September 20: 1831 में आज के दिन बनी थी पहली भाप की बस, 30 यात्रियों की थी क्षमता

देश
भाषा
Updated Sep 20, 2020 | 05:30 IST

September 20: 1831 में ब्रिटेन के गोर्डन ब्रान्ज ने आज ही के दिन भाप से चलने वाली पहली बस बनाई थी । धीमी गति से चलने वाली इस बस में एक वक्त में 30 यात्री सवारी कर सकते थे।

steam bus
भाप से चलने वाली बस 

मुख्य बातें

  • 1857 में ब्रिटिश सैनिकों ने विद्रोहियों से दिल्ली को मुक्त कराकर फिर उस पर कब्जा किया
  • 2001 में अमेरिका ने 150 लड़ाकू विमान खाड़ी में उतारे

नई दिल्ली: आज दुनियाभर में बसें परिवहन का सबसे लोकप्रिय माध्यम हैं। तरह तरह की आरामदायक और सुविधासंपन्न बसें दुनिया के विभिन्न शहरों में इधर से उधर भागती दिखाई देती हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि फिलहाल पेट्रोल और डीजल से चलने वाली बसें पहले पहल भाप से चला करती थीं। दरअसल 1831 में ब्रिटेन के गोर्डन ब्रान्ज ने आज ही के दिन भाप से चलने वाली पहली बस बनाई थी । धीमी गति से चलने वाली इस बस में एक वक्त में 30 यात्री सवारी कर सकते थे। देश दुनिया के इतिहास में 20 सितंबर की तारीख में दर्ज अन्य घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:-

1388 : दिल्ली के सुल्तान फिरोज तुगलक तृतीय का निधन।
1831 : भाप से चलने वाली पहली बस बनाई गई।
1856 : भारत के महान संत एवं समाज सुधारक श्री नारायण गुरु का जन्म।
1857 : ब्रिटिश सैनिकों ने विद्रोहियों से दिल्ली को मुक्त कराकर फिर उस पर कब्जा किया।
1878 : मद्रास के अखबार द हिंदू के साप्ताहिक संस्करण का प्रकाशन शुरू। जी. एस. अय्यर इसके संपादक थे।
1933 : सामाजिक कार्यकर्ता और भारत की स्वतंत्रता के लिए कार्य करने वाली अंग्रेज महिला एनी बेसेंट का निधन।
1942 : भारतीय महिला स्वतंत्रता सेनानी कनकलता बरुआ का निधन।
1949 : प्रसिद्ध फिल्म निर्माता निर्देशक महेश भट्ट का जन्म।
1983 : एप्पल उपग्रह ने कार्य करना बंद किया।
1999 : तमिल सिनेमा की स्वप्न सुंदरी के नाम से प्रसिद्ध अभिनेत्री राजकुमारी का निधन। उनकी फिल्म हरिदास 114 सप्ताह तक चेन्नई के सिनेमाघर में चली थी।
2001 : अमेरिका ने 150 लड़ाकू विमान खाड़ी में उतारे।
2006 : ब्रिटेन के रॉयल बॉटैनिक गार्डन्स के वैज्ञानिकों को 200 वर्ष पुराने बीज उगाने में कामयाबी मिली।
2018 : भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और विश्व चैंपियन भारोत्तोलक मीराबाई चानू को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार देने की घोषणा।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर