मुझे 'धमकाकर' अपना समय जाया कर रही योगी सरकार : प्रियंका गांधी

Priyanka Gandhi Vadra : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार उन्हें 'धमकाकर' अपना समय जाया कर रही है। कांग्रेस नेता ने कहा कि उनका काम सच्चाई सामने लाना है।

 UP govt wasting its time by threatening me through various depts: Priyanka Gandhi Vadra
प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर साधा निशाना।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • उत्तर प्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने कांग्रेस महासचिव को नोटिस जारी किया है
  • प्रियंका गांधी ने कहा कि उनका काम सच्चाई को सामने लाना है, वह अपना काम करेंगी
  • कानपुर शेल्टर होम मामले में कोविड-19 से संक्रंमित मिली हैं 57 लड़कियां

नई दिल्ली : कानपुर शेल्टर होम केस में उत्तर प्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग (यूपीसीपीसीआर) की तरफ से नोटिस मिलने के एक दिन बाद कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार अपने अलग-अलग विभागों के जरिए उन्हें 'धमकाकर' अपना समय जाया कर रही है। प्रियंका ने कहा कि उनका काम लोगों के सामने सच्चाई लाना है।

मेरा काम सच्चाई सामने लाना-प्रियंका
कांग्रेस नेता ने कहा, 'सार्वजनिक जीवन के लिए काम करने की वजह से मेरा कर्तव्य बनता है कि मैं उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए आवाज उठाऊं। मेरा काम लोगों तक सच्चाई सामने लाना है। सरकार को अपना प्रोपगैंडा आगे नहीं बढ़ाना चाहिए। यूपी सरकार अपने विभिन्न विभागों के जरिए मुझे धमकाकर अपना समय जाया कर रही है।' कांग्रेस नेता ने कहा कि वह आगे भी अपनी बात कहती रहेंगी क्योंकि वह विपक्ष अन्य प्रवक्ताओं की तरह नहीं हैं जो सरकार की भाषा बोलने लगे हैं।

'मैं इंदिरा गांधी की नतिनी'
प्रियंका ने कहा, 'जो उन्हें करना है, वे करें। मैं सच्चाई लोगों के सामने रखूंगी। मैं इंदिरा गांधी की नतिनी हूं न कि भाजपा की अघोषित प्रवक्ता जैसा कि कुछ विपक्ष के नेता हैं।' बता दें कि यूपीसीपीसीआर ने गुरुवार को प्रियंका गांधी को नोटिस जारी किया। इस नोटिस में प्रियंका से कानपुर शेल्टर होम केस के बारे में फेसबुक पर जो पोस्ट किया था उस पर 'शुद्धिपत्र' जारी करने के लिए कहा है। नोटिस में कहा गया है, 'गांधी ने यदि समय पर शुद्धिपत्र जारी नहीं किया तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।' 

शेल्टर होम में कोविड-19 से संक्रमित मिली हैं लड़कियां
बता दें कि कानपुर शेल्टर होम केस में प्रियंका ने गत 21 जून को राज्य सरकार पर हमला बोला था। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि इस तरह के मामलों में जांच के नाम पर तथ्यों को दबाया जा रहा है। सरकार की ओर से संचालित इस शेल्टर होम में करीब 57 लड़कियां कोविड-19 से संक्रमित पाई गई हैं। 

लड़कियां प्रेग्नेंट भी मिलीं
जिलाधिकारी बीआर तिवारी ने कहा, 'शेल्टर होम में कोविड-19 के 57 पॉजिटिव केस मिले। इन सभी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। इनमें से पांच लड़कियां प्रेग्नेंट हैं। इन लड़कियों को अलग-अलग जगहों से पॉक्सो केस में यहां लाया गया।'

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर