Presidential election: राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी को शरद पवार की 'ना', विपक्ष को झटका

Presidential election news: राष्ट्रपति चुनाव पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 15 जून को दिल्ली में विपक्ष के नेताओं के साथ बैठक करने वाली हैं। इस बैठक में राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार के नाम पर चर्चा होने की उम्मीद है।

Sharad Pawar no to presidential candidature, jolt to opposition unity
जुलाई महीने में होंगे राष्ट्रपति चुनाव।  |  तस्वीर साभार: PTI

नई दिल्ली : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के मुखिया शरद पवार ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारी पर अपने नाम पर हो रही चर्चा पर एक तरह से विराम लगा दिया है। सोमवार को पार्टी कैबिनेट की हुई बैठक में पवार ने कहा कि 'मैं रेस में नहीं हूं। राष्ट्रपति पद के लिए मैं विपक्ष का उम्मीदवार नहीं बनूंगा।' बता दें कि सियासी गलियारी में ऐसी चर्चा है कि विपक्ष की ओर से शरद पवार को उम्मीदवार बनाए जाने पर चर्चा चल रही है। राकांपा की प्रमुख की 'ना' से विपक्ष की तैयारी को एक झटका लगा है। 

रविवार को पवार से मिले संजय सिंह
एनसीपी नेता का यह बयान ऐसे समय आया है जब महाराष्ट्र कांग्रेस ने एक दिन पहले राष्ट्रपति पद के लिए उनकी उम्मीदवारी का समर्थन किया। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने भी रविवार को उनसे मुलाकात की। एनसीपी के एक नेता ने कहा कि राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी पर विपक्ष के बीच आम राय बनाने के लिए अन्य दलों के साथ पवार बातचीत करेंगे। एनसीपी के एक सूत्र ने कहा कि राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के लिए गुलाम नबी आजाद एक विपक्ष के बीच एक स्वीकार्य पसंद बन सकते हैं। 

कोविंद को दोबारा उम्मीदवार बना सकती है भाजपा
टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक इस बैठक में पवार ने कहा, 'यह बात जाहिर है कि नंबर अपने पक्ष में न होने के बावजूद विपक्ष अपना उम्मीदवार उतारेगा। लोकसभा में भाजपा के पास अकेले 300 सदस्य हैं। यह बहुत बड़ी संख्या है।' एनसीपी के एक नेता का कहना है कि राष्ट्रपति चुनाव में अपने उम्मीदवार को जिताने के लिए भाजपा वाईएसआर कांग्रेस एवं बीजद पर निर्भर होगी। राष्ट्रपति चुनाव में ये दोनों दल या तो तटस्थ रहेंगे या एनडीए के पक्ष में मतदान करेंगे। चर्चा यह भी है कि इस पद के लिए एनडीए रामनाथ कोविंद को दूसरी बार अपना उम्मीदवार बना सकता है। सूत्रों का कहना है कि उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू को भी उम्मीदवार बनाकर भाजपा चौंका सकती है। 

Presidential Election of India 2022: राष्ट्रपति चुनाव में क्या करेगा बिखरा हुआ विपक्ष ?

दिल्ली में बैठक करने वाली हैं ममता बनर्जी
राष्ट्रपति चुनाव पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 15 जून को दिल्ली में विपक्ष के नेताओं के साथ बैठक करने वाली हैं। इस बैठक में राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार के नाम पर चर्चा होने की उम्मीद है। सूत्र का कहना है कि यदि जरूरत पड़ी तो भाजपा के खिलाफ विपक्ष का एक मजबूत उतारने में राकांपा प्रमुख ममता बनर्जी की मदद करेंगे। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर