हर्षवर्धन ने बताया- लॉकडाउन से रोके इतने लाख कोरोना केस, हो सकती थीं इतनी हजार मौतें

देश
लव रघुवंशी
Updated Sep 14, 2020 | 14:51 IST

Lockdown in India: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने लोकसभा में बयान देते हुए कहा कि लॉकडाउन लगाने से देशभर में कोरोना के 29 लाख तक मामले और 78000 तक मौतों को रोका गया।

Harsh Vardhan
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन 

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी के कारण तमाम पाबंदियों के बीच संसद का मानसून सत्र आज से शुरू हो गया है। लोकसभा में देश में कोरोना के हालात पर बोलते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि देशव्यापी तालाबंदी से (Lockdown) देश में 29 लाख कोरोना वायरस मामलों और 78,000 मौतों को रोकने में मदद मिली। हर्षवर्धन ने कहा, 'पूरे देशभर में लॉकडाउन लगाना सरकार का साहसिक निर्णय था। यह अनुमान लगाया गया है कि इस फैसले से 14 से 29 लाख कोरोना के मामले और 37,000 से 78,000 मौतों को रोका गया।'

इसके अलावा स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, यूपी, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, बिहार, तेलंगाना, ओडिशा, असम, केरल और गुजरात से अधिकतम कोरोना के मामले और मौतें दर्ज हुई हैं। इन सभी में 1 लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं। उन्होंने कहा कि अपनी कोशिशों से भारत प्रति 10 लाख की आबादी पर कोरोना संक्रमण के मामले 3,328 और मौतें 55 तक सीमित रखने में सक्षम रहा है। कोरोना वायरस से संक्रमित दुनिया के अन्‍य देशों के मुकाबले यहां मृत्‍यु दर सबसे कम है।

भारत में आज कोविड-19 के 92,071 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद संक्रमितों की कुल संख्या 48 लाख के पार पहुंच गई है। मृतक संख्या 79,722 तक पहुंच गई है। देश में अभी 9,86,595 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि अब तक इस महामारी से 37,80,107 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर