भारत में अगले महीने लॉन्च होगी सिंगल डोज स्पुतनिक लाइट कोविड वैक्सीन, 80 प्रतिशत तक है प्रभावी

सिंगल डोज वाली कोविड-19 वैक्सीन स्पुतनिक लाइट भारत में दिसंबर महीने में लॉन्च की जाएगी। अभी क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है।

Single dose Sputnik Light Covid 19 vaccine
सिंगल डोज वाली कोविड-19 वैक्सीन स्पुतनिक लाइट  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • सिंगल डोज वाली कोविड-19 वैक्सीन स्पुतनिक लाइट का क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है।
  • स्पुतनिक लाइट 79.4 प्रतिशत तक प्रभावी है।
  • स्पुतनिक लाइट गंभीर बीमार खिलाफ भी बहुत अधिक प्रभावशाली है।

नई दिल्ली: रूस के प्रत्यक्ष निवेश कोष (RDIF) के सीईओ किरिल दिमित्रीव ने बुधवार (24 नवंबर) को कहा कि सिंगल डोज वाली कोविड-19 वैक्सीन स्पुतनिक लाइट दिसंबर तक भारत में लॉन्च की जाएगी। एक शॉट वाली रूसी COVID वैक्सीन का अभी क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है।

पिछले महीने, आरडीआईएफ ने कहा था कि स्पुतनिक लाइट टीकाकरण के बाद पहले तीन महीनों के दौरान कोरोना वायरस के डेल्टा वैरिएंट के संक्रमण के खिलाफ 70 प्रतिशत प्रभावशाली है। आरडीआईएफ ने एक बयान में कहा कि 60 साल से कम उम्र के लोगों में यह टीका 75 प्रतिशत से अधिक प्रभावी है। स्पुतनिक लाइट गंभीर बीमार खिलाफ भी बहुत अधिक प्रभावशाली है।

सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन के तहत सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (SEC) ने सितंबर में रूस के COVID-19 वैक्सीन के तीसरे चरण के क्लिनिकल टेस्ट के संचालन की सिफारिश की थी।

5 दिसंबर, 2020 और 15 अप्रैल, 2021 के बीच रूस के सामूहिक टीकाकरण कार्यक्रम के हिस्से के रूप में इंजेक्शन दिए जाने के 28 दिनों के बाद के विश्लेषण किए गए आंकड़ों के अनुसार, स्पुतनिक लाइट ने 79.4 प्रतिशत की प्रभावशीलता दिखाई।

कई दो-खुराक वाली वैक्सीन की तुलना में करीब 80 प्रतिशत का प्रभावी स्तर अधिक है। आरडीआईएफ की एक प्रेस विज्ञप्ति में 6 मई को कहा गया था कि स्पुतनिक लाइट कोरोनो वायरस के सभी नए उपभेदों के खिलाफ प्रभावी साबित हुआ है, जैसा कि प्रयोगशाला परीक्षणों के दौरान गमलेया केंद्र द्वारा प्रदर्शित किया गया था।

आरडीआईएफ के अनुसार, अन्य 30 देशों में चल रही पंजीकरण प्रक्रियाओं के साथ, 15 से अधिक देशों में वन-शॉट वैक्सीन अधिकृत है। आरडीआईएफ के सीईओ ने पहले कहा था कि मौजूदा हर्ड इम्युनिटी को बनाए रखने के लिए स्पुतनिक लाइट को बूस्टर शॉट के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर