'मंगलवार को मेरे घर आएं', सीबीआई की नोटिस पर अभिषेक की पत्नी रुजिरा का जवाब

Rujira Banerjee : सीबीआई के अधिकारियों की एक टीम गंभीर के कोलकाता में पंचाशायर स्थित घर पहुंची। सूत्रों का कहना है कि सीबीआई गंभीर से मिलकर बैंक से हुए कुछ लेन-देन के बारे में पूछताछ करना चाहती है।

Abhishek Banerjee’s wife responds to CBI notice: ‘The agency may visit my residence tomorrow’
सीबीआई की नोटिस पर अभिषेक की पत्नी रुजिरा का जवाब। 

कोलकाता : कोयला घोटाले की जांच के सिलसिले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की ओर से जारी नोटिस का रुबिरा बनर्जी ने जवाब दिया है। रुबिरा टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी हैं। रुजिरा ने पूछताछ के लिए जांच एजेंसी को उनके घर पर मंगलवार को 11 बजे से तीन बजे के बीच आने के लिए कहा है। रविवार को सीबीआई टीम अभिषेक बनर्जी के घर पहुंची और उनकी पत्नी से पूछताछ के लिए नोटिस सौंपा। सीबीआई सोमवार को रुबिना से पूछताछ करना चाहती थी।  

आप मंगलवार को आएं मेरे घर-रुजिरा
जांच एजेंसी को लिखे गए पत्र में रुबिना ने कहा है, 'इस जांच में मुझे पूछताछ के लिए क्यों बुलाया जा रहा है, इस बात को मैं समझ नहीं पाई हूं। आप मंगलवार को मेरे आवास पर अपनी सुविधानुसार 11 बजे से शाम तीन बजे के बीच आ सकते हैं। आप कितने बजे आएंगे, इसकी अग्रिम सूचना देने कृपा करें।' बता दें कि जांच एजेंसी ने रविवार को रजिसा और उनकी बहन मेनका गंभीर को नोटजि भेजा। अभिषक बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंभत्री ममता बनर्जी के भतीजे हैं।  इस बीच, सीबीआई के अधिकारियों की एक टीम गंभीर के कोलकाता में पंचाशायर स्थित घर पहुंची। सूत्रों का कहना है कि सीबीआई गंभीर से मिलकर बैंक से हुए कुछ लेन-देन के बारे में पूछताछ करना चाहती है।

भाजपा पर टीएमसी का हमला 
वहीं, सीबीआई की इस कार्रवाई पर टीएमसी का कहना है कि भाजपा 'राजनीतिक बदले की भावना' से काम कर रही है। टीएमसी ने कहा, 'सीबीआई अब भाजपा की सहयोगी दल बन गई है।' टीएमसी सांसद सौगत राय ने कहा, 'अब भाजपा के पास कोई सहयोगी दल नहीं है। अकाल और अन्य उसे छोड़कर जा चुके हैं। अब उसके पास सहयोगी के रूप में केवल सीबीआई बची है। वह टीएमसी को डराने के लिए जांच एजेंसी का इस्तेमाल कर रही है। सीबीआई की नोटिस का कानूनी जवाब दिया जाएगा।'

गत नवंबर में सीबीआई ने केस दर्ज किया
जांच एजेंसी ने गत नवंबर में चोरी रैकेट के सरगना मांझी उर्फ लाला, ईस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड (ईसीएल) के महाप्रबंधकों-अमित कुमार धर (तत्कालीन कुनुस्तोरिया क्षेत्र और अब पांडवेश्वर क्षेत्र) तथा जयेश चंद्र राय (काजोर क्षेत्र) , ईसीएल के सुरक्षा प्रमुख तन्मय दास, क्षेत्र सुरक्षा निरीक्षक, कुनुस्तोरिया, धनंजय राय और एसएसआई एवं काजोर क्षेत्र के सुरक्षा प्रभारी देबाशीष मुखर्जी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी।आरोप है कि मांझी उर्फ लाला कुनुस्तोरिया और काजोरा क्षेत्रों में ईसीएल की पट्टे पर दी गईं खदानों से कोयले के अवैध खनन और चोरी में लिप्त है। पश्चिम बंगाल में इस साल अप्रैल-मई में चुनाव होना है, जहां भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस को अपदस्थ करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर