बीजेपी पर मनीष सिसोदिया का पलटवार, दोस्तों को 'रेवड़ियां' बांटी, अब गरीबों की सुविधाएं छीनना चाहता है केंद्र

फ्री रेवड़ी को लेकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी घमासान तेज हो गया है। संबित पात्रा आज फिर हमला बोला इसके जवाब में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने एक बार फिर पलटवार किया है। बीजेपी से अर्थव्यवस्था संभल नहीं रही है। दोस्तों का टैक्स माफ कर रही है। गरीब की सुविधा छीनना चाहती है।

Manish Sisodia's counterattack on BJP, friends 'revdiyan' distributed, now the Center wants to take away the facilities of the poor
बीजेपी और आप में वार पलटवार 
मुख्य बातें
  • सिसोदिया ने कहा कि केंद्र सरकार ने अपने दोस्तों के लोन माफ किए।
  • उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार अपने नागरिकों पर निवेश कर रही है।
  • फिर भी दिल्ली सरकार फायदे में चल रही है,

रेवड़ी कल्चर के मुद्दे पर बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच शुरू हुआ सियासी घमासान और तेज हो गया है। आज संबित पात्रा के आरोपों पर दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने एक बार फिर पलटवार किया है। सिसोदिया ने दावा किया कि देश की अर्थव्यवस्था की हालत ठीक नहीं है और इसलिए अब वो देश के गरीब को मिलने वाली सुविधाएं भी बंद करना चाहते हैं। सिसोदिया ने कहा कि अर्थव्यवस्था बीजेपी से संभल नहीं रही इसलिए गरीब की जरूरत के सामान पर टैक्स बढ़ाया जा रहा है जबकि अपने दोस्तों का टैक्स केंद्र सरकार माफ कर रही है। इससे पहले बीजेपी ने सिसोदिया पर हमला करते हुए कहा कि वो अपनी गिरफ्तारी से पहले फ्री बी पर सियासत का नाटक कर रहे हैं लेकिन वो कानून के हाथ से बचेंगे नहीं।

सिसोदिया ने कहा कि 'फ्री रेवड़ी' के नाम पर गरीब का मजाक उड़ाया जा रहा है। बीजेपी ने दोस्तों को 'रेवड़ियां' बांटी। बीजेपी से अर्थव्यवस्था संभल नहीं रही है। देश की अर्थव्यवस्था खराब हालत में है। केंद्र सरकार गरीब की सुविधा छीनना चाहता है। बीजेपी जनता को फ्री शिक्षा के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि बीजेपी दोस्तों का टैक्स माफ कर रही है। सब्सिडी के बावजूद दिल्ली को फायदा है।

इससे पहले बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आम आदमी पर जमकर हमला किया साथ ही दावा किया कि दिल्ली में बिजली सबसिडी के नाम पर बिजली कंपनियों से साठगांठ की गई है। उन्होंने कहा कि सिसोदिया पर कानून की गाज गिरेगी। फ्री बी चिल्लाने से सिसोदिया नहीं बचेंगे। बिजली पर 3,200 करोड़ की सब्सिडी दी। बिजली कंपनियों से केजरीवाल की साठगांठ है।

पात्रा ने कहा कि स्कूल बनाने पर केजरीवाल के दावे झूठे हैं। 2015-2021 के बीच 16 सरकारी स्कूल बंद हुए। मोहल्ला क्लीनिक में सुविधाएं नहीं है। नौकरी देने पर केजरीवाल ने सफेद झूठ बोला है। दिल्ली में सिर्फ 849 लोगों को नौकरी मिली है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर