News Ki Pathshala: राफेल डील में नया खुलासा, क्या UPA राज में 65 करोड़ की रिश्वत दी गई?

News Ki Pathshala: राफेल डील में नया खुलासा हुआ है। 10 पन्नों में राफेल डील के सबसे गहरे राज छिपे हैं। अब सवाल है कि क्या नए सबूत ने खेल पलट डाला है? अब कौन चोर, कौन प्योर?

News Ki Pathshala
न्यूज की पाठशाला 

न्यूज की पाठशाला में बात हुई राफेल पर बड़े खुलासे की। एक फ्रेंच पोर्टल मीडियापार्ट ने खुलासा किया है कि राफेल डील को पूरा करने के लिए घूस दी गई, ये यूपीए के वक्त उस डील की बात है जिसे बाद में मोदी सरकार ने बदला। राफेल डील में नकली इनवॉइस बनाकर दसॉ एविशन ने 65 करोड़ की रिश्वत दी। 65 करोड़ सुशेन गुप्ता नाम के शख्स की शेल कंपनियों को दिए गए। सुशेन गुप्ता की मॉरिशस स्थित कंपनी इंटरस्टेलर टेक्नोलॉजीस को 2007 से 2012 के बीच दसॉ से 7.5 मिलियन यूरो मिले थे। मॉरिशस सरकार ने 11 अक्टूबर 2018 को इससे जुड़े दस्तावेज सीबीआई को भी सौंपे थे। सीबीआई ने ईडी से भी दस्तावेज साझा किया था। अक्टूबर 2018 से ही CBI और ED को भी इस बारे में पता था। 

दस्तावेज के मुताबिक 2001 में सुशेन गुप्ता डील से जुड़ा, उसे बिचौलिए के तौर पर हायर किया गया। इस खुलासे में कई किरदार सामने आए हैं। पहला किरदार है दसॉ एविएशन जो राफेल फाइटर जेट बनाती है। दूसरा किरदार है सुशेन गुप्ता, जिसे दसॉ ने 2001 में हायर किया था UPA से डील करने के लिए। तीसरा किरदार है इंटरस्टेलर, ये सुशेन गुप्ता की शेल कंपनी है। चौथा किरदार है इंटरडेव ये सुशेन गुप्ता की दूसरी शेल कंपनी है। इन्हीं कंपनियों के जरिए सुशेन गुप्ता पैसों की डील करता था। पांचवां किरदार है IDS कंपनी ये इंडियन कंपनी है।

IDS ने 1 जून 2001 को इंटरस्टेलर टेक्नोलॉजीस के साथ समझौता किया था, जिसमें तय हुआ कि दसॉ एविएशन और IDSके बीच जो भी कॉन्ट्रैक्ट होगा, उसकी वैल्यू का 40% कमीशन इंटरस्टेलर टेक्नोलॉजीस को दिया जाएगा। सीबीआई के हाथ लगे दस्तावेजों से पता चला था कि सुशेन गुप्ता की शेल कंपनी को इस तरह से 2002 से 2006 के बीच 7.8 करोड़ मिले थे।

दसॉ की डील से पहले भी अगस्ता वेस्टलैंड मामले में सुशेन गुप्ता गिरफ्तार हो चुका है। इस पर ये आरोप है कि जिस तरह से उसने अगस्ता वेस्टलैंड डील में पैसे लिए उसी तरह से इस डील में भी पैसे कमा रहा था। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर