Atal Tunnel: अटल टनल में 3 दिन में हुए 3 हादसे, पर्यटकों की लापरवाही आ रही सामने

Atal Tunnel: हिमाचल प्रदेश में बनी अटल टनल को अभी शुरू हुए 3 ही दिन हुए हैं, लेकिन 3 हादसे भी हो चुके हैं। इसके पीछ लोगों की लापरवाही सामने आ रही है। पर्यटक लापरवाही से ड्राइविंग कर रहे हैं, सेल्फी ले रहे हैं।

Atal Tunnel
अटल टनल 

मुख्य बातें

  • प्रधानमंत्री मोदी ने 3 अक्टूबर को किया अटल सुरंग का उद्घाटन
  • अटल सुरंग से मनाली और लेह के बीच की दूरी 46 किमी कम हो जाएगी
  • 9.02 किलोमीटर लंबी अटल सुरंग दुनिया की सबसे लंबी सुरंग है

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 अक्टूबर को हिमाचल प्रदेश के रोहतांग में 10 हजार फीट की ऊंचाई पर निर्मित अटल सुरंग का उद्घाटन किया। इस टनल से मनाली और लेह के बीच की दूरी 46 किमी कम हो गई है और यात्रा का समय चार से पांच घंटे तक कम हो गया है। आम लोगों के लिए टनल खुलने के बाद से पर्यटकों द्वारा लापरवाही से गाड़ी चलाने के कई उदाहरण देखे गए हैं। इस वजह से यहां 3 दिन में 3 हादसे हुए हैं।

मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि सीमा सड़क संगठन (BRO) और जिला प्राधिकरण सैकड़ों पर्यटकों और चालकों द्वारा नई सुरंग में अधिक गति के साथ वाहनों को चलाने को लेकर चिंताओं का सामना कर रहे हैं।

ब्रिगेडियर केपी पुरुषोत्तमन, बीआरओ के मुख्य अभियंता ने बताया कि तीन अक्टूबर को प्रधानमंत्री द्वारा सुरंग का उद्घाटन किए जाने के बाद एक ही दिन में तीन दुर्घटनाएं हुईं। यातायात नियमों की पूरी अवहेलना करते हुए पर्यटक और मोटर चालक सवारी करते हुए सेल्फी क्लिक कर रहे थे। बीआरओ के अधिकारी ने कहा कि अटल सुरंग में किसी को भी अपना वाहन खड़ा करने की अनुमति नहीं है।

इस मुद्दे पर बीआरओ अधिकारी ने कहा कि उन्होंने दुर्घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस की तैनाती के लिए अनुरोध किया है। ब्रिगेडियर केपी पुरुषोत्तमन ने कहा, 'एक बार उद्घाटन समारोह समाप्त हो जाने के बाद ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की तैनाती कम हो गई है, जिसके परिणामस्वरूप पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के पर्यटकों द्वारा अराजकता और रैश ड्राइविंग की गई।' 

कुल्लू के एसपी गौरव सिंह ने आउटलुक को बताया कि पुलिस ने अटल टनल में लापरवाह ड्राइविंग और ओवर स्पीडिंग पर अंकुश लगाने के लिए कदम उठाए हैं। इस बीच जनजातीय मामलों के मंत्री डॉ. राम लाल मारकंडा ने जिला प्रशासन से तत्काल कार्रवाई करने को कहा है। 

2002 में रखी थी आधारशिला

इस बीच बीआरओ के एक अधिकारी ने कहा कि सुरंग सुबह 9-10 बजे और शाम 4-5 बजे तक जनता के लिए बंद रहेगी। मनाली को लाहौल-स्पीति घाटी से जोड़ने वाली 9.02 किलोमीटर लंबी अटल सुरंग दुनिया की सबसे लंबी राजमार्ग सुरंग है। अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने रोहतांग दर्रे के नीचे सामरिक रूप से महत्वपूर्ण इस सुरंग का निर्माण कराने का निर्णय किया था और सुरंग के दक्षिणी पोर्टल पर संपर्क मार्ग की आधारशिला 26 मई 2002 को रखी गई थी। मोदी सरकार ने दिसंबर 2019 में पूर्व प्रधानमंत्री के सम्मान में सुरंग का नाम अटल सुरंग रखने का निर्णय किया था।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर