कन्हैयालाल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलाासा, शरीर पर हुए 26 वार, ज्यादा खून बहने से हुई मौत  

Kanhaiyalal postmartem report: रिपोर्ट के मुताबिक कन्हैयालाल की मौत अत्यधिक खून बहने से हुई। रिपोर्ट में इस बात का जिक्र है कि शरीर पर हुए अन्य वार उतने गहरे नहीं हैं जितने कि गर्दन के वार। जाहिर है कि हत्यारों का पूरा इरादा कन्हैयालाल के धड़ को गर्दन से पूरी तरह अलग करने का था

Kanhaiyalal postmartem report reveals death due to excessive bleeding
मंगलवार को उदयपुर में हुई कन्हैयालाल की नृशंस हत्या। 
मुख्य बातें
  • उदयपुर में मंगलवार को कन्हैयालाल की हुई नृशंस हत्या
  • पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा- कन्हैयालाल के शरीर पर 26 वार
  • रिपोर्ट में कहा गया कि अत्यधिक रक्त बहने से हुई कन्हैयालाल की मौत

Kanhaiyalal postmartem report : कन्हैयालाल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है। इस रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। हत्यारों की विकृत एवं नफरत वाली मानसिकता का पता इस बात से चलता है कि उन्होंने धारदार हथियार से कन्हैयालाल के शरीर पर एक दो नहीं बल्कि 26 वार किए। इनमें से आठ से 10 वार केवल गर्दन पर हुए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक कन्हैयालाल की मौत अत्यधिक खून बहने से हुई। रिपोर्ट में इस बात का जिक्र है कि शरीर पर हुए अन्य वार उतने गहरे नहीं हैं जितने कि गर्दन के वार। जाहिर है कि हत्यारों का पूरा इरादा कन्हैयालाल के धड़ को गर्दन से पूरी तरह अलग करने का था लेकिन इतने वार के बावजूद गर्दन का एक हिस्सा शरीर से अलग नहीं हुआ। हत्यारे पूरा साजिश बनाकर आए थे। वे तय कर के आए थे कि कन्हैयालाल जिंदा नहीं बचना चाहिए। रेकी करने के बाद दोनों हत्यारे दुकान पर पहुंचे थे।  

पुलिस ने कार्रवाई की होती तो नहीं होती हत्या-परिवार
कन्हैयालाल के परिवार के एक सदस्य ने कहा कि पुलिस ने समझाने की जगह यदि कार्रवाई की होती तो यह हत्या नहीं होती। पूरा परिवार दशहत में है। यह अकेले दो-चार लोगों के वश की बात नहीं है। इस हत्याकांड में कई लोग शामिल हैं। इसमें जिन लोगों की मिलीभगत है उनके खिलाफ भी कार्रवाई और दोनों हत्यारों को फांसी होनी चाहिए। साजिश रचकर कन्हैयालाल की हत्या की गई है। उदयपुर में जिस जगह पर कन्हैयालाल की दुकान है, वहां अभी सन्नाटा पसरा हुआ है, दुकानें बंद हैं और लोग दशहत में हैं। दुकान के पास एक व्यक्ति ने बताया कि कन्हैयालाल सज्जन आदमी थे। वह अपने काम से काम रखते थे। धमकी मिलने के बाद छह दिन तक उन्होंने अपनी दुकान बंद रखी और सांतवें दिन जब दुकान खोली तो उनकी हत्या हो गई।  

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर