नक्‍सलियों की गोली से बहने लगा साथी का खून तो सिख जवान ने उतार दी पगड़ी, पैर में बांधकर यूं बचाई जान

नक्‍सल हमले के दौरान एक सिख जवान ने अपने साथी की जान बचाने के लिए धार्मिक रूप से अहम मानी जाने वाली पगड़ी उतार दी और उसे घायल जवान के पैर पर बांध दिया, ताकि खून बहने से रोका जा सके।

नक्‍सलियों ने शनिवार को छत्‍तीसगढ़ में सुरक्षा बलों पर हमला कर दिया था
नक्‍सलियों ने शनिवार को छत्‍तीसगढ़ में सुरक्षा बलों पर हमला कर दिया था  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्‍ली : छत्‍तीसगढ़ के सुकमा में शनिवार को सुरक्षा बलों पर घात लगाकर किए गए नक्‍सल हमले का सुरक्षा बलों ने जिस हिम्मत और साहस से मुकाबला किया, उसे देश हमेशा याद रखेगा। नक्‍सलियों के हमलों के दौरान जवानों ने किस तरह एक-दूसरे की मदद की, वह भी एक मिसाल है। इसी क्रम में एक सिख जवान ने अपने साथी की जान बचाने के लिए जो कुछ भी किया, आज उसकी हर तरफ चर्चा है।

नक्‍सलियों ने सुरक्षा बलों के जिस काफ‍िले पर हमला किया था, उसमें सीआरपीएफ की कमांडो बटालियन फॉर रिजॉल्‍यूट एक्‍शन (CoBRA) के बलराज सिंह भी शामिल थे। उन्‍होंने जैसे ही देखा कि उनके साथी सब-इंस्‍पेक्‍टर अभिषेक पांडे को गोली लगी है और उनके पैर से लगातार खून निकल रहा है, उन्‍होंने तुरंत अपनी पगड़ी उतारकर उसे साथी जवान के पैर पर बांध दिया, ताकि खून को बहने से रोका जा सके।

यूं बचाई साथी की जान

हालांकि कुछ ही देर बाद बलराज सिंह को भी पेट के पास गोली लगी। फिलहाल दोनों जवानों का इलाज रायपुर के अस्‍पताल में हो रहा है। उन्‍होंने बताया कि सुरक्षा बलों के काफ‍िले में जो फर्स्‍ट-एड करने वाला शख्‍स था वह स्‍पेशल टास्‍क फोर्स के जवानों को प्राथमिक उपचार मुहैया करा रहा था और ऐसे में उन्‍होंने साथी जवान के पैर से खून निकलने से रोकने के लिए अपनी पगड़ी उतारकर उसे सहकर्मी के पैर पर बांधने का फैसला किया।

छत्‍तीसगढ़ में सुकमा और बीजापुर जिलों के बॉर्डर पर हुए नक्‍सल हमले को याद करते हुए उन्‍होंने बताया कि गोलीबारी लगभग 5 घंटे तक चली, जिस दौरान नक्‍सली यूबीजीएल और मोर्टार का भी इस्‍तेमाल करते देखे गए। उन्‍होंने कहा कि सुरक्षा बलों की कार्रवाई में नक्‍सलियों को भी अच्‍छा-खासा नुकसान हुआ। घात लगाकर किए गए हमलों के बावजूद सुरक्षा बलों ने बहादुरीपूर्वक उनका मुकाबला किया और उन्‍हें खदेड़ने में कामयाब रहे।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर