Logtantra: बेंगलुरु में जानलेवा गड्ढे, मौत के लिए जिम्मेदारों पर कार्रवाई कब?

Logtantra: बेंगलुरु में सड़क पर गड्ढे से एक और मौत हो गई है। गड्ढे के चलते दोपहिया वाहन गिरा, जिससे हादसे में दिव्‍यांग बुजुर्ग की मौत हो गई। आखिर कब भरे जाएंगे ये जानलेवा गड्ढे?

logtantra
लोगतंत्र 

'लोगतंत्र' में बात हुई देशभर में सड़क पर बने गड्ढों के चलते होने वाले हादसों की। इन गड्ढों से हर साल 2 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो जाती है। बेंगलुरु में हर साल ऐसी घटनाओं के बावजूद गड्ढों की वजह से होने वाली मौतें थम नहीं रही हैं। हाल ही में एक मेडिकल स्‍टूडेंट की मौत इस वजह से हो गई है और अब एक बुजुर्ग की जान इन्‍हीं गड्ढों की वजह से चली गई है।  हादसों के बात हमेशा की तरह जल्‍द ही गड्ढे भरने के बयान आते हैं लेकिन न तो बेंगलुरु गड्डों से मुक्‍त हो रहा है ना ही हादसे रुक रहे हैं। सड़कों पर गड्ढे के लिए बदनाम बेंगलुरू के इन गड्ढों ने एक और जान ले ली है। इस बार मंगला हल्‍ली इलाके में सड़क को किसी काम के लिए खोदा गया लेकिन समतल नहीं किया गया, यहीं से गुजर रहे बुजुर्ग खुर्शीद गड्ढे की वजह से हादसे का शिकार हुए, उनकी मौत हो गई। हादसे के बाद की तस्‍वीरों को देखकर लगता है जैसे गिरने के बाद उनके सिर के ऊपर से कोई गाड़ी गुजरी हो, क्‍यों कि सिर से बहुत ज्‍यादा खून बहता दिखा। 

खुर्शीद हैंडीकैप्‍ड थे और उनकी दोपहिया गाड़ी में अलग से पहिए लगे थे फि‍र भी गड्ढे ने उनका बैलेंस बिगाड़ दिया। उनको जानने वाले बेहद गुस्‍से में हैं, कहते हैं कि शहर की महानगर पालिका टैक्‍स देने में एक दिन की देरी होने पर पेनाल्‍टी लगा देती है लेकिन गड्ढे नहीं भरती। गड्ढों की वजह से मौतों को लेकर bbmp पर लंबे समय से सवाल उठाया जाता रहा है। हादसे के बाद गड्ढे भले ही भर दिए जाएं, परिवार को हुए नुकसान की भरपाई नहीं की जा सकती। 

बेंगलुरु में गड्ढे के चलते हुई एक और मौत के बाद सरकार फि‍र हरकत में आती दिखना चाहती है। मुख्‍यमंत्री ने कहा है कि जल्‍द ही सारे गड्ढे भरे जाएंगे। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्‍मई ने कहा कि मैंने BBMP कॉर्पोरेशन कमिश्‍नर को निर्देश दिए हैं कि बारिश कम होते ही सभी गड्ढे भरे जाएं। आने वाले दिनों में ये काम युद्धस्‍तर पर किया जाएगा। 

गड्ढों की तरफ bbmp का ध्‍यान खींचने के लिए कई तरह के तरीके भी अपनाए जा चुके हैं। 2 साल पहले भी एक कलाकार बादल नानजुंदास्‍वामी ने बेंगलुरु की सड़कों पर मून वॉक किया था ताकि महानगर पालिका को नींद से जगा सके। उन्‍होंने सड़क के गड्ढों को चांद के क्रेटर की तरह दिखाया था, लेकिन दो साल बाद भी बेंगलुरु की सड़कों पर जानलेवा गड्ढे मौजूद हैं, सवाल है कि जिम्‍मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई कब होगी? कब तक गड्ढों के चलते लोगों की जान जाती रहेगी।

बेंगलुरु में जानलेवा गड्ढे 

  • 25 सड़कों पर 5,435 गड्ढे 
  • गड्ढों से पिछले 10 दिन में 4 की मौत 
  • 30 सितंबर तक सारे गड्ढे भरने वाली थी BBMP

देश में सड़क पर गड्ढों से हादसे 

  • हर साल 10 हजार हादसे 
  • हर साल 2800 लोगों की मौत 
  • 2016 में 2324 लोगों की मौत 
  • 2013-2016 के बीच 11,386 की मौत

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर