Kanwar Yatra 2022 : हरिद्वार से लौटे कावड़िए ने खोले बड़े राज! ग्राउंड रिपोर्ट

देश
Updated Jul 25, 2022 | 13:10 IST

सावन में कावड़ यात्रा का विशेष महत्व होता है। शिवभक्त भगवान शिव के लिए इस पावन महीने में कावड़ में गंगा जल लेकर आते हैं और भगवान शिव का अभिषेक करते हैं। टाइम्स नाउ नवभारत की टीम ने कावड़ियों से खास बातचीत की और जाना की कैसी रही उन इस बार की यात्रा। देखें हमारी खास रिपोर्ट

मुख्य बातें
  • शिवभक्तों से खास बातचीत
  • मेरठ में क्यों आ रही है कावड़ियों को परेशानी?
  • हर जिले में मिली अच्छी व्यवस्था

नई दिल्ली:  हरिद्वार से गंगा जल लकेर आ रहे कावड़ियों से हमने पूछा की आप लोग 4 से 5 जिलों से होकर अपने-अपने घरों तक पहुंचते हो ऐसे में किस जिले में आप लोगों को सबसे अच्छी व्यवस्था मिली? इस सावल पर कावड़ियों ने अपनी अलग-अलग प्रतिक्रिया दी। लेकिन सबसे ज्यादा लोगों ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नाम लेकर कहा कि इस बार सबसे अच्छी व्यवस्था यूपी में रही। हमारे लिए सरकार की ओर से हेल्थ कैंप लगाए गए थे। जहां हम अपनी परेशानी बताकर उसका उपचार करा पा रहे थे। कुछ कावड़ियों  ने तो यहां तक कह दिया। हर राज्यों को योगी जैसा सीएम मिलना चाहिए।

हम कावड़ियों से बात कर ही रहे थे। उसी बीच हमें 18 साल का एक कावड़िया मिला। उनका कहना था कि जब वो मरेठ से दिल्ली की ओर बढ़ रहे थे तो कुछ लोग शराब पीकर हमसे टकराने की कोशिश कर रहे थे। युवा कावड़िए ने कहा हमारे धर्म में जल उठाने के बाद कावड़ को कोई और नहीं छू सकता। यदि कोई ऐसा करता है तो हमारी कावड़ अशुद्ध हो जाती है। इसलिए इस बात की जानकारी युवा कावड़िए ने वहां मौजूद पुलिस को दी। पुलिस ने ऐसा करने वाले को डांट कर भगा दिया।

'सर तन से जुदा' पर बोले कावड़िए
कावड़ियों ने कहा हमारे धर्म में सभी को साथ लेकर चलने की परंपरा है। लेकिन फिर भी लोग हमें उकसाने का काम करते हैं। ये जो देश में हो रहा है वो बिल्कुल सही नहीं हैं और ऐसा होना भी नहीं चाहिए। सरकार ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन ले। तकि कोई भी शख्स ऐसा दोबारा करने की कोशिश भी ना कर सके। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर