जेल में बंद आजम खान के लिए बुरी खबर, अवैध 'हमसफर' पर चलेगा योगी सरकार का बुलडोजर

देश
किशोर जोशी
Updated Aug 30, 2020 | 09:05 IST

उत्तर प्रदेश के रामपुर से सपा सांसद आजम खान की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। अब रामपुर विकास प्राधिकरण ने उनके 'हमसफर' रिसॉर्ट को अवैध निर्माण घोषित किया है।

Rampur Development Authority to demolish Azam Khan's resort 'Humsafar', notice issued
जेल में बंद आजम के लिए बुरी खबर, 'हमसफर' पर चलेगा बुलडोजर 

मुख्य बातें

  • सीतापुर की जेल में बंद हैं समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान
  • अब प्रशासन ने रामपुर में बने रिसॉर्ट को बताया अवैध, चलेगा बुलडोजर
  • रामपुर प्रशासन ने इसके कुछ हिस्सों को ध्वस्त करने का नोटिस किया जारी

रामपुर: सीतापुर जेल में बंद समाजवादी पार्टी (सपा) के दिग्गज नेता और रामपुर लोकसभा सीट से पार्टी सांसद आजम खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। मुख्तार अंसार और अफ़ज़ल अंसारी जैसे बाहुबली नेताओं के बाद अब योगी सरकार ने रामपुर में फैले आज़म खान के अवैध निर्माण वाली संपत्तियों पर कार्रवाई करनी शुरू कर दी है।  दरअसल उत्तर प्रदेश सरकार ने आजम खान की पत्नी को नोटिस भेजा है जिसमें आजम खान के हमसफर रिसॉर्ट को 15 दिनों के भीतर ध्वस्त करने की बात कही गई है। सरकार का कहना है कि उनका यह रिसॉर्ट अवैध तरीके से बनाया गया है।

प्राधिकरण ने भेजा नोटिस

इसके लिए रामपुर विकास प्राधिकरण ने भी कमर कस ली है। इस संबंध में प्राधिकरण ने सीतापुर जेल में बंद आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा को नोटिस भेजकर सूचित किया है कि पंद्रह दिनों में आज़म खान के हमसफ़र रिसोर्ट को ध्वस्त करें अन्यथा रामपुर विकास प्राधिकरण इसे गिराने की कार्रवाई करेगा और इसमें आने वाले खर्च को भी वसूल करेगा। बताया जा रहा है कि यह रिसॉर्ट बिना नक्शा पास किए ही बनाया गया था। वहीं आजम की तरफ से कहा गया है कि इसका नक्शा ग्राम पंचायत से पास कराया गया था।

बिना नक्शा पास कराए किया निर्माण

रामपुर विकास प्राधिकरण के अनुसार, रामपुर के पसायपुर शुमाली में आज़म खान के शानदार "हमसफ़र रिज़ॉर्ट" को कानूनी स्वीकृति के बिना बनाया गया था। प्रशासन का कहना है कि 30 मीटर की चौड़ाई की ग्रीनबेल्ट में ब्लॉक, रिसेप्शन हाल, टॉयलेट, बैंक्वेट हॉल अशोक का निर्माण करा लिया गया है और आज़म खान की पत्नी द्वारा रिसॉर्ट का नक्शा जिला पंचायत द्वारा अवैध रूप से पारित किया गया था, जिसे रद्द कर दिया गया है। अब इस निर्माण को अवैध मानते हुए इसे ध्वस्त करने के आदेश दिए गए हैं।

जारी है कार्रवाई

 आपको बता दें कि इससे पहले योगी सरकार ने गैंगस्टर और पूर्वांचल की मऊ सदर विधानसभा सीट से विधायक मुख्तार अंसारी की अवैध संपत्ति पर बुलडोजर चला दिया था। लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) ने डालीगंज इलाके में बने मुख्तार के अवैध कब्जे को ढहा दिया था। वहीं प्रयागराज पुलिस ने बाहुबली नेता अतीक अहमद के खिलाफ गैंग्स्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए 60 करोड़ से अधिक संपत्तियों को जब्त कर लिया है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर