J&K के 3 पूर्व सीएम फारूक, महबूबा, उमर की सुरक्षा में कटौती, कम होंगे SSG के जवान

Jammu Kashmir News : प्रशासन के इस निर्णय को राज्य में वीवीआईपी कल्चर खत्म करने की दिशा में एक कदम के रूप में देखा जा रहा है। ये पूर्व मुख्यमंत्री जहां भी जाते हैं इनके साथ सुरक्षा का एक बड़ा काफिला चालता है। लेकिन अब इनके सुरक्षा खतरों का आंकलन करने के बाद जवानों की संख्या में कटौती की जा रही है।

Jammu Kashmir : security curtailed of Omar Abdulla Mehbooba Mufti and Farooq abdullah
सुरक्षा खतरे के आंकलन के बाद हुआ फैसला।  |  तस्वीर साभार: PTI

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने राज्य में वीवीआईपी कल्चर खत्म करने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्रियों को सुरक्षा देने वाली समिति ने पूर्व मुख्यमंत्रियों फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती की सुरक्षा में कटौती करने का फैसला किया है। इन तीनों पूर्व मुख्यमंत्रियों की सुरक्षा में तैनात स्पेशल सर्विस ग्रुप (एसएसजी) जवानों की संख्या में कटौती होगी। राज्य में वीआईपी की सुरक्षा देखने वाली समिति की दिसंबर के आखिरी सप्ताह में बैठक हुई थी जिसमें इनकी सुरक्षा में कटौती करने का फैसला हुआ। पहले इन वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा डीआईजी, एसएसपी रैंक का अधिकारी देखता था लेकिन अब इनकी सुरक्षा डीएसपी रैंक का अधिकारी देखेगा। 

सुरक्षा खतरे के आंकलन के बाद कटौती

प्रशासन के इस निर्णय को राज्य में वीवीआईपी कल्चर खत्म करने की दिशा में एक कदम के रूप में देखा जा रहा है। ये पूर्व मुख्यमंत्री जहां भी जाते हैं इनके साथ सुरक्षा का एक बड़ा काफिला चालता है। लेकिन अब इनके सुरक्षा खतरों का आंकलन करने के बाद जवानों की संख्या में कटौती की जा रही है। अब इनके काफिले में चले वाली गाड़ियां भी कम हो जाएंगी। सरकार ने पहले इन लोगों मिलने वाली गैर-जरूरी सुविधाओं को खत्म किया और फिर गैर-जरूरी सुरक्षा हटाई गई है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर