Visakhapatnam HPCL plant: गर्मी की वजह से HPCL प्लांट पर छाया धुएं का गुबार, दहशत में लोग घरों से बाहर निकले

विशाखापत्तनम में एक बार फिर लोग दहशत में आ गए। दरअसल तापमान में बदलाव की वजह से एचपीसीएल प्लांट पर धुएं का गुबार छा गया और लोगों को लगा कि शायद एक बार फिर गैस लीक हो गई है।

Visakhapatnam HPCL plant: गर्मी की वजह से HPCL प्लांट के पर छाया धूएं गुबार, दहशत में लोग घरों से बाहर निकले
धुएं के गुबार से विशाखापत्तनम में लोग दहशत में आए 

मुख्य बातें

  • विशाखापत्तनम में एचपीसीएल प्लांट पर धुएं का गुबार, लोग डरे
  • तापमान में बदलाव की वजह से छाया धुआं
  • एचपीसीएल प्लांट की तरफ से आई सफाई, डरने की कोई बात नहीं

नई दिल्ली। गुरुवार दोपहर को विशाखापत्तनम में एक बार फिर अफरातफरी मच गई। दरअसल एचपीसीएल प्लांट पर धुएं का गुबार देखा गया जिसके बाद लोग डर गए। बाद में पता चला कि डरने की कोई वजह नहीं है। तापमान में बदलाव की वजह से इस तरह की तस्वीर सामने आई। प्लांट पर तैनात अधिकारियों का कहना है कि तापमान में बदलाव की वजह से इस तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जाहिर है कि हाल ही में एलजी पॉलीमर प्लांट से गैस लीक हुई थी लोग डर गए।

पुलिस का क्या है कहना

विशाखापत्तनम पुलिस का कहना है कि मामले की जांच जारी है। अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगा कि इसके लिए कौन जिम्मेदार है। यह किसी मानवीय चूक का नतीजा है। या तकनीकी वजह से प्लांट से धुआं उठा। यह बात सच है कि प्लांट से धुआं उठने के बाद लोग दहशत में आ गए। लेकिन तत्काल दमकल गाड़ियों और विशेषज्ञों की मदद से हालात पर काबू पाया गया। 


एलजी पॉलीमर की याद हुई ताजा

दरअसल लोगों के लिए डरने की वजह थी। क्योंकि हाल ही में जिस तरह से विशाखापत्तनम के बाहरी इलाके में स्टाइरीन गैस का रिसाव हुआ था उसकी वजह से लोग और खौफजदा हो गए। दरअसल लोग रात में चिंतामुक्त होकर सो रहे थे। उन्हें क्या पता था कि गैस लीक के रूप में तबाही की दस्तक होने वाली है। ज्यादातर लोग अपने घरों में बेहोश पाए गए। कुछ लोग तो ऐसे भी थे कि जो किसी तरह मोटरसाइकिल से अस्पताल की तरफ भागे लेकिन वो रास्ते में गिर पड़े। इस हादसे ने 1984 के भोपाल गैस कांड की याद दिला दी। 

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर