'दुख भरे दिन बीते रे भइया...' कांग्रेसियों ने प्रयागराज में लगा दिए वरूण गांधी के 'स्वागत वाले पोस्टर', सोनिया संग दिख रहे हैं वरूण

देश
रवि वैश्य
Updated Oct 12, 2021 | 17:22 IST

Varun Gandhi Welcome poster:वरुण गांधी किसानों के मुद्दे पर मुखर हैं इस बीच उनको लेकर प्रयागराज से एक खबर सामने आई, वहां कांग्रेस के नेताओं ने उनके 'स्वागत पोस्टर' लगा दिए हैं।

varun gandhi
वरुण गांधी किसानों के मुद्दे पर मुखर हैं 

मुख्य बातें

  • प्रयागराज के कुछ कांग्रेसी नेताओं ने उनके Welcome Poster लगा दिए हैं
  • भारतीय जनता पार्टी की तरफ से बनाई गई नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी में वरुण गांधी को जगह नहीं
  • किसानों के मुद्दे पर वरुण गांधी ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी को लिखा था पत्र

बीजेपी सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi) बीते कुछ दिनों से खासी सुर्खियों में हैं इसकी वजह है उनका किसानों के मुद्दे पर मुखर होना और इसके लिए वो पार्टी के खिलाफ ही कई दफा नजर आए, उन्होंने किसानों के मुद्दे पर प्रदेश सरकार को लेटर भी लिखा था, वहीं अब उनको लेकर यूपी के प्रयागराज से दिलचस्प खबर सामने आई है वहां के कुछ कांग्रेसी नेताओं ने उनके 'स्वागत पोस्टर' (Welcome poster) लगा दिए हैं।

मीडिया सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि बीजेपी में वरूण गांधी को तवज्जो नहीं मिल रही है इसे लेकर वो असहज बताए जा रहे हैं, कहा तो ये भी जा रहा है कि वरुण गांधी कांग्रेस में जा सकते हैं ऐसी अटकलें हैं, वहीं अब कुछ पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

वरुण गांधी के स्वागत पोस्टर में लिखा है, 'दुःख भरे दिन बीते रे भइया अब सुख आयो रे.' इसमें वरुण गांधी के साथ-साथ कांग्रेस अध्यक्ष  सोनिया गांधी का भी फोटो है, नीचे इरशाद उल्ला और बाबा अभय अवस्थी की तस्वीर लगी है, दोनों को ही कांग्रेस का सीनियर लीडर बताया गया है।

BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में वरुण गांधी को जगह नहीं

हाल ही में भारतीय जनता पार्टी की तरफ से बनाए गए नए राष्ट्रीय कार्यकारिणी में वरुण गांधी को जगह नहीं दी गयी थी पिछले कुछ दिनों में वरुण गांधी लगातार किसानों के समर्थन में बयान देते रहे हैं।

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी से मेनका गांधी, वरुण गांधी समेत पांच लोगों के नाम काट दिए गए इसपर पूर्व केंद्रीय मंत्री व सुलतानपुर लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की सांसद मेनका गांधी का कहना है कि वह बीजेपी में रहकर संतुष्ट हैं और कार्यकारिणी में न होने से किसी का कद कम नहीं हो जाता। मेनका गांधी ने कहा, 'कार्यकारिणी में और भी वरिष्ठ नेताओं को जगह नहीं मिली है और नए लोगों को भी मौका मिलना चाहिए, मैं अपने कार्यों के प्रति सजग हूं और अपने क्षेत्रवासियों की सेवा करना मेरा पहला धर्म है। उनके दिलों में मुझे स्थान मिले यह ज्यादा महत्वपूर्ण है।' 

वरुण गांधी ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी को लिखा था पत्र

गौर हो कि पिछले महीने उत्तर प्रदेश के किसानों की कुछ अहम मांगों को लेकर भाजपा सांसद वरुण गांधी ने राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था।उत्तर प्रदेश में किसानों को कई राहत देने की मांग करते हुए भाजपा के सांसद वरुण गांधी ने राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र (Letter to UP CM Yogi Adityanath) लिखा था।

इसमें उन्होंने गन्ने की कीमतों में उल्लेखनीय वृद्धि करने, गेहूं और धान की सरकारी खरीद पर बोनस देने, प्रधानमंत्री किसान योजना की राशि दोगुनी करने और डीजल पर सब्सिडी देने की मांग की थी। योगी आदित्यनाथ को लिखे दो पन्नों के पत्र में पीलीभीत से लोकसभा सदस्य ने किसानों की समस्याओं और उनकी मांगों का उल्लेख किया था।

फोटो साभार-सोशल मीडिया
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर