Rashtravad : नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी को लेकर इतना व्यापक प्रदर्शन क्यों, देश संविधान से चलेगा या शरिया से?

Rashtravad : नुपुर शर्मा के विवादित बयान के पूरे देश को हिंसा में झोकने की साजिश दिख रही है। जुमे की नमाज के बाद यूपी, बिहार, पंजाब, झारखंड, दिल्ली, महाराष्ट्र पश्चम बंगाल में लोग सड़कों पर निकल आए, कहीं पत्थरबाजी हुई तो कहीं नारेबाजी हुई। रांची में तो प्रदर्शनकारियों ने तो पुलिस पर ही हमला कर दिया। आज एक बड़ा सवाल है कि देश शरिया से चलेगा या बाबा साहब के संविधान से?

Why such a massive protest over the arrest of Nupur Sharma, will the country run by Sharia or by Babasaheb's constitution?
नुपुर शर्मा के विवादित बयान पर देशभर में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन 

Rashtravad : आज एक बड़ा सवाल है कि देश शरिया से चलेगा या बाबा साहब के संविधान से? ये सवाल इसलिए है क्योंकि नुपुर शर्मा के विवादित बयान के पूरे देश को हिंसा में झोकने की साजिश दिख रही है। आज जुमे की नमाज के बाद यूपी, बिहार, पंजाब, झारखंड, दिल्ली, महाराष्ट्र पश्चम बंगाल में लोग सड़कों पर निकल आए, कहीं पत्थरबाजी हो रही है तो कहीं नारेबाजी। आज सबसे ज्यादा जरूरी है कि एक-एक तस्वीर को पहले देखें.. क्योंकि आज की तस्वीर ही सवाल है। 

सबसे पहले रांची की तस्वीर देखिए। रांची में तो प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर ही हमला कर दिया। प्रदर्शनकारियों के हमले में सिटी एसपी का सिर फट गया। प्रदर्शनकारियों के हंगामे में दर्जनों पुलिसकर्मी घायल हो गए। कई घंटे तक हंगामा होता रहा। रांची में जुमे की नमाज के बाद बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी निकले और सड़कों पर उत्पात मचाने लगे। लोगों को समझाने की कोशिश हुई तो पत्थर मारने लगे। 

रांची के बाद अब उत्तर प्रदेश के प्रयागराज की तस्वीर भी देखिए, यहां पर भी खूब हंगामा हुआ। जुमे के बाद प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी शुरू की। प्रर्दशनकारियों ने पुलिस को निशाना बनाया। पुलिस ने एक इलाके में हंगामे को कंट्रोल किया तो दूसरे इलाके में हंगामा शुरू हो गया। जो कई घंटे तक चलता रहा।

प्रयागराज के बाद अब सहारनपुर की तस्वीर देखिए। हजारों लोग सड़क पर निकल गए, नरेबाजी की। एक साथ सहारनपुर के कई सड़कों पर सिर्फ और प्रदर्शनकारी ही दिख रहे हैं।
  
महाराष्ट्र के सोलापुर में भई खूब हंगामा हुआ। यहां भी जुमे की नमाज के बाद हजारों लोग सड़कों पर निकले। विवादित बयान के खिलाफ नारेबाजी की। काफी देर तक हंगामा होता रहा। 

दिल्ली के जामा मस्जिद में भी नमाज के बाद लोगों ने प्रदर्शन किया। हालांकि मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी ने ये दावा किया प्रदर्शन उनकी ओर से नहीं बुलाया गया था ।

पश्चिम बंगाल के हावड़ा में भी नमाज के बाद लोगों ने प्रदर्शन किया और सड़कों पर टायर जला कर विरोध जताया । 

नवी मुंबई में महिलाएं सड़कों पर निकलीं। हजारों महिलाओं ने एक साथ रैली निकाली। महिलाएं बुर्के में थीं। सड़कों कतार में महिलाएं चल रही थीं। 

इसके अलावा भी देश के कई शहरों में हंगामा हुआ। जुमे की नमाज के बाद सैकड़ों लोग सड़क पर निकले और हंगामा करने लगे। लेकिन सवाल ये है कि जिस विवादित बयान पर कानूनी कार्रवाई हो रही है, उस के बाद लोग पत्थरबाजी क्यों कर रहे हैं। आपके मन में ये सवाल होगा.. 

इसके पीछे वो लोग हैं जो कानून पर भरोसा नहीं रखते हैं और लोगों को भड़काते हैं और सिर काटने की धमकी देते हैं। सवाल ये है कि खुद को धर्म का रहनुमा बताने वाले मौलाना गर्दन उड़ाने की बात कह रहे हैं उन पर एक्शन कब होगा। जम्मू-कश्मीर के डोडा में कल ऐसे ही एक मौलाना आदिल गनई ने मस्जिद की छत से खुलेआम मुसलमानों की भीड़ को भड़काया और सिर काटने की धमकी दी। मौलाना आदिल गनई की गर्दन काटने वाली धमकी के बाद आज डोडा में खूब हंगामा हुआ, मस्जिद के पास पत्थरबाजी हुई। लोगों ने नारेबाजी की। जिसके बाद माहौल खराब हो गया। तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस वालों को तैनात किया गया। 

राष्ट्रवाद में अब आज के सवाल

देश में 'सर तन से जुदा' चलेगा या संविधान ?
जुमे की नमाज के बाद पत्थर का इलाज क्या ?
मोदी-योगी के सामने सबसे बड़ा चैलेंज आ गया है?
संविधान चलेगा, शरिया नहीं..ये क्यों क्लियर नहीं?

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर