कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए जरूरी है रजिस्ट्रेशन, जानें किन डॉक्यूमेंट्स की पड़ेगी जरूरत

देश
लव रघुवंशी
Updated Jan 04, 2021 | 17:43 IST

Coronavirus vaccine registration: कोरोना वायरस वैक्सीन के लिए किसी को भी रजिस्ट्रेशन करना आवश्यक है। इसके लिए दस्तावेज की जरूरत पड़ेगा।

vaccine
कोरोना वायरस टीकाकरण  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • पहले चरण मं 30 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी
  • सबसे पहले हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगेगी वैक्सीन
  • Co-Win ऐप पर होगा वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन

क्या एक आम आदमी को कोरोना वायरस वैक्सीन लगवाने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होगा? जी हां, टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन जरूरी है। साथ ही पंजीकरण के लिए दस्तावेज की भी जरूरत पड़ेगी। यहां हम आपको बता रहे हैं कि रजिस्ट्रेशन के लिए आपके पास कौन से दस्तावेज होने चाहिए। कोविड 19 वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन के समय आपके पास नीचे दिए गए डॉक्यूमेंट्स में से कोई भी एक होना चाहिए।

  1. आधार/ड्राइविंग लाइसेंस/वोटर आईडी/पैन कार्ड/पासपोर्ट/जॉब कार्ड/पेंशन दस्तावेज
  2. स्वास्थ्य मंत्रालय की योजना के तहत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, मनरेगा कार्ड 
  3. बैंक/ PO की पास बुक
  4. केंद्र/राज्य सरकार/पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा जारी सेवा ID Card
  5. सांसदों/विधायकों/एमएलसी को जारी किए गए आधिकारिक प्रमाण पत्र

कैसे करें रजिस्ट्रेशन

टीकाकरण की प्रक्रिया के लिए केंद्र सरकार ने Co-WIN (कोविड वैक्सीन इंटेलिजेंस वर्क) नाम का एक ऐप जारी किया है। अभी आम लोग कोरोनो वायरस वैक्सीन के लिए पंजीकरण नहीं कर सकते हैं। जब रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा तब आपको अपने मोबाइल में गूगल प्ले स्टोर से Co-win ऐप को डाउनलोड करना होगा। फिर आप इस पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। आपको पंजीकरण करने के लिए एक फोटो आईडी अपलोड करनी होगी। इसके बाद आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर मैसेज के माध्यम से वैक्सीन को लेकर जानकारी मिल जाएगी। मैसेज के माध्यम से ही आपको तारीख, समय और जगह बताई जाएगी। 

को-विन सॉफ्टवेयर केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय द्वारा विकसित किया गया है। अब तक को-विन सॉफ्टवेयर पर 75 लाख से ज्‍यादा लाभार्थियों ने पंजीकरण कराया है। टीकाकरण स्‍थलों पर अपनाई जाने वाली प्रक्रिया के लिए लगभग 1,14,100 टीका लगाने वालों को प्रशिक्षण दिया गया है।

कोरोना वायरस वैक्सीन पहले चरण में 3 करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइव वर्कर्स को दी जाएगी। उसके बाद भी पहला फेज जारी रहेगा, जिसमें 30 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। उसके बाद बाकी लोगों का नंबर आएगा। 
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर