कश्मीर धर्मांतरण केस: सिरसा बोले- 'बात जब सिख लड़कियों की आती है तो मौलवी आवाज नहीं उठाते'

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने सोमवार को कहा कि पिछले एक महीने में कश्मीर में चार लड़कियों का जबरन धर्म परिवर्तन कर दिया गया है।

 Akali Dal leader sirsa speaks on alleged forced conversion of Sikh girls in Kashmir
कश्मीर में सिख समुदाय की लड़कियों के धर्मपरिवर्तन का मामला।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • सरिसा ने जम्मू कश्मीर में धर्मांतरण के खिलाफ कानून लाने की मांग की
  • शिअद नेता ने कहा कि सिख लड़की को कोर्ट तक में जाने नहीं दिया गया
  • सिरसा ने कहा कि गृह मंत्री ने सिख लड़कियों की सुरक्षा का दिया है भरोसा

नई दिल्ली : कश्मीर में सिख समुदाय की लड़कियों के कथित धर्मांतरण के मसले पर श्रीनगर में शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के नेता और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने सोमवार को मुस्लिम धर्मगुरुओं पर निशाना साधा। सिरसा ने कहा कि पिछले एक महीने सिख समुदाय की चार लड़कियों का धर्म जबरन बदल दिया गया। उन्होंने कहा कि ताजा मामले में लड़की को कोर्ट परिसर में दाखिल नहीं होने दिया गया। दुनिया भर में सिख समुदाय ने इस घटा की निंदा की है। सिख समुदाय धर्म परिवर्तन के खिलाफ कानून चाहता है। 

'बाढ़ के दौरान हमने कश्मीरियों की मदद की' 
उन्होंने कहा कि हम उम्मीद कर रहे थे कि इस मुद्दे पर बहुसंख्यक समुदाय के लोग हमारे साथ मंच साझा करेंगे लेकिन दुर्भाग्यवश ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने कहा, 'कश्मीर में बाढ़ के दौरान हम पीड़ितों की मदद करने के लिए आगे आए।' सिरसा ने आगे कहा, 'कुछ समय पहले देश भर में जब कश्मीरी छात्रों को परेशान किया जा रहा था तब सिख समुदाय उनकी मदद के लिए आगे आया और उन्हें घाटी तक पहुंचाने का प्रबंध किया।' 

सिरसा ने कहा-धर्म परिवर्तन की निंदा नहीं करते मौलवी
उन्होंने कहा, 'जब बात सिख समुदाय की लड़कियों की आती है तो कोई भी मौलवी आवाज नहीं उठाता और न ही धर्म परिवर्तन की निंदा करता है। हमारी लड़कियों के साथ आप अपनी लड़की की तरह बर्ताव नहीं करते हैं। आप इतने हठी हो गए हैं। लोग सिख समुदाय पर शर्म कर रहे हैं। वे हम पर तंज कसते हैं कि हमने यहां बहुसंख्यक समुदाय का समर्थन क्यों किया। यह शर्मनाक है कि घाटी के लोग इस मसले पर कुछ बोल नहीं रहे हैं।'

गृह मंत्री से मिलेगा सिख शिष्टमंडल
शिअद नेता ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सिख लड़कियों की सुरक्षा को लेकर भरोसा दिया है। उन्होंने कहा, 'गृह मंत्री ने जम्मू एवं कश्मीर के सिख शिष्टमंडल को मिलने का समय दिया है। गृह मंत्री अल्पसंख्यक समुदाय की चिंताओं एवं समस्याओं को सुनेंगे।'

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर