National Herald Case:सोनिया गांधी ने ED से पेशी के लिए मांगी मोहलत, डेट कुछ हफ्ते आगे बढ़ाने का किया अनुरोध

Sonia Gandhi ED questioning:सोनिया गांधी  ने बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय  से अनुरोध किया कि उनकी पेशी की तारीख कुछ हफ्तों के लिए आगे बढ़ा दी जाए।

Sonia Gandhi ED questioning
सोनिया गांधी को ईडी ने 'नेशनल हेराल्ड' समाचार पत्र से जुड़े मामले में 23 जून को तलब किया है 

 National Herald case Update: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi)ने बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) से आग्रह किया कि उनकी पेशी की तारीख कुछ हफ्तों के लिए आगे बढ़ा दी जाए।पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट कर यह जानकारी दी।उन्होंने कहा, 'सोनिया गांधी को कोविड और फेफड़े में संक्रमण के चलते अस्पताल में भर्ती होने के बाद चिकित्सकों ने अब घर पर आराम की सलाह दी है। ऐसे में कांग्रेस अध्यक्ष ने आज ईडी को पत्र लिखकर कहा कि उनकी पेशी की तिथि को अगले कुछ हफ्तों के लिए बढ़ा दिया जाए जब तक वह पूरी तरह स्वस्थ न हो जाएं।'

सोनिया गांधी को ईडी ने 'नेशनल हेराल्ड' समाचार पत्र से जुड़े कथित धनशोधन के मामले में 23 जून को तलब किया है। कोविड-19 से जुड़़ी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के चलते सोनिया को हाल ही में दिल्ली के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से उन्हें सोमवार की शाम छुट्टी मिली।

अस्पताल से छुट्टी के बाद बेड रेस्ट की सलाह के चलते कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी कुछ हफ्ते और ईडी के सामने पेश नहीं हो सकती हैं, कांग्रेस अध्यक्ष ने ईडी को पत्र लिखकर अपने पूरी तरह ठीक होने तक उपस्थिति को स्थगित करने का अनुरोध किया है जयराम रमेश ने ये जानकारी दी।

इसी मामले में ईडी ने राहुल गांधी से पांच दिनों में 50 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की व इस दौरान धन शोधन रोकथाम अधिनियम (PMLA) के तहत उनके बयान दर्ज किये गए। कांग्रेस ने ईडी की कार्रवाई को भाजपा नीत केंद्र सरकार की विपक्षी नेताओं के खिलाफ बदले की राजनीति करार दिया है।

वहीं सूत्रों के मुताबिक कहा जा रहा है कि प्रवर्तन निदेशालय ने नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के सम्मन को आज के लिए टालने का लिखित अनुरोध स्वीकार कर लिया है। एजेंसी ने उन्हें नए समन की अगली तारीख अभी तय नहीं की है।

'2004 से कांग्रेस के लिए काम कर रहा हूं, सब्र करना वहीं से सीखा'

नेशनल हेराल्ड केस में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी से ईडी के अधिकारियों ने कई दौर की पूछताछ की। बताया जा रहा है कि ईडी के कुछ सवालों पर वो असहज हुए। लेकिन उन्होंने खुद चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि पूछताछ करने वाले भी इस बात को समझ गए कि कांग्रेस के नेता डर नहीं सकते हैं। उन्होंने कहा कि ईडी तलब कर रही थी। ईडी अधिकारी मुझसे 11 घंटे से ज्यादा समय तक पूछताछ करते थे। जब मुझसे पूछा गया कि मुझमें इतना सब्र कैसे है, तो मैंने उनसे कहा कि मैं 2004 से कांग्रेस में काम कर रहा हूं। मैंने सब्र रखना सीखा है.. सचिन पायलट से पूछ सकते हैं।

राहुल बोले-'हमारे पास धैर्य की कोई कमी नहीं' 

राहुल गांधी ने कहा कि सच्चाई सामने आ ही जाएगी, हमारे पास धैर्य की कोई कमी नहीं है। सच तो यह है कि पीएम मोदी ने इस देश की रीढ़ तोड़ दी है। यह देश अपने लोगों को रोजगार नहीं दे पाएगा। मोदी ने देश को 2-3 करोड़पति दिए हैं। बलों के लिए YouTube के लिए आखिरी रास्ता बचा है, उसे बंद कर दिया गया है। वे वन रैंक वन पेंशन के बारे में बात करते थे, अब यह नो रैंक नो पेंशन है जब आप सेना से (सेवानिवृत्त) घर वापस जाएंगे तो आपको कोई रोजगार नहीं मिलेगा।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर