Shivsena Crisis: 'ज्यादा से ज्यादा क्या होगा, सत्ता जाएगी', महाराष्ट्र के सियासी संकट पर संजय राउत का बड़ा बयान 

Maharashtra political crisis news: शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि एकनाथ शिंदे हमारे पुराने साथी हैं। जल्द ही सभी विधायक मुंबई लौटेंगे। उनसे कोई मतभेद नहीं है। शिंदे से फिर बातचीत होगी। राउत ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा क्या होगा, सत्ता जाएगी लेकिन यह फिर लौटेगी। बता दें कि शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने पार्टी से बगावत कर दी है। 

Maharashtra crisis : Sanjay Raut says atmost we might lose power but we'll continue to fight
एकनाथ शिंद की बगावत शिवसेना को भारी पड़ सकती है। 
मुख्य बातें
  • एकनाथ शिंदे की बगावत के बाद उद्धव सरकार पर खतरा बढ़ गया है
  • शिंदे का दावा है कि उनके पास शिवसेना के 40 विधायकों का समर्थन है
  • संजय राउत ने कहा है कि बुधवार सुबह उनकी शिंदे से बातचीत हुई

Maharashtra political crisis: महाराष्ट्र में पैदा हुए राजनीतिक संकट पर शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने बुधवार को बड़ा बयान दिया। मीडिया से बातचीत में राउत ने कहा कि आज सुबह उनकी बात एकनाथ शिंदे से हुई। उनसे दोबारा बातचीत होगी। राउत ने कहा कि एकनाथ शिंदे हमारे पुराने साथी हैं। जल्द ही सभी विधायक मुंबई लौटेंगे। उनसे कोई मतभेद नहीं है। शिंदे से फिर बातचीत होगी। राउत ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा क्या होगा, सत्ता जाएगी लेकिन यह फिर लौटेगी। बता दें कि शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने पार्टी से बगावत कर दी है। 

गुवाहाटी में हैं शिंदे और शिवसेना विधायक
शिंदे का दावा है कि उनके साथ शिवसेना के 40 विधायक हैं। महाराष्ट्र की राजनीति में उथल-पुथल का यह दौर मंगलवार को उस समय शुरू हुआ जब शिवसेना के विधायक शिंदे की अगुवाई में सूरत पहुंच गए। सूरत से ये सभी विधायक बुधवार सुबह गुवाहाटी पहुंचे। शिंदे और शिवसेना एवं निर्दलीय विधायक होटल में मौजूद हैं। विधायकों के बागी तेवर अपनाने के बाद उद्धव सरकार पर खतरा मंडरा रहा है। महाराष्ट्र भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल की मानें तो उद्धव सरकार तकनीकी रूप से अल्पमत में आ गई है। इस बीच, भाजपा ने बड़ा दावा किया है। भगवा पार्टी का कहना है कि सीएम उद्धव ठाकरे से कांग्रेस एवं एनसीपी के विधायक भी नाराज हैं। वोटिंग हुई तो ये विधायक उनके खिलाफ वोट करेंगे।      

कोला लौटेंगे नितिन देशमुख
एकनाथ शिंदे के साथ गए हुए विधायक नितिन देशमुख विशेष विमान से अकोला लौटेंगे। उनके दोपहर तक अकोला पहुंचने की उम्मीद है। मंगलवार को तबीयत बिगड़ने की वजह से उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया था। फिलहाल नितिन देशमुख एयरपोर्ट पर मौजूद हैं। नितिन पत्नी और कार्यकर्ता से मिलकर वापस लौटेंगे। देशमुख का दावा है कि वह एकनाथ शिंदे के साथ हैं। 

बेचैन आत्माएं एकनाथ शिंदे की गर्दन पर बैठकर ‘ऑपरेशन कमल’ कर रही हैं, 'सामना' में बीजेपी पर निशाना

सरकार गिराना भाजपा की पुरानी आदत
मुंबई पहुंचे कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा है कि कांग्रेस के विधायक बिकाऊ नहीं हैं। सरकार गिराना भाजपा की पुरानी आदत है। मध्य प्रदेश में उसने यही काम किया। सरकार गिराने का उसका रवैया गैर-संवैधानिक है। महाराष्ट्र संकट पर नजर रखने के लिए कांग्रेस ने कमलनाथ को पर्यवेक्षक बनाकर मुंबई भेजा है। कमलनाथ की आज सीएम उद्धव ठाकरे एवं राकांपा प्रमुख शरद पवार से मुलाकात होनी है। 


 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर