Covid Vaccination: आज से 18 से 44 साल के लोगों का टीकाकरण शुरू, कई राज्यों ने कहा- अभी संभव नहीं, ये है वजह

Corona Vaccination Campaign: कई राज्यों द्वारा असमर्थता जताए जाने के बीच 1 मई से 18 से 44 आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण अभियान शु्रू हो रहा है।

Vaccination of 18-44 year old people started from May 01, Many states said not possible yet, this is the reason
18 साल से ऊपर के लोगों का टीकाकरण शु्रू  |  तस्वीर साभार: BCCL

नई दिल्ली : कोरोना के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए आज (01 मई) से 18 साल से अधिक उम्र के लोगों के वैक्सीन लगाने का काम शुरू हो रहा है। कई राज्यों ने अपने प्रदेश की जनता को फ्री वैक्सीन लगाने की बात कही है। हालांकि कुछ राज्यों ने 01 मई से टीकाकरण शुरू करने में असमर्थता जताई है। केंद्र सरकार ने इस बात पर जोर दिया कि किसी भी नए अभियान को शुरू करने पर उसके गति पकड़ने में वक्त लगता है और टीकाकरण अभियान का यह तीसरा चरण भी समय के साथ लय में आ जाएगा। दिल्ली, ओडिशा, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, और पंजाब समेत कुछ राज्यों का कहना है कि उनके पास पर्याप्त वैक्सीन नहीं हैं जिससे कि वे 18 से 44 आयु वर्ग के लिए टीकाकरण अभियान शुरू कर पाएं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि राज्य वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों से डोज की खरीद के लिए प्रयास कर रहे हैं और केंद्र जरूरी सहायता कर रहा है। उन्होंने कहा कि किसी भी नई कवायद या प्रक्रिया को गति पकड़ने में समय लगता है तथा धीरे-धीरे बढ़ोतरी होगी 

अपोलो अस्पताल 1 मई से शुरू करेगा टीकाकरण 

अपोलो अस्पताल समूह भारत में अपने सीमित केंद्रों पर एक मई से 18-44 आयु समूह के लोगों का कोविड रोधी टीकाकरण शुरू करेगा। अपोलो अस्पताल ने सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार विनिर्माताओं से सीधे टीके खरीदने के इंतजाम किए हैं। ग्रुप ने कहा कि केंद्र द्वारा 18 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण का मार्ग प्रशस्त किए जाने के बाद अपोलो अस्पताल कोविड-19 रोधी टीकाकरण के तीसरे चरण में टीकाकरण शुरू करने वाले उन निजी भारतीय अस्पतालों में से होगा जो पहले पहल इसकी शुरुआत कर रहे हैं।

उत्तराखंड में टीकाकरण अभी नहीं

उत्तराखंड में कोरोना वायरस रोधी टीका पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं होने के कारण प्रदेश में में 18-45 आयुवर्ग के लोगों का कोविड टीकाकरण शनिवार 01 मई से शुरू नहीं होगा। स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने संवाददाताओं को बताया कि प्रदेश में 18 से 45 वर्ष की आयु के लोगों का टीकाकरण शुरू होने की निश्चित तारीख अभी मुश्किल है लेकिन यह एक सप्ताह बाद ही यह शुरू हो पाएगा। उन्होंने कहा कि 18-45 आयुवर्ग के लिए 1,22,108 खुराकें कोविशील्ड एवं 42,370 खुराकें कोवैक्सीन की आपूर्ति जल्द केंद्र सरकार द्वारा की जाएगी। उन्होंने कहा कि हम वैक्सीन की निर्माता कंपनियों से लगातार सम्पर्क में हैं। उन्हें मांग दे दी गई है।'

पश्चिम बंगाल ने भी हाथ खड़े किए

पश्चिम बंगाल में कोविड-19 टीके की खुराक की कमी के कारण 01 मई से 18 से 44 साल के लोगों को टीकाकरण शुरू नहीं होगा। उन्होंने कहा कि 44 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण हालांकि, विभिन्न केंद्रों पर खुराक की उपलब्धता के आधार पर जारी रहेगा। पश्चिम बंगाल सरकार ने गुरुवार को केंद्र से मांग की कि राज्य के सरकारी और निजी अस्पतालों के लिए वैक्सीन की कम से कम तीन करोड़ खुराक उपलब्ध कराई जाए।

ओडिशा ने भी कहा- एक मई से संभव नहीं 

ओडिशा में 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण का तीसरा चरण 1 मई से शुरू नहीं होगा, क्योंकि यह पूरे राज्य में सप्ताहांत बंद का पहला दिन है और राज्य में टीकों की कमी है। अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य और परिवार कल्याण) पी के महापात्र ने यह नहीं बताया कि तीसरे चरण का टीकाकरण कब शुरू होगा। महापात्र ने कहा कि हमारे पास शनिवार को तीसरे चरण का टीकाकरण अभियान शुरू करने के लिए आवश्यक टीके नहीं हैं। साथ ही 1 मई और 2 मई को सप्ताहांत बंद के दो दिन हैं। इसलिए, राज्य तीसरे चरण की शुरुआत 1 मई या दो मई से नहीं कर सकता।

पंजाब ने भी टाला

पंजाब सरकार ने भी वैक्सीन की अनुपलब्धता के चलते 1 मई से टीकाकरण अभियान शुरू करने में असमर्थता जताई। सीएम अमरिंदर सिंह ने 18-45 आयु वर्ग के लोगों के लिए टीकाकरण का तीसरा चरण टाल दिया जो कि 1 मई को शुरू होने वाला था। सिंह ने स्पष्ट किया कि टीका उपलब्ध न होने के कारण, 18-45 आयु वर्ग के टीकाकरण के चरण तीन को निर्धारित समय पर शुरू नहीं किया जा सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि निजी स्वास्थ्य सुविधाओं पर सभी टीकाकरण 01 मई से निलंबित रहेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि चूंकि सभी निजी स्वास्थ्य सुविधाओं द्वारा अप्रयुक्त टीके शुक्रवार शाम तक भारत सरकार को वापस करने थे, इन इकाइयों के पास शुक्रवार से 45 से अधिक आयु के लोगों के लिए कोई टीके नहीं होंगे, जबकि वे 18-45 वर्ष आयु वर्ग को लगा सकते थे।


 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर