Mahant Narendra Giri Updates: महंत नरेंद्र गिरी मौत की जांच के लिए एसआईटी का गठन !

Mahant Narendra Giri Death News: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी मौत की जांच जैसे जैसे आगे बढ़ रही है, सनसनीखेज जानकारियां सामने आ रही हैं।

narendra giri death news, akhil bhartiya akhada parishad, yogi adityanath
Narendra Giri Updates: नरेंद्र गिरी मौत की गुत्थी कब सुलझेगी ? 

मुख्य बातें

  • महंत नरेंद्र गिरी केस में जो लोग होंगे दोषी कड़ी कार्रवाई की जाएगी
  • सीएम योगी आदित्यनाथ ने नरेंद्र गिरी के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन किए
  • सुसाइड नोट में एक शिष्य को निधन के लिए बताया गया है जिम्मेदार पुलिस कर रही है जांच

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष रहे महंत नरेंद्र गिरी की जांच एसआईटी करेगी। सूत्रों के मुताबिक एसआईटी गठन का निर्णय लिया जा चुका है। इस केस में एक बिल्डर का भी नाम सामने आ रहा है जिसकी भूमिका की जांच होगी। इससे पहले सपा सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री का नाम भी सामने आया है जो आनंद गिरी के साथ मिलने के लिए बाघंबरी गद्दी जाया करता था। बता दें कि आनंद गिरी को हरिद्वार से हिरासत में लिया गया है और उसे इलाहाबाद लाया जा रहा है। बता दें कि आनंद गिरी ने हाथ से लिखे सुसाइड नोट पर सवाल उठाते हुए कहा कि है कि नरेंद्र गिरी को लिखने नहीं आता था। दरअसल सुसाइ़ड नोट में कुछ शिष्यों के नाम हैं जिसमें आनंग गिरी का नाम भी शामिल है। 

हाईकोर्ट के सिटिंग जज करें जांच, अखिलेश यादव की मांग
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नरेंद्र गिरी केस की जांच हाईकोर्ट के सिटिंग जज से कराए जाने की मांग की है, उन्होंने कहा कि देश सच्चाई जानना चाहता है कि आखिर महंत नरेंद्र गिरी की मौत के पीछे की असली वजह क्या है

सीएम, डिप्टी सीएम ने किए अंतिम दर्शन
इससे पहले महंत नरेंद्र गिरी के पार्थिव शरीर का सीएम योगी आदित्यनाथ ने अंतिम दर्शन किए हैं। उन्होंने कहा कि महंत जी का असमय जाना संत समाज के लिए अपूर्णीय क्षति है। संत समाज की मांग पर इस केस की उच्च स्तरीय जांच कराई जा रही है जांच की प्रक्रिया में कमिश्नर प्रयागराज, एडीजी और दूसरे वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं। यूपी पुलिस का कहना है कि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है। 

सीएम योगी आदित्यनाथ की खास बातें

  1. पांच बड़े अफसर जांच में जुटे हैं
  2. जो लोग दोषी होंगे उन्हें कड़ी सजा दी जाएगी
  3. बेवजह की बयानबाजी से बचने की जरूरत है
  4. एक एक घटना का राजफाश किया जाएगा
  5. बुधवार को डॉक्टरों की टीम करेगी पोस्टमार्टम

सीबीआई जांच की अर्जी दायर
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद  के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध  मौत का मामलाइलाहाबाद हाईकोर्ट में मामले की CBI जांच की मांग को लेकर याचिका दाखिल वकील सुनील चौधरी ने HC में लेटर पेटिशन दाखिल की अर्ज़ी में प्रयागराज के DM और SSP को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की।

नरेंद्र गिरी केस में स्वामी रामदेव का बयान

जूना अखाड़े के महंत नारायण गिरी का खास बयान
श्री महंत नारायण गिरी प्रवक्ता जूना अखाड़ा ने कहा कि बेहद दुख है कि इस तरह की घटना हुई है !  हम सभी प्रयागराज जा रहे है । हम इस पूरे मामले की जांच चाहते है।बताया जा रहा है कि महंत नरेन्द्र गिरी ने सुसाइड से पहले एक वीडियो भी बनाया थालगभग 4 मिनट का वीडियो थामहंत नरेन्द्र गिरी का मोबाईल फ़ोन पुलिस ने ज़ब्त कियामोबाइल फ़ोन को फ़ॉरेंसिंक टीम के दिया गया। मुझे विश्वास नहीं हो रहा है की नरेंद्र गिरी जी महाराज हमारे बीच नहीं रहे है।  मेरे बहुत अच्छे मित्र थे मेरे पैर तले ज़मीन निकल गई है? मुझे इसमें साजिश की बू आ रही है और मुझे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पर पूरा भरोसा है कि इसकी उचित जांच होगी। 

नरेंद्र गिरी केस में तीन हिरासत में 
बता दें कि नरेंद्र गिरी निधन मामले में अब तक तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। उनके शिष्य आनंग गिरी के खिलाफ भी एफआईआर है। आनंद गिरी ने आरोप लगाते हुए कहा था कि महंत जी के निधन के पीछे बड़ी साजिश है। बता दें कि जैसे ही यह मामला संज्ञान में आया यूपी पुलिस ने उत्तराखंड पुलिस को अलर्ट किया। इस समय आनंद गिरी उत्तराखंड में हैं। 

नरेंद्र गिरी डेथ न्यूज अपडेट

  1. प्रयागराज के जॉर्ज टाउन थाने में एफआईआर
  2. नरेंद्र गिरी के संदिग्ध मौत पर आनंद गिरी पर एफआईआर
  3. आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप
  4. आईपीसी की धारा 306 के तहत केस दर्ज
  5. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी जाएंगे प्रयागराज
  6. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी जाएंगे प्रयागराज

क्या संपत्ति विवाद है बड़ी वजह
करीब 7 पेज का  हाथ से लिखा सूसाइड नोट बरामद किया गया है, उस पत्र में कई शिष्यों पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। उस पत्र मेंप्रमुख शिष्य आनंद गिरी का नाम है। मठ की संपत्ति को लेकर विवाद और आरोपों को कारण बताया गया है। बताया जा रहा है कि शिष्य, नरेंद्र गिरी पर दबाव बनाने के साथ उनकी छवि को धूमिल करने की कोशिश कर रहे थे जिससे वो दुखी थे। सुसाइड नोट पुलिस के कब्जे में है। यूपी के एडीजी ने बताया कि शिष्य आनंद गिरि को हिरासत में ले लिया गया है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर