News Ki Pathshala: पंजाब कांग्रेस का 'कॉमेडी सर्कस' कब तक चलेगा?

News Ki Pathshala: पंजाब कांग्रेस में मचा घमासान खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद टकराव और ज्यादा बढ़ गया है।

News ki Pathshala
न्यूज की पाठशाला 

'न्यूज की पाठशाला' में बात हुई पंजाब में मचे घमासान पर। पंजाब में कांग्रेस का 'कॉमेडी सर्कस' कब तक चलेगा? क्या कांग्रेस ने कैप्टन-सिद्धू दोनों से पिंड छुड़ा लिया? पॉलिटिक्स साइंस की क्लास में खुला पंजाब कांग्रेस का चैप्टर। क्योंकि पंजाब की पॉलिटिक्स में किसी बेव सीरीज की तरह नए-नए ट्विस्ट आ रहे हैं। अब जो ट्विस्ट आया उसने सबसे ज्यादा हैरान किया। नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया। बहुत सारे लोगों के लिए ये समझना मुश्किल है कि आखिर सिद्धू इतने नाराज क्यों हो गए कि उन्होंने अचानक पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद की कुर्सी छोड़ दी। जबकि इसी कुर्सी के लिए वो अमरिंदर सिंह से लड़े। उन्हें कुर्सी मिले 73 दिन ही हुए थे। सिद्धू को यही कुर्सी दिलाने के चक्कर में कांग्रेस ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी भाव नहीं दिया। और आखिरकार अमरिंदर सिंह ने सीएम की कुर्सी छोड़ दी थी। लेकिन अब ना अमरिंदर सिंह सीएम रहे और ना सिद्धू पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष।

सिद्धू ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेजा। अपने इस्तीफे में सिद्धू ने तीन बड़ी बाते कहीं। सिद्धू ने पहली बात कही कि समझौते करने से चरित्र में गिरावट आती है। सिद्धू ने दूसरी बात कही कि पंजाब की भलाई के एजेंडे पर वो समझौता नहीं करेंगे। सवाल ये है कि सिद्धू कौन से समझौते की बात कर रहे हैं। सिद्धू ने तीसरी बात ये कही कि वो कांग्रेस की सेवा करते रहेंगे। यानी सिद्धू ने कांग्रेस हाईकमान से बातचीत के रास्ते खुले रखे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने अभी सिद्धू का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है। कांग्रेस हाईकमान ने अभी इसे स्टेट लेवल पर सुलझाने को कहा है। सवाल ये है कि सिद्धू को अगर मनाया जाएगा तो कैसे मनाया जाएगा। सिद्धू अगर मानेंगे तो कौन सी नई शर्तें लगाएंगे। और सवाल ये भी है क्या कांग्रेस हाईकमान सिद्धू को मनाने के मूड है या नहीं। फिलहाल तो यही लग रहा है कि जैसे पंजाब कांग्रेस में कॉमेडी सर्कस चल रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि जब तक अमरिंदर सिंह सीएम रहे, सिद्धू उन्हें लगातार चैलेंज करते रहे। जब सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया तो अमरिंदर सिंह नाराज हो गए। सिद्धू से टकराव में जब अमरिंदर को कुर्सी छोड़नी पड़ी तो चन्नी को सीएम बनाया गया। चन्नी सीएम बनकर फैसले करने लगे तो सिद्धू ने इस्तीफा दे दिया। अब कांग्रेस के हाथ में अमरिंदर सिंह भी नहीं हैं। और नवजोत सिंह सिद्धू भी नहीं हैं।
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर