News ki Pathshala: मायावती को ब्राह्मण कार्ड क्यों पसंद? BJP से ब्राह्मण वोट खींचने का 'माया'वी फॉर्मूला

News ki Pathshala: मायावती ने उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले ब्राह्मण कार्ड खेल दिया है। मायावती ने मुस्लिम पॉलिटिक्स की जगह ब्राह्मण पॉलिटिक्स चली है।

News Ki Pathshala
न्यूज की पाठशाला 

'न्यूज की पाठशाला' में बात हुई कि मायावती को मुस्लिम नहीं, ब्राह्मण कार्ड क्यों पसंद है? मायावती की ब्राह्मण पॉलिटिक्स सामने आई है। लखनऊ में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन किया गया। मंच पर मायावती ने हाथ में त्रिशूल पकड़ा। मायावती को हाथी और गणेश की मूर्तियां दी गईं। मंच पर शंखनाद के साथ मंत्रोच्चार हो रहा था। मायावती के साथ साथ सतीश मिश्रा थे। मायावती का अंदाज बदला हुआ है। मायावती कह रही हैं कि सत्ता में आने पर पार्क, स्मारक, मूर्तियां नहीं बनवाएंगी। उनका विकास पर पूरा फोकस रहेगा।

मायावती के कार्यकाल में स्मारक

  1. परिवर्तन स्थल- लखनऊ- 125 एकड़- 1363 करोड़ रुपये
  2. कांशीराम मेमोरियल- लखनऊ-70 एकड़- 630 करोड़ रुपये
  3. रमाबाई रैली स्थल- लखनऊ- 51 एकड़- 655 करोड़ रुपये
  4. बुद्ध शांति उपवन- लखनऊ- 10.8 हेक्टेअर- 460 करोड़ रुपये
  5. कांशीराम इको पार्क- लखनऊ- 70 एकड़- 1000 करोड़
  6. दलित प्रेरणा स्थल- नोएडा- 80 एकड़- 685 करोड़ रुपये
  7. अंबेडकर पार्क- बादलपुर-ग्रेटर नोएडा- 10 हेक्टेअर- 96 करोड़
  8. बुद्ध पार्क- बादलपुर- ग्रेटर नोएडा- 4 हेक्टेअर- 46 करोड़

बीएसपी का वोट और सीट

  1. 1991- 10%  -12 सीट
  2. 1993- 19%  -67 सीट
  3. 1996- 19%  -67 सीट
  4. 2002- 23%  -98 सीट
  5. 2007- 30%  -206 सीट
  6. 2012- 26%  -80 सीट
  7. 2017- 22%  -19 सीट

29% वोट से ज़्यादा मिलने पर सत्ता

  • 2017- बीजेपी- 39.67% वोट 
  • 2012- अखिलेश- 29.15% वोट
  • 2007- मायावती- 30.43% वोट

2007 विधानसभा चुनाव का उदाहरण

  • मायावती की 206 सीटें
  • पहली बार अकेले पूर्ण बहुमत से सत्ता मिली थी
  • ब्राह्मणों को अपने पाले में खींचने की कोशिश की थी
  • नारा था- हाथी नहीं गणेश है, ब्रह्मा, विष्णु, महेश है

ब्राह्मण वोट

  • 2004 तक 50% बीजेपी को
  • 2007 में 40% से कम बीजेपी को
  • 2007 में बीएसपी को ब्राह्मण वोट 17%
  • 2002 में 6%
  • 2002 के वोट से 11% की बढ़ोतरी
     

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर