LIVE BLOG
More UpdatesMore Updates

Lakhimpur Kheri Violence Updates : लखीमपुर केस में गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा को सरकार हटाए, संयुक्त किसान मोर्चा

Lakhimpur Kheri Violence Today News Updates: केंद्रीय गृहराज्य मंत्री के अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के सामने पेश हो गए। बताया जा रहा है कि उन्हें सवालों की कुछ सूची दी गई है। इससे पहले शुक्रवार को उनके पिता गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी ने कहा था कि तबीयत खराब होने की वजह से उनका बेटा पेश नहीं हो सका था। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने भी तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा था कि 302 के आरोपी को आप प्लीज आइए कह कर पेश नहीं करा सकते हैं।

Lakhimpur Kheri Violence Today News Updates: लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में सियासत अपने चरम पर है। राजनीतिक दलों के नेता एक एक कर तिकुनिया जा रहे हैं और स्पष्ट शब्दों में कह रहे हैं कि जिस आरोपी का बाप मंत्री हो और वो अपमे पद पर कायम हो तो न्याय की उम्मीद करना बेमानी है। लेकिन इस विषय पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लखीमपुर खीरी हिंसा के लिए जो भी जिम्मेदार है उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। कोई कितना भी रसूखदार क्यों ना हो अगर दोषी पाया गया तो कार्रवाई होगी। लेकिन किसी के दबाव में आकर सरकार कोई फैसला नहीं करने जा रही है। बीजेपी का कहना है कि न्यायसंगत तरीके से जांच प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा रहा है। विपक्षी दल राजनीतिक गिद्ध ना बनें और जांच एजेंसियों की रिपोर्ट का इंतजार करें। 

Oct 09, 2021  |  01:36 PM (IST)
संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से कुछ बड़ी मांग

लखीमपुर हिंसा मामले में संयुक्त किसान मोर्चा ने मांग की है अगर सरकार आंदोलन खत्म करना चाहती है तो  गृह राज्य मंत्री से इस्तीफा लेने के साथ उन पर 120 बी का केस दर्ज किया जाए। इसके साथ ही आरोपी की गिरफ्तारी हो। अगर ऐसा नहीं होता है तो 12 अक्टूबर को अगली रणनीति तय की जाएगी। सरकार हिंसा पर पर उतारू हो गई है जिसका जवाब हम संघर्ष के जरिए देंगे। 

Oct 09, 2021  |  12:47 PM (IST)
आशीष मिश्रा से पूछताछ के तरीके पर भड़के अखिलेश यादव

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेष यादव ने कहा कि किसानों और गरीबों को धमकी दी जा रही है। संविधान को जीप से रौंदा जा रहा है। लखीमपुर खीरी हिंसा केस में पुलिस आरोपी को समन नहीं बल्कि गुलदस्ता दे रही है। 

Oct 09, 2021  |  12:29 PM (IST)
नवजोत सिंह सिद्धू ने भूख हड़ताल खत्म की

पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने भूख हड़ताल खत्म कर दी है। उन्होंने कहा था कि लखीमपुर खीरी हिंसा के मुख्य आरोपी की जब तक गिरफ्तारी नहीं होगी वो भूख हड़ताल खत्म नहीं करेंगे। बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू शुक्रवार को हिंसा में मारे गए पत्रकार रमन कश्यप के परिवार से मिले थे और मौन व्रत धारण कर लिया था।

Oct 09, 2021  |  12:16 PM (IST)
आशीष मिश्रा से पूछताछ जारी

लखीमपुर हिंसा केस के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा जांच एजेंसी के सामने पेश हुए। बताया जा रहा है कि उन्हें सवालों की सूची दी गई है। पूछताछ के दौरान एसडीएम सदर भी मौजूद हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने इस विषय पर यूपी सरकार को फटकार लगाई थी। 

Oct 09, 2021  |  10:50 AM (IST)
आशीष मिश्रा, क्राइम ब्रांच के सामने पेश

लखीमपुर खीरी हिंसा केस का मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा पेश हो गया है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को यूपी सरकार को फटकार लगाई थी। आशीष मिश्रा को कल ही पेश होना था। लेकिन जब वो पेश नहीं हुए तो क्राइम ब्रांच की तरफ से उनके घर पर दूसरी नोटिस लगाई। हालांकि उनके पिता केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी ने कहा था कि उनका बेटा जांच एजेंसी के सामने पेश होगा। 

Oct 09, 2021  |  10:23 AM (IST)
30 मिनट के अंदर मु्ख्य आरोपी आशीष मिश्रा कर सकता है सरेंडर

लखीमपुर खीरी हिंसा केस के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा के संबंध में बताया जा रहा है कि एसपी आफिस में सरेंडर कर सकते हैं। आशीष मिश्रा को शुक्रवार को ही क्राइम ब्रांच के सामने पेश होना था। लेकिन जब वो पेश नहीं हुए तो दूसरी नोटिस देकर शनिवार 11 बजे तक पेश होने के लिए कहा गया था। 

Oct 09, 2021  |  08:48 AM (IST)
आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी ना होने पर विपक्ष आगबबूला

आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी को लेकर विपक्षी दलों का कहना है कि कहीं ना कहीं उस शख्स को बचाने की कोशिश की जा रही है। सवाल यह है कि जब कोई आम आदमी 302 के आरोप का सामना करता है तो उसकी गिरफ्तारी पुलिस तुरंत करती है। लेकिन इस केस में तरह तरह के हथकंडे अपना कर आरोपी को बचाने की कोशिश जारी है। 

Oct 09, 2021  |  07:26 AM (IST)
आशीष मिश्रा को पेश होने के लिए 11 बजे तक का समय

केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा क्या क्राइम ब्रांच के सामने पेश होंगे बड़ा सवाल है। शुक्रवार को उनके घर पर दूसरा नोटिस चस्पा किया गया था जिसमें आज 11 बजे तक का वक्त दिया गया है। क्राइम ब्रांच की तरफ से स्पष्ट किया गया है कि अगर वो जांच एजेंसी के सामने पेश नहीं होते हैं तो उनके खिलाफ अरेस्ट वारंट इश्यू कराया जाएगा। 

Oct 09, 2021  |  06:25 AM (IST)
लखीमपुर खीरी में इंटरनेट सेवा रोकी गई

लखीमपुर हिंसा केस में  राजनीतिक दल के नेता वारदात वाली जगह के दौरे पर हैं। किसी तरह की अप्रिय हालात से बचने के लिए जिला प्रशासन ने इंटरनेट सेवा पर रोक लगाने का फैसला किया है। 

Oct 08, 2021  |  02:32 PM (IST)
आशीष मिश्रा को पेश होने के लिए 9 अक्टूबर 11 बजे तक का समय
उत्तर प्रदेश पुलिस ने लखीमपुर खीरी में केंद्रीय मंत्री अजय कुमार मिश्रा के आवास के बाहर एक और नोटिस चस्पा कर उनके बेटे आशीष मिश्रा को हिंसा के सिलसिले में 9 अक्टूबर, सुबह 11 बजे पेश होने के लिए कहा है। एसआईटी के सामने उन्हें पेश होना था। लेकिन वो पेश नहीं हुए। आशीष मिश्रा के नेपाल जाने की खबर आने लगी। हालांकि उनके पिता अजय मिश्रा टेनी का कहना है कि उनका बेटा लखीमपुर खीरी में ही है।
Oct 08, 2021  |  02:01 PM (IST)
सीबीआई जांच भी समाधान नहीं, कारण पता है- सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि सीबीआई जांच भी कोई समाधान नहीं है और कारण पता है।CJI ने उत्तर प्रदेश को अपने DGP से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि जब तक कोई अन्य एजेंसी इसे संभालती है, तब तक मामले में सबूत सुरक्षित हैं।सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को एक वैकल्पिक एजेंसी के बारे में अदालत को अवगत कराने के लिए कहा है जो जांच कर सकती है। सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को एक वैकल्पिक एजेंसी के बारे में अदालत को अवगत कराने के लिए कहा है जो जांच कर सकती है। उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे ने उसे आश्वासन दिया है कि मामले में सबूतों को संरक्षित करने के लिए राज्य के सर्वोच्च पुलिस अधिकारी को सूचित किया जाएगा।

Oct 08, 2021  |  02:24 PM (IST)
आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी क्यों नहीं- सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वो यूपी सरकार की स्टेटस रिपोर्ट से खुश नहीं है। 302 के आरोपी के साथ इस तरह का व्यवहार किया जा रहा है। अब तक आशीष मिश्रा को क्यों गिरफ्तार नहीं किया गया। 302 के आरोपी को तो कस्टडी में लिया जाता है।  अदालत ने यूपी सरकार के वकील से पूछा कि 302 के आरोपी को तो तुरंत गिरफ्तार किया जाता है भले ही वो कोई भी हो तो इस केस में गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई। तीन जजों की बेंच ने कहा कि यूपी पुलिस जिस तरह से मामले की जांच कर रही है वो संतोषजनक नहीं। खास बात यह है कि जब आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी को लेकर यूपी सरकार के वकील हरीश साल्वे से अदालत ने सवाल किया तो वो चुप हो गए। 

Oct 08, 2021  |  01:11 PM (IST)
लखीमपुर खीरी में हैं आशीष मिश्रा - अजय मिश्रा टेनी

लखीमपुर खीरी हिंसा केस में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को मुख्य आरोपी हैं। शुक्रवार को उन्हें एसआईटी के सामने पेश होना था। लेकिन वो पेश नहीं हुए। उनके नेपाल भागने की खबर आई। लेकिन उनके पिता का कहना है कि उनका बेटा बीमार है और लखीमपुर खीरी में ही है। उन्होंने कहा कि उनके बेटे ने पुलिस को पत्र लिखकर जानकारी दी है। लोग क्या कहते हैं उसके बारे में वो क्या कहेंगे। 

Oct 08, 2021  |  12:50 PM (IST)
लखीमपुर हिंसा केस में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू

लखीमपुर हिंसा केस में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू हो चुकी है। अदालत ने शुक्रवार को यूपी सरकार से स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा था। यूपी पुलिस की तरफ से इस केस में दो लोगों की गिरफ्तारी की गई है जबकि मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा के बारे में किसी तरह की जानकारी नहीं है। पुलिस का कहना है कि तीन आरोपी हिंसा के दौरान ही मर चुके थे। 

Oct 08, 2021  |  12:22 PM (IST)
लखीमपुर हिंसा से जुड़ा एक और वीडियो आया सामने

लखीमपुर हिंसा केस से जुड़ा एक और वीडियो, दो आरोपी थार से भागते दिख रहे, इसके अलावा जली हुई गाड़ियों के नीचे से तीन कारतूस की भी बरामदगी हुई है। कुछ लोगों का कहना है कि आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं और जल्द ही जांच एजेंसियों के सामने पेश होंगे।

Oct 08, 2021  |  11:38 AM (IST)
'आशीष मिश्रा खुलेआम घूम रहे हैं, तुरंत गिरफ्तारी हो'

संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि सुबह 10 बजे के निर्धारित समय पर आशीष मिश्रा को खीरी में पुलिस लाइन स्थित अपराध शाखा कार्यालय आने के लिए जारी समन के अनुसार आशीष मिश्रा का कोई पता नहीं चल रहा है।. समाचार रिपोर्टों से संकेत मिलता है कि वह स्थान बदल रहा है और फरार है, यूपी पुलिस की कई टीमें उसकी तलाश कर रही हैं।संयुक्त किसान मोर्चा लखीमपुर खीरी किसान हत्याकांड में शामिल आशीष मिश्रा, सुमित जायसवाल, अंकित दास और अन्य साथियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर गंभीर चिंता और सदमे व्यक्त करता है। पूछताछ के लिए बुलाने वाले आशीष मिश्रा के नाम से जारी नोटिस की ही जानकारी है. यूपी सरकार और अजय मिश्रा टेनी यह सुनिश्चित करने के लिए सुरक्षात्मक रणनीति तैनात कर रहे हैं कि आशीष मिश्रा मुक्त घूम रहे हैं।


इसके अलावा, भले ही सुमित जायसवाल थार वाहन में स्पष्ट रूप से वाहन से भाग रहे थे और बाद में मीडिया को बाइट देते हुए देखा गया था, उनकी गिरफ्तारी भी अब तक नहीं हुई थी। इसी तरह, एक वीडियो क्लिप सामने आई है जिसमें एक पुलिस अधिकारी घटना में पकड़े गए एक व्यक्ति से पूछताछ कर रहा है, जो कह रहा है कि अंकित दास उस फॉर्च्यूनर में था जो नरसंहार के लिए भी जिम्मेदार था। हालांकि अंकित दास को भी अभी गिरफ्तार नहीं किया गया है। संयुक्त किसान मोर्चा की मांग है कि जो लोग स्पष्ट रूप से नरसंहार का हिस्सा हैं - आशीष मिश्रा, सुमित जायसवाल, अंकित दास और अन्य को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

Oct 08, 2021  |  11:12 AM (IST)
बहराइच के लिए रवाना हुए अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बहराइच जा रहे हैं। वो उन दो परिवारों से मिलेंगे जिनसे संबंधित दो शख्स लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए थे। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इस केस में संज्ञान लिया है और उम्मीद है कि पीड़ित लोगों को न्याय मिलेगा। इसके साथ ही उन्होंने गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग की। 

Oct 08, 2021  |  10:46 AM (IST)
नोटिस के बाद भी पेश नहीं हुआ आशीष मिश्रा

लखीमपुर खीरी हिंसा केस में एसआईटी ने मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को आज सुबह 10 बजे तक पेश होने का समन जारी किया था। इस संबंध में उनके घर पर नोटिस भी चस्पा था। लेकिन समय सीमा के अंदर वो जांच एजेंसी के सामने पेश नहीं हुए। बताया जा रहा है कि वो नेपाल जा सकते हैं क्योंकि उनकी आखिरी लोकेशन नेपाल सीमा के पास मिली थी। वारदात वाली जगह और उनके गांव से नेपाल सीमा की दूरी महज 10 या 12 किमी है। 

Oct 08, 2021  |  09:49 AM (IST)
लखीमपुरी खीरी के दौरे पर शिरोमणि अकाली दल

शिरोमणि अकाली दल के नेता हरसिमरत कौर की अगुवाई में लखीमपुर हिंसा में जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों से मिलने के लिए लखनऊ पहुंचे हैं वो वहां से लखीमपुर खीरी का दौरा करेंगे। हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि  सरकार किसानों की नहीं सुन रही है, और अब किसान मारे जा रहे हैं; हम किसानों के साथ खड़े हैं:

Oct 08, 2021  |  09:10 AM (IST)
आशीष मिश्रा के नेपाल भागने की खबर, पूछताछ के लिए होना है पेश

आशीष मिश्रा को एसआईटी ने आज पूछताछ के लिए सुबह 10 बजे बुलाया है। लेकिन बताया जा रहा है कि आरोपी आशीष मिश्रा नेपाल भाग गया है। Times Now नवभारत से बातचीत में उनके परिवार का कहना है कि वो कानून का सामना करेंगे। लेकिन जानकारी यह है कि उनकी आखिरी लोकेशन नेपाल सीमा के पास मिली थी।