Sand Mining Case: रिश्तेदार के यहां ED की रेड पर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी का बयान, टारगेट किया जा रहा है।

पंजाब में प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से बड़ी कार्रवाई की गई। रेत के अवैध खनन केस में पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के रिश्तेदार के यहां छापेमारी की गई।

,Punjab Assembly Elections 2020, CM Charanjit Singh Channi, Illegal Mining Case, Congress, BJP, Enforcement Directorate
पंजाब सीएम के रिश्तेदार के यहां प्रवर्तन निदेशालय की छापेमारी, रेत के अवैध खनन का मामला 

पंजाब में चुनाव से पहले सीएम चरणजीत सिंह विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं। रेत के अवैध खनन के मामले में प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से उनके रिश्तेदार के यहां छापेमारी की गई है। बता दें कि कुछ महीनों पहले आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उनकी सरपरस्ती में रेत के अवैध खनन का आरोप लगाया था। चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि उन्हें निशाना बनाया जा रहा है। जबकि बात की जा रही है उस समय वो सीएम नहीं थे। 

मंगलवार को हुई छापेमारी

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने विधानसभा चुनाव से कुछ हफ्ते पहले मंगलवार सुबह पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के भतीजे भूपिंदर सिंह हनी के दस अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी की। मामला पंजाब में अवैध बालू खनन से संबंधित लांड्रिंग से जुड़ा हुआ है।ईडी की टीम ने मंगलवार तड़के हनी के होमलैंड हाइट्स स्थित आवास पर सबसे पहले छापेमारी की। किसी को भी घर से निकलने की इजाजत नहीं थी। ईडी विभिन्न दस्तावेजों और कंप्यूटरों की जांच कर रहा है।

अवैध बालू खनन मामले में पंजाब भर में दस जगहों पर ईडी की छापेमारी चल रही है।पंजाब में राजनीतिक दलों ने पहले भी कई बार मुख्यमंत्री पर अपने ही निर्वाचन क्षेत्र में अवैध खनन का आरोप लगाया था। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने चल रहे अवैध रेत खनन रैकेट को लेकर कई बार ट्वीट किया था। उन्होंने ट्वीट किया था कि पंजाब के सीएम चन्नी इसे रोकने के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं।

स्थानीय पुलिस पहले से ही मामले की जांच कर रही थी और स्थानीय पुलिस जांच के आधार पर ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग की जांच शुरू की।अभी तक, ईडी ने चल रहे छापे के संबंध में कोई बयान नहीं दिया है। सूत्रों ने बताया कि एक बार छापेमारी खत्म होने के बाद ही जांच एजेंसी कोई बयान जारी करेगी।छापेमारी के दौरान ईडी ने उन लोगों के बयान दर्ज किए जो मुख्यमंत्री के भतीजे हनी के घर पर मौजूद थे।बड़ी संख्या में लोग घर के बाहर जमा हो गए थे और किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए स्थानीय पुलिस को बुलाया गया था।मामले में आगे की जांच की जा रही है।

केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप
कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों ने बार-बार भाजपा के नेतृत्व वाले केंद्र पर ईडी, और सीबीआई जैसी केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करने और अपने विरोधियों की आवाज को दबाने और दबाने का आरोप लगाया है।पिछले महीने पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आरोप लगाया था कि राज्य के सभी कांग्रेस विधायक रेत के अवैध व्यापार में लिप्त हैं।

अमरिंदर सिंह ने भी लगाए थे आरोप
अमरिंदर सिंह, जिन्होंने पिछले साल सितंबर में राज्य के सीएम के रूप में पद छोड़ने के बाद कांग्रेस पार्टी छोड़ दी थी, ने कहा था कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को व्यापार में शामिल विधायकों के बारे में सूचित किया था।हालांकि, उन्होंने विधायकों के नामों का खुलासा करने से इनकार कर दिया और कहा, “मुझसे पूछो कि कौन शामिल नहीं है। अगर मैं नाम बताना शुरू कर दूं तो मुझे ऊपर से शुरुआत करनी होगी।"

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर