गुरुग्राम में टिड्डियों के झुंड का हमला, दिल्ली हाई अलर्ट, मंत्री गोपाल राय ने बुलाई बैठक

देश
लव रघुवंशी
Updated Jun 27, 2020 | 13:59 IST

Swarms of locusts: दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम और फरीदाबाद में टिड्डियों के दल ने हमला कर दिया है। इसे लेकर दिल्ली में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। मंत्री गोपाल राय ने आपात बैठक बुलाई है।

Swarms of locusts
गुरुग्राम में टिड्डियों का हमला 

मुख्य बातें

  • गुरुग्राम पहुंचा टिड्डी दल, कई जगह आसमान में दिखाई दिए
  • गुरुग्राम में टिड्डी दल के हमले के बाद स्थिति पर चर्चा करने के लिए आपात बैठक बुलाई है: गोपाल राय
  • लोगों ने टिड्डियों के पेड़-पौधों पर और मकानों की छतों पर छा जाने के वीडियो साझा किए

नई दिल्ली: हरियाणा के गुरुग्राम में टिड्डी दल ने हमला कर दिया है। टिड्डियों का विशाल झुंड शनिवार को गुड़गांव पहुंच गया। गुरुग्राम के कई इलाकों में टिड्डियों का झुंड दिखाई दिया। इसे लेकर दिल्ली के साथ-साथ आसपास के जिलों में भी हाई अलर्ट जारी किया गया है। जैसे ही टिड्डियों का दल गुरुग्राम पहुंचा, ऊंची-ऊंची इमारतों के निवासियों ने इनकी तस्वीरें और वीडियो शेयर करना शुरू कर दिया। 

यहां तक कि गुड़गांव के व्यस्त एमजी रोड और इफको चौक इलाकों को भी टिड्डियों के झुंड ने ढंक दिया। डीएलएफ फेज I-IV, ग्राम चक्करपुर, सिकंदरपुर और सुखराली इलाके भी टिड्डियों का झुंड पहुंचा। हरियाणा के फरीदाबाद में भी ये झुंड पहुंच गया है। झज्जर में स्थानीय लोगों ने झुंडों को खदेड़ने के लिए ढोल पीटा, जबकि जिला प्रशासन सायरन का इस्तेमाल कर रहा है। गुड़गांव में भी स्थानीय लोगों ने बर्तन, टिन, पटाखे फोड़े ताकि शोर कर टिड्डों के झुंड को डराया जा सके और उन्हें भगाया जा सके।

इसे देखते हुए दिल्ली से सटे जिलों में जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। दिल्ली के दक्षिण पश्चिम जिले के ग्रामीणों को इससे निपटने के लिए कुछ दिनों पहले प्रशिक्षित किया गया था। दक्षिण पश्चिम जिला मजिस्ट्रेट ने कहा है कि वे तीन दिनों के लिए इस क्षेत्र में संभावित टिड्डी हमले से अवगत थे और उन्होंने स्थानीय क्षेत्रों में अलर्ट जारी किया है। 

गोपाल राय ने बुलाई बैठक

गुरुग्राम-द्वारका एक्सप्रेसवे के साथ-साथ हवाईअड्डे के पास के इलाकों में टिड्डियों के हमले को देखते हुए दिल्ली एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) ने सभी एयरलाइनों के पायलटों को लैंडिंग के दौरान आवश्यक सावधानी बरतने को कहा है। निगरानी टीम ने मामले की जांच की। संचालन अब तक सामान्य है। वहीं राष्ट्रीय राजधानी में संभावित टिड्डी हमले को लेकर दिल्ली के श्रम और विकास मंत्री गोपाल राय ने आज एक आपात बैठक बुलाई है। विकास सचिव, संभागीय आयुक्त, कृषि निदेशक और जिला मजिस्ट्रेट भी उपस्थित रहेंगे। 

दिल्ली को मिलेगी राहत!

टिड्डी दल देश के अनेक हिस्सों में कहर मचा चुका है। हालांकि कहा जा रहा है कि फिलहाल इनके राष्ट्रीय राजधानी का रुख करने के आसार नहीं है। करीब दो किलोमीटर में फैले टिड्डी दल उपनगरीय शहर को पार करते हुए दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर पहुंचे लेकिन दिल्ली का रुख नहीं किया। टिड्डी चेतावनी संगठन, कृषि मंत्रालय से जुड़े के एल. गुर्जर ने 'पीटीआई-भाषा' से कहा, 'टिड्डी दल पश्मिच से पूर्व की ओर आए हैं। इन्होंने ने पूर्वाह्न लगभग 11.30 बजे गुरुग्राम में प्रवेश किया।' उन्होंने बताया कि टिड्डी दल बाद में हरियाणा के पलवल की ओर बढ़ गए।

गौरतलब है कि मई में देश में टिड्डी दलों ने पहले राजस्थान में हमला किया। इसके बाद इन्होंने पंजाब, गुजरात, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में फसलों को नुकसान पहुंचाया।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर