Covaxin की मंजूरी पर कांग्रेस नेता थरूर और रमेश ने उठाए सवाल, स्वास्थ्य मंत्री से मांगा स्पष्टीकरण

देश
किशोर जोशी
Updated Jan 03, 2021 | 13:08 IST

भारत में कोविड-19 रोधी दो टीकों के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दी जा चुकी है। भारत बायोटेक के ‘कोवैक्सीन’ के आपात इस्तेमाल पर कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं।

Congress MP Shashi Tharoor claims that Bharat Biotech's Covaxin has not gone through phase 3 trials
Covaxin की मंजूरी पर कांग्रेस का सवाल, सरकार से मांगा जवाब 

मुख्य बातें

  • कांग्रेस नेताओं ने स्वदेशी कोवैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी पर उठाए सवाल
  • जयराम रमेश और शशि थरूर ने केंद्रीय स्वास्थयमंत्री डॉ. हर्षवर्धन से मांगा जवाब
  • तीसरे चरण के परीक्षण नहीं होने के बावजूद भी कोवैक्सीन को मंजूरी कैसे: कांग्रेस

नई दिल्ली: सरकार ने ने स्वदेशी रूप से विकसित कोविड-19 रोधी टीके ‘कोवैक्सीन’ के कुछ शर्तों के साथ आपात इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी है। भारत के औषध महानियंत्रक (डीसीजीआई) द्वारा ऑक्सफोर्ड के टीके ‘कोविशील्ड’ और भारत बायोटेक के ‘कोवैक्सीन’ के सीमित आपात इस्तेमाल को मंजूरी दिए जाने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी ट्वीट किया है। थरूर ने कोवैक्सीन के आपात इस्तेमाल को लेकर सवाल उठाते हुए स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से जवाब मांगा है।

थरूर का ट्वीट
शशि थरूर ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'कोवैक्सीन का अभी तक तीसरे चरण का परीक्षण नहीं हुआ है। स्वीकृति समय से पहले मिली है और खतरनाक हो सकती है। डॉ. हर्षवर्धन को स्पष्ट करना चाहिए। पूर्ण परीक्षण समाप्त होने तक इसके उपयोग से बचा जाना चाहिए था। इस दौरान भारत  एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के साथ अभियान शुरू कर सकता है।'

जयराम रमेश ने किया ट्वीट

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने भी इसी तरह का सवाल उठाते हुए कहा, 'भारत बायोटेक प्रथम श्रेणी का उद्यम है, लेकिन यह हैरान करने वाली बात यह है कि चरण 3 परीक्षणों से संबंधित अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकृत प्रोटोकॉल कोवाक्सिन के लिए संशोधित किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को इसे बारे में स्पष्टीकरण देना चाहिए।'

आपको बता दें कि भारत के औषध महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके ‘कोविशील्ड’ और भारत बायोटेक के स्वदेश में विकसित टीके ‘कोवैक्सीन’ के देश में सीमित आपात इस्तेमाल को रविवार को मंजूरी दे दी जिससे व्यापक टीकाकरण अभियान का रास्ता साफ हो गया है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर