अखिलेश के दावे पर योगी का पलटवार, कहा जब आप बिजली ही नहीं देते थे तो मुफ्ती की बात कहां से आयी

देश
भाषा
Updated Jan 01, 2022 | 23:41 IST

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने आज ही ऐलान किया था कि सत्ता में आने पर 300 यूनिट तक बिजली घरेलू उपभोक्ताओं को मुफ्त दी जाएगी तथा किसानों को भी यह लाभ दिया जाएगा।

UP Election 2022: Yogi Adityanath counters Akhilesh Yadav over free electricity promise
अखिलेश के मुफ्त बिजली के वादे पर सीएम योगी का पलटवार 
मुख्य बातें
  • अखिलेश यादव ने आज ही किया था 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली देने का ऐलान
  • अखिलेश के वादे पर सीएम योगी ने किया जोरदार पलटवार
  • योगी बोले- जब आप बिजली ही नहीं देते थे तो मुफ़्त की बात कहां

रामपुर/ लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शनिवार को समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के मुफ्त बिजली के दावे पर पलटवार करते हुए कहा कि ‘जब आप बिजली ही नहीं देते थे तो मुफ़्त की बात कहां। उल्‍टा जनता से जो वसूली करते थे उसके लिए माफी तो मांग लो।’
मुख्‍यमंत्री योगी ने शनिवार को भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) की जन विश्वास यात्रा की श्रृंखला में रामपुर जिले के मिलक तहसील के रठौंडा मैदान में 95 करोड़ रुपये की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ''उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में हमने बिजली पहुंचा दी है। अभी कुछ देर पहले पढ़ रहा था तो समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बबुआ आज कुछ बोल रहे थे और उनके मुंह से निकल रहा था कि सरकार आएगी तो हम मुफ्त बिजली देंगे।''

अखिलेश पर कटाक्ष

कटाक्ष करते हुए योगी ने कहा, ''अरे, जब आप बिजली ही नहीं देते थे तो मुफ़्त कहां से दे देंगे, उल्‍टा जनता से जो एकतरफा वसूली करते थे, उसके लिए माफी तो मांग लो।'' योगी ने कहा, ''आज हम कह सकते हैं कि उप्र में बिना भेदभाव के गरीब की झोपड़ी में भी और राजमहल में रहने वाले व्यक्ति के घर में भी बिजली हर समय जलती हुई दिखाई देती है।'' गौरतलब है कि नये साल के पहले दिन सपा अध्यक्ष यादव ने आज यहां लखनऊ में पार्टी मुख्यालय में कहा कि पार्टी के सत्ता में आने पर लोगों को 300 यूनिट घरेलू बिजली मुफ्त मिलेगी और सिंचाई बिल माफ किया जाएगा।

नव वर्ष के पहले दिन सपा सांसद मोहम्मद आजम खान के गृह जिले रामपुर में पहुंचे योगी ने केंद्र और राज्‍य सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए सपा की पूर्ववर्ती सरकारों पर जमकर हमला बोला किया और ‘रामपुरी चाकू‘ का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘हमने हर जिले को विशिष्ट पहचान दिलाने के लिए एक जनपद-एक उत्पाद (ओडीओपी) योजना शुरू की और 'रामपुर में बहुत खोजने के बाद भी कुछ नहीं मिला तो ‘रामपूरी चाकू‘ को ओडीओपी बनाया गया।'

रामपुरी चाकू

सपा का नाम लिए बिना उन्होंने कहा, 'यही रामपुरी चाकू जब उनके हाथ (सपा पर इशारा) में होता है तो गरीब की संपत्ति पर कब्जा होता है, व्यापारी से लूट होती है, लेकिन अच्छे लोगों के पास जब यही शस्त्र हो तो वह इससे धर्म-समाज-संस्कृति की रक्षा करते हैं और हम गुरु परंपरा को मानने वाले लोग हैं, यही रामपुरी चाकू आज जनपद का ओडीओपी है।' योगी ने कहा, 'रामभक्तों पर गोलियां चलाने वाले लोग आज कहते हैं कि अगर हम भी सत्ता में होते तो हम भी राम मंदिर बना देते, वैसे भी ‘बबुआ‘ को कब्रिस्तान बनाने से फुरसत होती तब न बनाते राम मंदिर। आखिर ये आपकी ताकत है, आपके वोट बैंक की ताकत इनको नाक रगड़ने के लिए मजबूर कर रही है।'

 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर