समाजवादी पार्टी सांसद शफीकुर रहमान बर्क की सलाह, आओ भगवान की पूजा करें और कोरोना को दें मात

देश
ललित राय
Updated Jul 22, 2020 | 00:49 IST

Corona Vaccine: समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर रहमान ने कोरोना के मुद्दे पर अपने राजनीतिक ज्ञान का प्रदर्शन किया है। वो कहते हैं कि हमारे पापों की सजा है कोरोना और सिर्फ भगवान की पूजा ही उबार सकती है।

समाजवादी पार्टी सांसद शफीकुर रहमान बर्क की सलाह, आओ भगवान की पूजा करें और कोरोना को दें मात
शफीकुर रहमान, संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद 

मुख्य बातें

  • समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर रहमान बर्क की सलाह, कोरोना वायरस पूजा पाठ से ही भागेगा
  • हम लोगों के पापों का नतीजा है कोरोना वायर, वैक्सीन का ना मिलना इसका एक उदाहरण
  • पूजा पाठ से ही भागेगा कोरोना लिहाजा मस्जिदों और ईदगाह को खोल देना चाहिए

नई दिल्ली। देश में कोरोना के मामले साढ़े 11 लाख के करीह हैं। पूरे देश को एक अदद दवा या वैक्सीन का इंतजार है कि इस महामारी से आजादी मिले और सबकुछ पहले की तरह सामान्य हो। इस विषय पर डॉक्टरों और वैज्ञानिकों के साथ साथ नेता भी विचार रख रहे हैं। कुछ लोगों को लगता है कि वैक्सीन ही इलाज है। लेकिन कुछ लोग इस तरह के विचार से इत्तेफाक नहीं रखते, संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर रहमान बर्क एक हैं। 

समाजवादी पार्टी के सांसद की सलाह
शफीकुर रहमान कहते हैं कि अब तक कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कारगर वैक्सीन नहीं मिली है, इसका अर्थ यह है कि यह रोग नहीं बल्कि हमारे पापों की भगवान द्वारा दी गई सजा है। कोरोना का सबसे इलाज यह है कि हम भगवान की पूजा करें। उन्होंने कहा कि हम लोग हर रोज खबर सुनते हैं कि वैक्सीन आ गई या आने वाली है। लेकिन पुख्ता तौर पर कोई कुछ भी कह पाने के हालात में नहीं है ऐसे में रास्ता क्या है। 

मस्जिद खोलने की मांग 
सांसद जी यही नहीं रुके। उन्होंने कहा कि बकरीद के मौके पर बाजारों को खोल देना चाहिए ताकि लोग जानवारों की खरीद कर सकें। मस्जिदों और ईदगाह को खोल देना चाहिए ताकि लोग नमाज अता कर कोरोना को भगा सकें। वो कहते हैं कि जब साइंस अपने मकसद को हासिल करने में नाकाम रहता है तो आस्था ही सबसे बड़ा हथियार होता है। यह समझना जरूरी है कि कहीं न कहीं आदम जात से कुछ गलतियां हुई होंगी और उसका नतीजा हम सभी भुगत रहे हैं। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर