Weekend lockdown in UP: यूपी सरकार का बड़ा फैसला, हर शनिवार और रविवार को रहेगा लॉकडाउन

Weekend lockdown in Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में प्रत्येक शनिवार और रविवार को लॉकडाउन जारी रखने का फैसला किया है। इस दौरान जरूरी सेवाएं बहाल रहेंगी।

 UP government big decision every staurday and sunday lockdown
यूपी में अब हर शनिवार और रविवार को रहेगा लॉकडाउन।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • उत्तर प्रदेश में प्रत्येक शनिवार और रविवार को लागू रहेगा लॉकडाउन
  • प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण लाने के लिए उठाया गया कदम
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया है

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण पर नियंत्रण पाने के लिए राज्य सरकार ने बड़ा फैसला किया है। उत्तर प्रदेश में अब प्रत्येक शनिवार और रविवार को लॉकडाउन जारी रहेगा। इस दौरान सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान एवं दफ्तर बंद रहेंगे। हालांकि, मेडिकल सहित जरूरी सेवाओं के जारी रहने की अनुमति रहेगी। बता दें कि राज्य में गत शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक लॉकडाउन लागू है। योगी सरकार ने राज्य में सैनिटाइजेशन अभियान चलाने के लिए यह लॉकडाउन लागू किया है। समझा जाता है कि राज्य में पिछले दिनों में कोरोना मरीजों 'की संख्या में आई तेजी को देखते हुए लॉकडाउन दोबारा से लागू करने का फैसला किया गया है। 

सोमवार से शुक्रवार तक खुलेंगे बाजार एवं दफ्तर
इसका मतलब यह है कि राज्य में दफ्तर और बाजार सोमवार से लेकर शुक्रवार तक खुलेंगे। कार्यालय और बाजार शनिवार और रविवार को बंद रहेंगे। राज्य सरकार ने कोरोना से लड़ने की अपनी जंग और तेज कर दी है। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने प्रदेश में टेस्टिंग की संख्या 15 हजार से बढ़ाकर 20 हजार करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही राज्य में एंटीजन टेस्ट हर रोज किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने राज्य में प्रत्येक घर की मेडिकल स्क्रीनिंग करने के भी निर्देश दिए हैं। 

सीएम ने टेस्टिंग बढ़ाने पर दिया जोर
सीएम ने अपने एक ट्वीट में कहा, 'कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने का सबसे महत्वपूर्ण तरीका मेडिकल स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग है। सरकार ने घर-घर जाकर मेडिकल स्क्रीनिंग करने का निर्देश दिया है। यदि किसी में कोरोना का लक्षण दिखता है तो उसके नमूने की जांच की जाएगी। सभी लोग सावधान एवं सतर्क रहें।'

घर-घर होगी जांच
राज्य के मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने शनिवार को पत्रकारों को बातचीत में बताया, 'मेडिकल स्क्रीनिंग का कार्य करने के लिए 1.40 लाख से ज्यादा टीम का गठन किया गया है। मुख्यमंत्री ने टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया है। राज्य में आरटीपीसीआर के जरिए टेस्टिंग की संख्या प्रतिदिन 30 हजार हो गई है। अब 15 से 20 हजार प्रतिदिन एंटिजन टेस्ट किए जाएंगे। इसके अलावा ट्रूनेट मशीन से हर दिन 2,000 टेस्ट भी किए जाएंगे।'

राज्य में 35 हजार से ज्यादा केस
केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में कोविड के 35,092 पॉजिटिव केस हैं।  इनमें से 21,787 मरीजों को उपचार के बाद ठीक/डिस्चार्ज कर दिया गया है। इस महामारी से अब तक 889 लोगों की जान जा चुकी है। 

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर