Singapore Variant: केजरीवाल के बयान पर भड़का सिंगापुर, बोला-'ऐसा कोई वैरिएंट नहीं', MEA ने की खिंचाई

केजरीवाल के बयान की आलोचना शिवसेना ने भी की है। शिवसेना की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि सिंगापुर भारत का पुराना सहयोगी देश है। इस देश ने कोरोना महामारी के दौरान भारत की बहुत मदद की है।

MEA and opposition distance itself form Arvind Kejriwal Singapore Variant remark
'सिंगापुर वैरिएंट' बयान पर घिरे केजरीवाल, MEA और विपक्ष दोनों ने बनाई दूरी।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के 'सिंगापुर वैरिएंट' पर बयान दिया है
  • केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि बच्चों के लिए 'सिंगापुर वैरिएंट' खतरनाक बताया जा रहा है
  • दिल्ली के सीएम ने केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी से सिंगापुर की हवाई यात्रा पर रोक लगाने के लिए कहा

नई दिल्ली : कोरोना वायरस के नए वैरिएंट को 'सिंगापुर वैरिएंट' बताकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बुरी तरह घिर गए हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री के बयान पर सिंगापुर ने भारतीय उच्चायुक्त को तलब करते हुए उनके बयान पर कड़ी आपत्ति जताई है। वहीं, सिंगापुर के रुख को देखते हुए विदेश मंत्रालय सक्रिय हुआ। विदेश मंत्रालय ने कहा कि केजरीवाल का बयान भारत का बयान नहीं है। केजरीवाल के बयान से विपक्ष ने भी दूरी बना ली है।

एमईए ने केजरीवाल के बयान को 'गैर-जिम्मेदार' बताया  
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इसे केजरीवाल का 'गैर-जिम्मेदार बयान' बताया है। जयशंकर ने कहा कि इस तरह का बयान देने से पहले यह सोचना चाहिए इससे भारत-सिंगापुर के बीच लंबे समय से चली आ रही साझेदारी को नुकसान पहुंच सकता है। विदेश मंत्री ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री का बयान भारत का बयान नहीं है।

शिवसेना ने की केजरीवाल के बयान की आलोचना
केजरीवाल के बयान की आलोचना शिवसेना ने भी की है। शिवसेना की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि सिंगापुर भारत का पुराना सहयोगी देश है। इस देश ने कोरोना महामारी के दौरान भारत की बहुत मदद की है। इस तरह के बयान से सिंगापुर के साथ हमारे द्विपक्षीय रिश्तों को नुकसान पहुंच सकता है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम चौधरी ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री के बयान 'सिंगापुर वैरिएंट' पर कड़ी आपत्ति जताने के लिए सिंगापुर ने हमारे उच्चायुक्त को तलब किया।  

उच्चायुक्त ने सिंगापुर से स्पष्ट रूप से कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री के पास कोरोना वैरिएंटस घोषित करने अथवा नागरिक उड्डयन की नीति बताने का कोई अधिकार नहीं है। इससे पहले सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालाकृष्णन ने अपने एक ट्वीट में कहा कि 'राजनेताओं को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि 'सिंगापुर वैरिएंट' नाम की कोई चीज नहीं है।'

केजरीवाल ने मंगलवार को दिया बयान
सीएम केजरीवाल ने कहा कि सिंगापुर में आया कोरोना का नया रूप बच्चों के लिए बेहद खतरनाक बताया जा रहा है, भारत में ये तीसरी लहर के रूप में आ सकता है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से मेरी अपील है:- 1. सिंगापुर के साथ हवाई सेवाएं तत्काल प्रभाव से रद्द हों,  2. बच्चों के लिए भी वैक्सीन के विकल्पों पर प्राथमिकता के आधार पर काम हो। केजरीवाल के इस ट्वीट के बाद केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि मार्च 2020 से ही अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें बंद हैं। सिंगापुर के साथ एयर बबल भी नहीं है। फिर भी हम स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर