Sawal Public Ka : कांग्रेस ने शिंजो आबे के हत्यारे को अग्निवीर से जोड़ा, क्या कांग्रेस अग्निवीर जवानों को भड़का रही? 

मोदी विरोध के चक्कर में कुछ भी करने और कुछ भी बोलने के लिए तैयार रहने वाली कांग्रेस ने आज अंतरराष्ट्रीय बेइज्जती करवा ली। आज सवाल पब्लिक का है में, हम इसी पर चर्चा करेंगे कि मोदी विरोध के नाम पर देश का विरोध क्यों?

Congress linked Shinzo Abe's killer with Agniveer, is instigating  Agniveer soldiers?
अग्निवीरों को 'हत्यारा' साबित करने की साजिश ?  

आज पूरी दुनिया उस समय स्तब्ध रह गई जब जापान में पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की पब्लिक रैली के दौरान गोली मार दी गई। सवाल कई हैं। जिनके जवाब मिलने बाकी हैं। चिंता हिंदुस्तान में भी जबर्दस्त है क्योंकि भारत के पद्म विभूषण से शिंजो आबे सम्मानित है और उनसे एक जुड़ाव भारतीय भी महसूस करते हैं। गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में वो शामिल हुए। गंगा घाट पर पीएम मोदी के साथ आरती करते हुए आपने उन्हें देखा.. और जब पहली बार वो भारत आए थे तो उन्होंने अपने दौरे को 'दो महासागरों का संगम' कहा था। 

शिंजो आवे की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बेहतरीन केमिस्ट्री रही। एक वक्त था कि मोदी और आबे की दोस्ती ने वर्ल्ड Diplomacy में सुर्खियां बटोरी थीं। आबे और मोदी के नेतृत्व में दोनों देशों के बीच रिश्तों ने ऐतिहासिक मुकाम हासिल किया है यानी पीएम मोदी और शिंजो आबे की जोड़ी खास थी। आज एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने अपने दोस्त को याद किया। 

मोदी विरोध के चक्कर में कुछ भी करने और कुछ भी बोलने के लिए तैयार रहने वाली कांग्रेस ने आज अंतरराष्ट्रीय बेइज्जती करवा ली। आज सवाल पब्लिक का है में, हम इसी पर चर्चा करेंगे कि मोदी विरोध के नाम पर देश का विरोध क्यों ? भारत ने आज अपने एक सच्चे दोस्त को खो दिया है...शिंजो आबे की मौत पर राष्ट्रीय शोक घोषित किया गया। इस दुख की घड़ी में भी कांग्रेस राजनीति कर रही है। कांग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत का ट्वीट देखिए। जिसमें लिखा गया है।

शिंजो आबे को गोली मारने वाला यामागामी जापान की SDF यानी बिना पेंशन वाली सेना में काम कर चुका था। सुरेंद्र राजपूत ने ये ट्वीट दोपहर करीब 12 बजकर 18 मिनट पर किया और कुछ देर में ही इसे डिलीट भी कर दिया। आप सोच रहे होंगे कि आखिरी क्या वजह थी कि सुरेंद्र राजपूत ने ट्वीट डिलीट करने में ही भलाई समझी। अब सवाल उठता है कि उनका ट्वीट कहना क्या चाहता था।

शिंजो आबे को गोली मारने वाला यामागामी जापान की SDF यानी बिना पेंशन वाली सेना में काम कर चुका था। यानी वो तंज के साथ ये संदेश दे रहे हैं। भारत में अग्निवीर जो पेंशन के बिना रिटायर होंगे वो भी जापान में हुई घटना की तरह ही कुछ कर सकते हैं। 

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की हत्या करने वाले हमलावर का नाम Yamagami Tetsuya है। Yamagami  जापान की समुद्री आत्मरक्षा बल में तैनात था। साल 2005 तक करीब तीन साल वो इस दल का सदस्य रहा और फिर सेवा से बाहर हो गया। पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में Yamagami Tetsuya ने बताया है कि वो पूर्व पीएम की रक्षा नीति को लेकर नाराज था और उनकी हत्या करना चाहता था 

जब आप इस तथ्य को कांग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत के बयान के साथ जोड़ेंगे तो पूरी बात साफ हो जाएगी। सुरेंद्र राजपूत धमकी दे रहे थे या आने वाले खतरे की चेतावनी, ये तो नहीं पता लेकिन उनके ट्वीट से ये जाहिर था कि वो इशारा कर रहे हैं अग्निवीर रिटायरमेंट के बाद ऐसी ही हरकत कर सकते हैं। कांग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत के इस बयान के बाद कोई बड़ा नेता सामने नहीं आया। ना ही पार्टी ने उनके बयान से किनारा किया लेकिन बीजेपी ने इशारों में पीएम मोदी पर किए गए इस हमले को हल्के में नहीं लिया और कांग्रेस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

तो आज सवाल पब्लिक का है कि क्या 

कांग्रेस ने शिंजो के हत्यारे को अग्निवीर से जोड़ा ?
अग्निवीरों को 'हत्यारा' साबित करने की साजिश ? 
क्या कांग्रेस अग्निवीर जवानों को भड़का रही? 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर