एकनाथ शिंदे को उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के सभी पदों से हटाया, बड़ी खबर

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एकनाथ शिंदे को सभी पदों से हटा दिया है। शिंदे पर आरोप लगाया है कि वो पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल थे।

Eknath Shinde, Uddhav Thackeray, Shiv Sena
एकनाथ शिंदे, शिवसेना के बागी नेता और महाराष्ट्र के सीएम 
मुख्य बातें
  • एकनाथ शिंदे गुट का दावा, 40 से अधिक शिवसेना विधायकों का समर्थन
  • चार जुलाई को शिंदे को हासिल करना है विश्वासमत
  • एकनाथ शिंदे गुट का बयान वो हैं असली शिवसैनिक

एकनाथ शिंदे, महाराष्ट्र के सीएम हैं और शिवसेना की नजर में बागी हैं। TIMES NOW नवभारत के साथ साक्षात्कार में कहा कि वो ही असली शिवसैनिक हैं लेकिन इन सबके बीच बड़ी खबर यह है कि उद्धव ठाकरे ने उन्हें पार्टी के सभी पदों से हटा दिया है।शिंदे को पार्टी से निकालने के पीछे तर्क दिया गया है कि वो पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल थे।  इससे पहले बागी खेमे के दीपक केसरकर ने कहा कि वो लोग उद्धव ठाकरे के खिलाफ कुछ नहीं बोलेंगे। समय आने पर जो भी गलतफहमियां हैं दूर हो जाएंगी।

बालासाहेब ठाकरे के विचारों की जीत हुई
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने इसे बालासाहेब ठाकरे की हिंदुत्व विचारधारा और आनंद ढिगे की शिक्षाओं की जीत बताते हुए कहा है कि अगर वे 'मातोश्री' जाते हैं तो लोगों को पता चल जाएगा।शिंदे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद गुरुवार देर रात वापस गोवा आए और पणजी के ताज होटल में बागी विधायकों के साथ शामिल हुए।शिवसेना के बागी विधायक, जिन्होंने उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया, वे गोवा में डेरा डालना जारी रखेंगे और फ्लोर टेस्ट से पहले वापस जा सकते हैं।

फ्लोर टेस्ट सिर्फ औपचारिकता होगी
शिंदे ने कहा कि चूंकि भाजपा और बागी मिलाकर 175 विधायक हैं, इसलिए फ्लोर टेस्ट सिर्फ एक औपचारिकता होगी और वे इसे आसानी से जीत लेंगे। उन्होंने कहा, 'हमारे पास 175 नंबर हैं, तस्वीर साफ है।'एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, समय आने पर लोगों को पता चल जाएगा कि मैं मातोश्री के दर्शन करने जा रहा हूं या नहीं।उन्होंने कहा, "यह जीत बालासाहेब ठाकरे की हिंदुत्व विचारधारा, आनंद ढिगे की शिक्षाओं और 50 विधायकों की एकता की है। इन विधायकों ने महाराष्ट्र में इतिहास रच दिया है। मैं उन्हें बधाई देता हूं।"

बालासाहेब के हिंदुत्व को बढ़ा रहे हैं आगे
शिंदे ने कहा, हालांकि भाजपा के पास 115 से 120 विधायक थे, उन्होंने मेरा समर्थन किया, मैं बड़े दिल से बालासाहेब का सैनिक हूं। इसलिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और देवेंद्र फडणवीस को भी धन्यवाद देता हूं।उन्होंने कहा, "उन्होंने मुख्यमंत्री बनने के लिए शिव सैनिक का समर्थन किया है। उन्होंने राज्य के विकास का रास्ता दिखाया है।'शिंदे ने कहा कि वह 50 विधायकों के निर्वाचन क्षेत्रों से संबंधित सभी मुद्दों को हल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं जो उनके साथ हैं।उन्होंने कहा, "मैं उनके मुद्दों का समाधान करूंगा। मेरे पास सभी रिकॉर्ड हैं। उनके निर्वाचन क्षेत्रों में विकास कार्यो को करने के लिए धन की कोई कमी नहीं होगी। मतदाताओं की इच्छाओं को पूरा करना मेरी जिम्मेदारी है। शिंदे ने कहा कि हम बालासाहेब के हिंदुत्व को आगे बढ़ा रहे हैं, यहां तक कि आनंद ने भी हमें अन्याय के खिलाफ लड़ना और इसके खिलाफ आवाज उठाना सिखाया है। हम शिवसैनिकों के रूप में काम करेंगे और अपने राज्य को समग्र विकास की ओर ले जाएंगे। सभी परियोजनाएं समय पर पूरी होंगी।

Exclusive: महाराष्ट्र के CM बनने के बाद एकनाथ शिंदे का पहला इंटरव्यू, बोले- हम गद्दार नहीं, असली शिव सैनिक हैं

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर