दिल्ली-NCR में रहने वालों को थोड़ी राहत, 'बहुत खराब' से 'खराब' कैटेगरी में पहुंचा वायु प्रदूषण

पंजाब में पराली जलाए जाने के बाद से दिल्ली-एनसीआर का वायु प्रदूषण (Air Pollution) 'गंभीर' कैटेगरी पहुंच गया था। लेकिन अब थोड़ी राहत मिलती नजर आ रही है क्योंकि वायु गुणवत्ता सूचकांक (Air Quality Index) 'बहुत खराब' से 'खराब' कैटेगरी पहुंच गया है। वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान सिस्टम के अनुसार 221 का AQI दर्ज किया गया।

रामानुज सिंह

Updated Nov 15, 2022 | 10:06 AM IST

Delhis AQI

दिल्ली-एनसीआर में वायु की गुणवत्ता में सुधार

तस्वीर साभार : ANI
Air Pollution : थोड़ी राहत की बात ये है कि दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर 'बहुत खराब' से 'खराब' कैटेगरी में आ गया। क्योंकि राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार सुबह वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान सिस्टम के अनुसार 221 का AQI दर्ज किया गया। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में भी वायु गुणवत्ता में कुछ सुधार देखा गया क्योंकि गुरुग्राम 162 के AQI के साथ 'मध्यम' श्रेणी में गिर गया और दिल्ली हवाई अड्डे (टी3) ने 218 के AQIके साथ 'खराब' गुणवत्ता वाली हवा दर्ज की। हालांकि नोएडा शहर का AQI 302 पर पहुंचने के साथ ही 'बहुत खराब' गुणवत्ता वाली हवा में सांस लेना जारी रखा। अन्य स्थानों की बात करें तो, धीरपुर ने 303 का एक्यूआई दर्ज किया गया। लोधी रोड ने 152 को 'मध्यम' श्रेणी में दर्ज किया, जबकि मथुरा रोड ने 232 का एक्यूआई दर्ज किया, और पूसा ने 186 का एक्यूआई दर्ज किया।
शून्य से 100 तक का वायु गुणवत्ता सूचकांक (Air Quality Index) अच्छा माना जाता है, जबकि 100 से 200 तक मध्यम, 200 से 300 तक खराब, 300 से 400 तक बहुत खराब और 400 से 500 या इससे ऊपर होता है। इसे गंभीर कटैगरी में माना जाता है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) द्वारा कल शाम 4 बजे जारी किए गए AQI बुलेटिन में बताया गया कि दिल्ली-एनसीआर के समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) में पिछले कुछ दिनों में सुधार देखी गई। NCR और आसपास के क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (CAQM) की ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (GRAP) के तहत कार्रवाई करने के लिए सब -कमिटी ने सोमवार को एक समीक्षा बैठक की।
इसने स्थिति की समीक्षा की और 29 अक्टूबर से पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में GRAP के चरण III के तहत कार्रवाई के लिए उचित आह्वान किया। दिल्ली-एनसीआर के समग्र वायु गुणवत्ता मानकों की व्यापक समीक्षा करते हुए आयोग ने कहा कि पूर्वानुमान के कारण अगले कुछ दिनों में दिल्ली-एनसीआर की समग्र वायु गुणवत्ता में कोई भारी गिरावट का संकेत नहीं मिलने के कारण AQI के 'खराब' श्रेणी में रहने की संभावना है। पूरे एनसीआर में तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधों में ढील देने और जीआरएपी के तीसरे चरण को वापस लेने की सलाह दी जाती है।
हालांकि GRAP के चरण I से चरण II के तहत कार्रवाई। हालांकि, लागू रहेगी और पूरे एनसीआर में संबंधित सभी एजेंसियों द्वारा कार्यान्वित, निगरानी और समीक्षा की जाएगी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि AQI का स्तर आगे 'गंभीर' श्रेणी में न जाए।
लेटेस्ट न्यूज

PAK vs ENG 1st Test Live Streaming: जानिए कब और कहां देखें पाकिस्तान-इंग्लैंड पहले टेस्ट मैच का प्रसारण

PAK vs ENG 1st Test Live Streaming      -

होश उड़ा देंगे ये स्कूल बैग! बच्चों के बस्तों से मिले कंडोम, गर्भ निरोधक गोलियां और पानी की बोतलों में शराब भी

ऋषभ पंत या संजू सैमसन: कप्तान शिखर धवन ने दिया दो टूक जवाब

Hindi Samachar 30 November 2022: उधर गुजरात में कल पहले चरण का मतदान, इधर अर्थव्यवस्था को शॉक, गिरी GDP ग्रोथ रेट; पढ़ें, आज की बड़ी खबरें

Hindi Samachar 30 November 2022              GDP

विजय देवरकोंडा पर कसा ED का शिकंजा, Liger की फंडिंग को लेकर हुई एक्टर से पूछताछ

    ED   Liger

Aaj Ka Panchang, 01 December 2022: राहुकाल में न करें कोई शुभ कार्य, जान लें आज का पूरा पंचांग

Aaj Ka Panchang 01 December 2022

पहले काम फिर शादी...रस्मों के दौरान लैपटॉप पर बिजी था दूल्हा, फोटो वायरल

स्टार बल्लेबाज पर भड़के सांसद: शशि थरूर बोले- '66 का औसत लेकर भी ये खिलाड़ी बाहर क्यों'

       - 66
आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited