वापस आए 30 लाख प्रवासी मजदूरों को गारंटी के साथ देंगे रोजगार: योगी आदित्यनाथ

देश
किशोर जोशी
Updated May 30, 2020 | 17:49 IST

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए कहा कि वो यूपी में वापस आए प्रवासी मजदूरों को गांरटीड रोजगार देंगे।

Yogi Adityanath says 30 lakh migrant laborers returns in UP and they will be given jobs with guarantee
वापस आए 30 लाख प्रवासी मजदूरों को गारंटी के साथ देंगे रोजगार: योगी आदित्यनाथ 

मुख्य बातें

  • कोरोना संकट से देश को उबारने में सफर होगी सरकार- योगी
  • योगी बोले- 30 लाख प्रवासी मजदूर लॉकडाउन के दौरान लौटे वापस
  • कांग्रेस ने बसों के नाम पर मजदूरों के साथ किया भद्दा मजाक- योगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि पीएम मोदी के नेतृत्व में हम कोरोना के खिलाफ जंग को जरूर जीतेंगे। एक टीवी चैनल से बात करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी सरकार ने रियल इस्टेट के संगठनों के साथ एमएसएमई के माध्यम से करार किया जिसके तहत 11 लाख कामगारों को रोज़गार देने का मार्ग प्रशस्त हुआ है।

30 लाख प्रवासी लौटे यूपी

 उन्होंने कहा, 'यूपी में अन्य राज्यों से आए प्रवासी कामगारों की संख्या 30 लाख है। इन सभी को या तो क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है या फिर होम क्वारंटीन में। इसके बाद इन्हें घर भेजा जा रहा है, वहीं इन सभी की स्किल मैपिंग का कार्य किया जा रहा है। सरकार की कोशिश है कि वापस आए हर प्रवासी को आने वाले छह महीनों में गारंटी के साथ रोज़गार देंगे। वहीं होम क्वारंटीन के दौरान ही 1000 रूपये भरण पोषण भत्ता सरकार देगी।'

लेबर लॉ में इसलिए किया बदलाव

 लेबर लॉ को लेकर किए गए बदलाव पर बात करते हुए योगी ने कहा, 'हम लकीर के फकीर नहीं बन सकते हैं। मुझे जो प्रवासी मजदूर आए हैं उनको रोजगार देना है। इस कानून में 8 घंटे कार्य और न्यूनतम वेतन तय किया है। इसके अलावा कहा गया है कि किसी से भी बंधुआ मजदूरी नहीं करवाएं और किसी की मर्जी के खिलाफ कदम नहीं उठाएंगे। उद्योग चलेंगे तो रोजगार मिलेगा। इससे इंस्पेक्टर राज खत्म होगा।'

कांग्रेस पर बरसे

प्रियंका गांधी की बसों को चलने की अनुमति नहीं देने के सवाल का जवाब देते हुए योगी ने कहा, ''इससे बड़ा फ्रॉड नहीं हो सकता है। आपदा के इस समय में भी कांग्रेस नेतृत्व को फर्जीवाड़ा करने में शर्म नहीं आई। ये भद्दा मजाक मजदूरों के जीवन से खिलवाड़ करने जैसा है। राजस्थान सरकार ने उन बच्चों को भेजने की बात कही तो हमने उनसे कहा था कि बच्चों को यूपी बॉर्डर पर भेज दीजिए जिस पर उन्होंने असमर्थता जाहिर की। उन्होंने चार हजार बच्चे बताए और निकले 12 हजार से अधिक। उन्होंने तेल का पैसा लेने के अलावा 36 लाख किराया भी लिया। कांग्रेस की कथनी और करनी देश की जनता जान गई है। जनता उन्हें पहले ही सबक सिखा चुकी है और आगे भी सिखाएगी।'

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर