉम के CEO ने पीएम से बातचीत में कहा है कि भारत बड़ा मार्केट है। और यहां बिजनेस के बड़े मौके हैं। क्वॉलकॉम के CEO ने भारत के साथ मिलकर सेमीकंडक्टर के सेक्टर में काम करने की बात कही है। पीएम मोदी ने कहा कि भारत 5जी के लिए तैयार है और Qualcomm इस सेक्टर की बड़ी कंपनी है। भारत में टैलेंट है, मौके हैं, बिजनेस करना आसान है। इसलिए Qualcomm के लिए मैन्युफैक्चिरिंग के लिए भारत से अच्छी जगह कोई और नहीं हो सकती। पीएम मोदी ने भारत की नई ड्रोन पॉलिसी पर भी बात की है। और ये कहा कि Qualcomm भारत के साथ नई संभावनाओं और उभरते बाजार में अपनी हिस्सेदारी को बढ़ा सकता है

क्वालकॉम के बारे में आपको बताते हैं

  • ये अमेरिका की ग्लोबल टेक कंपनी है
  • जो सॉफ्टवेयर और वायरलेस टेक्नोलॉजी की बहुत बड़ी कंपनी है
  • मोबाइल फोन चिप की दुनिया में सबसे बड़ी सप्लायर कंपनी है
  • ज्यादातर फोन में इसका Snapdragon Processor होता है
  • 5G टेक्नोलॉजी में ये चीन की हुवावे और ZTE को टक्कर देती है
  • 5G टेक्नोलॉजी से जुड़े ज़रूरी पेटेंट्स Qualcomm के पास हैं
  • Qualcomm के भारत में भी 7 शहरों में डेवेलपमेंट सेंटर्स है
  • ये भारत में टेक्नोलॉजी की स्टार्ट अप्स कंपनियों में निवेश कर रही है
  • इसका फोकस 5G, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और क्लाउड पर है

अडोबी के CEO शांतनु नारायण से भी पीएम मोदी की मुलाकात हुई है। दोनों के बीच भारत में अडोबी के प्रोजेक्ट्स और फ्यूचर इनवेस्टमेंट को लेकर बात हुई। हेल्थ, एजुकेशन और रिसर्च के क्षेत्र में डिजिटल इंडिया को कैसे बढ़ाया जा सकता है। इस पर भी चर्चा हुई है।

अडोबी के बारे में आपको बताते हैं

  • ये दुनिया की मशहूर कंप्यूटर सॉफ्टवेयर कंपनी है
  • दुनिया भर में इसके करोड़ों सॉफ्टवेयर यूज़र हैं
  • अडोबी का हेडक्वॉर्टर अमेरिका के कैलिफोर्निया में है
  • भारत में अडोबी के नोएडा और बैंगलोर में सेंटर हैं
  • भारत में अडोबी 20 साल से है, 6000 कर्मचारी हैं

फर्स्ट सोलर के बारे में हम आपको बताते हैं

  • अमेरिका की ये कंपनी सोलर पैनल बनाती है
  • साथ ही Photovoltaic power station बनाती है
  • Solar photovoltaics की मदद से ही सूर्य की रोशनी को बिजली में बदला जाता है
  • PV माड्यूल पर पावर स्टेशन बनाने वाली दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है
  • इसने दुनिया के कई बड़े पीवी सोलर प्लांट का कंस्ट्रक्शन, डेवलपमेंट और फाइनेंस किया है।
  • PV माड्यूल से सोलर पावर बनाने की तकनीक अभी भारत के पास नहीं है
  • इसी साल कंपनी ने भारत में 5 हजार करोड़ के निवेश का ऐलान किया है

ब्लैकस्टोन के बारे में आपको बताते हैं

  • ये दुनिया की बड़ी निवेश कंपनी है
  • भारत में ये सबसे बड़े प्राइवेट मार्केट इंवेस्टर में एक है
  • इसे निवेश का सबसे ज़्यादा रिटर्न भारत से ही मिलता है
  • ब्लैकस्टोन का भारत के रियल एस्टेट में भी बड़ा निवेश है

जनरल एटॉमिक्स

  • ये डिफेंस और एनर्जी में सबसे बड़ी रिसर्च कंपनी है
  • ये न्यूक्लियर एनर्जी के अहम रिसर्च में शामिल रही है
  • इसने सर्विलांस एयरक्राफ्ट की तकनीक पर काम किया है
  • वायरलेस और लेजर तकनीक के रिसर्च पर इसने काम किया
  • अमेरिकी एयरफोर्स के प्रिडेटर ड्रोन इसी कंपनी ने बनाए हैं

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर