राजनाथ सिंह ने राहुल गांधी पर कसा तंज, अभी 'Take off' नही कर पाए अब अलापा जा रहा है Rag Tag Coalition

गुजरात बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक में रक्षा मंत्री ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर अलग अंदाज में तंज कसा।

Gujarat BJP Executive, Vijay Rupani, Nitin Patel, Amit Shah, Narendra Modi, Assembly Elections, rahul gandhi,
राहुल गांधी पर राजनाथ सिंह का तंज, अभी तक नहीं कर पाए टेक ऑफ 

मुख्य बातें

  • कांग्रेस की आदत रही है बिना मुद्दा राजनीति करने की
  • देश की जनता कांग्रेस को बार बार नकार रही है
  • राहुल गांधी तो कभी टेक ऑफ कर ही नहीं पाए-राजनाथ सिंह

गुजरात बीजेपी कार्यकारिणी में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि बीजेपी को देश की जनता क्यों आशीर्वाद दे रही है और कांग्रेस को क्यों नकार रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी की सफलता इतने लम्बे समय से इसलिए क़ायम है क्योंकि यहां सत्ता के माध्यम से पार्टी ने लोगों की जिंदगी बदली है। खासतौर पर 'Politics of Performance' को जो मायने यहां भाजपा ने दिए हैं उसने प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में राजनीतिक तौर तरीकों को बदला है।इस बदलाव में ‘लोक लाडिला’ नरेन्द्र भाई का बहुत बड़ा योगदान है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि राहुल गांधी आज के दौर में प्रासंगिक नहीं हैं। 

राहुल गांधी पर राजनाथ सिंह ने कसा तंज
एक राजनीतिक कार्यकर्ता के रूप में हमें अपने विरोधियों का सम्मान तो करना चाहिए मगर उन पर अपनी ऊर्जा और समय एक सीमा तक ही खर्च करनी चाहिए। जब विरोधियों के पीछे हाथ धोकर कोई पड़ता है तो उसका नतीजा ‘राहुल गांधी’ होता है।कांग्रेस और राहुल गांधी ने अनावश्यक राफेल का मुद्दा बनाया। नतीजा क्या हुआ? राफेल फ्रांस में तैयार हो गए। राफेल भारत में लैंड भी कर गए मगर राहुल जी अभी भी 'Take off' नही कर पाए है।एक 'Rag Tag Coalition' बनाया जा रहा है। लोकतंत्र में विरोध करने में बुराई नहीं है। मगर  विरोध के लिए विरोध करने  की कोशिश की जा रही है। संसद का एक पूरा सत्र ठीक से चलने नहीं दिया गया।

गांधी के नाम का कांग्रेस ने सिर्फ इस्तेमाल किया
कांग्रेस पार्टी ने गांधी का नाम खूब इस्तेमाल किया। यहां तक कि गांधी नाम भी रख लिया, मगर गांधीजी का काम उन्होंने छोड़ दिया।समाज के अंतिम व्यक्ति का उत्थान भाजपा और उसमें पहले जनसंघ के जमाने से हमारा मूल मंत्र रहा है। एकात्म मानवाद और अंत्योदय का चिंतन हमें पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने हमारी राजनीतिक परम्परा और संस्कार के रुप में दिया है।यह गरीबों के प्रति हमारी पार्टी की संवेदनशीलता का उदाहरण है कि जब पूरे देश में कोरोना का संकट था तो प्रधानमंत्री मोदी जी ने स्वास्थ्य रक्षा के साथ-साथ गरीबों को ‘अन्न सुरक्षा‘ की भी चिंता की। कांग्रेस की सरकारों ने इस देश में लोगों का भला करने के बजाय खुद का भला करने में ज्यादा भरोसा किया। भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया गया और यहां तक कि उसे हर जगह Institutionalise किया गया।

भ्रष्टाचार पर हमने करारी चोट की है
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने कहा था कि दिल्ली में 100 पैसा चलता है तो 16 पैसे ही नीचे पहुंचते हैं, बाकी बीच में ही गायब हो जाता है।आज हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने DBT की ऐसी व्यवस्था बना दी है कि दिल्ली से चलने वाला हर रुपया गरीब के बैंक के खाते में सीधा पहुंचता है।मैं किसानों का उदाहरण आपके सामने रखना चाहुंगा। देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने कृषि के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा था 'Everything Else Can Wait, Not Agriculture’.छोटे किसानों की समस्याएं क्या है इस पर कांग्रेस का ध्यान ही नही था। जबकि दीनदयाल जी साठ के दशक में ही कह रहे थे ‘हर खेत को पानी, हर हाथ को काम’।किसानों के सशक्तिकरण के लिए ही पिछले साल सरकार ने तीन कृषि कानून का निर्माण किया और किसानों को हर तरह के बंधन से मुक्त कर दिया गया।

हमारे लिए सत्ता मतलब जनसेवा
हमारे लिए सत्ता में आना एक अवसर है जनसेवा का, समाज सेवा का, देश सेवा का। हमारे लिए हमारा देश हमारा सोमनाथ है, इस देश का गरीब जगन्नाथ है, किसान हमारा बद्रीनाथ है, सैनिक और सुरक्षा बल हमारे लिए केदारनाथ है। इनके लिए काम करना हमारे लिए नारायण सेवा से कम नहीं है। भाजपा के कार्यकर्ता के रूप में चुनावी लक्ष्य से हमें आगे देखने की जरूरत है। और आगे देखने के लिए भी जैसा कि हमारे प्रधानमंत्री जी ने लाल किले की प्राचीन से कहा है कि ‘यही समय है, सही समय है, भारत का अनमोल समय है।

(अमित कुमार, डिप्टी न्यूज एडिटर)
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर