CAA: सीएए पर बीजेपी और टीएमसी आमने सामने, महुआ मोइत्रा बोलीं, कागज दिखाने से पहले दरवाजा दिखा देंगे

देश
ललित राय
Updated Oct 20, 2020 | 11:20 IST

पश्चिम बंगाल में एक रैली में बीजेपी के अध्यक्ष जे पी नड्डा ने सीएए का नारा बुलंद किया तो टीएमसी ने उन्हें अपने निशाने पर ले लिया। टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने ट्वीट के जरिए बीजेपी पर निशाना साधा।

CAA: सीएए पर बीजेपी और टीएमसी आमने सामने, महुआ मोइत्रा बोलीं, कागज दिखाने से पहले दरवाजा दिखा देंगे
महुआ मोइत्रा, टीएमसी सांसद 

मुख्य बातें

  • पश्चिम बंगाल की रैली में जे पी नड्डा का बयान, सीएए को जल्द लागू किया जाएगा
  • बीजेपी अध्यक्ष के इस बयान पर टीएमसी आगबबूला
  • टीएमसी सांसद बोलीं, कागज दिखाने से पहले दरवाजा दिखा देंगे

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को बंगाल की रैली में नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) को लेकर बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि सीएए को जल्द ही लागू कर दिया जाएगा। लेकिन उनके इस बयान पर टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी सुन ले, हम आपको कागज़ दिखाने से पहले ही दरवाजा दिखा देंगे। जे पी नड्डा ने कहा था कि दरअसल इस कानून से उन लोगों को परेशानी हो रही है जो तुष्टीकरण की राजनीति कर रहे हैं। उन लोगों को दिक्कत है जिन्हें अपनी जमीन खसकने का अंदेशा है। 

लॉकाडाउन की वजह से सीएए लागू करने में हुई देरी
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा था कि लॉकडाउन की वजह से सीएए लागू करने में देरी हुई। लेकिन अब इसे जल्द लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा था कि ममता बनर्जी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो अपनी पार्टी टीएमसी के राजनीतिक हितों के लिए राज्य में 'फूट डालो और राज करो' की राजनीति कर रही है। केंद्र सरकार की ओर से पिछले साल  सीएए कानून लाया गया था, इसके तहत अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से आने वाले हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई शरणार्थियों को भारत की नागरिका दी जा सकेगी। 


'बीजेपी कर रही है बवाल'
जे पी नड्डा के इस बयान के बाद टीएमसी खफा है। सांसद महुआ मोइत्रा ने साफ किया कि अगर कोई गफलत में जी रहा हो तो उसे वैसा करने का अधिकार है। लेकिन पश्चिम बंगाल में जनविरोधी कानून को लागू नहीं होने देंगे। दरअसल बीजेपी चुनाव जीतने के लिए किसी भी हथकंडे पर उतर सकती है। आज जब देश में इस विषय को लेकर किसी तरह की चर्चा नहीं है तो जानबूथकर बवाल पैदा किया जा रहा है। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर