'भयंकर सर्दी में टेंट में रह रहे हमारे जवान, किसे मिले अच्छे दिन?', राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज

Rahul Gandhi on India China tension: भारत-चीन तनाव के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्‍होंने एक न्‍यूज रिपोर्ट का हवाला देते हुए सरकार पर निशाना साधा।

'भयंकर सर्दी में टेंट में रह रहे हमारे जवान, किसे मिले अच्छे दिन?', राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज
'भयंकर सर्दी में टेंट में रह रहे हमारे जवान, किसे मिले अच्छे दिन?', राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन तनाव के बीच राहुल गांधी ने एक बार फिर पीएम मोदी पर वार किया है
  • उन्‍होंने कहा कि हमारे जवान भीषण सर्दी में टेंट में रहते हुए चीन से मुकाबले के लिए डटे हैं, लेकिन पीएम चीन का नाम तक नहीं लेते
  • कांग्रेस नेता ने कहा, पीएम 8400 करोड़ के हवाई जहाज में घूमते हैं, आखिर किसे मिले अच्छे दिन?'

नई दिल्‍ली : पूर्वी लद्दाख में चीन से तनाव के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। भारतीय क्षेत्र में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की घुसपैठ से संबंधित एक रिपोर्ट शेयर करते हुए कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि देश के जवान भीषण सर्दी में भी एक टेंट में गुजारा कर देश की हिफाजत में जुटे हैं, लेकिन प्रधानमंत्री 8400 करोड़ रुपये के जहाज में घूमते हैं, आखिर 'अच्‍छे दिन' किसे मिले?

बीजेपी ने 2014 के आम चुनाव में 'अच्‍छे दिन' का नारा दिया था, जिसे लेकर कांग्रेस नेता ने केंद्र में बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार पर वार किया है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा, 'देश के जवान भयंकर सर्दी में साधारण टेंट में गुज़ारा करते हुए भी चीन के आक्रमण का डटकर मुक़ाबला करते हैं, जबकि देश के PM 8400 करोड़ के हवाई जहाज़ में घूमते हैं और चीन का नाम तक लेने से डरते हैं। किसे मिले अच्छे दिन?'

राहुल गांधी ने किया ट्वीट

इस ट्वीट के साथ उन्‍होंने एक मीडिया रिपोर्ट का स्‍क्रीनशॉट भी शेयर किया है, जिसके शीर्षक में लद्दाख के पूर्व सांसद के हवाले से कहा गया है कि पीएलए ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की है। पूर्व बीजेपी सांसद थुप्स्‍तान छेवांग के हवाले से कहा गया है कि भारतीय जवान कड़ाके की ठंड में टेंट में रह रहे हैं।

यहां उल्‍लेखनीय है कि भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर पिछले करीब छह महीने से तनाव है। अप्रैल के आखिर से तनाव की जो स्थिति बनी हुई है, उसे दूर करने के लिए अब तक दोनों देशों के बीच कई बार बातचीत जो चुकी है, लेकिन इसका कोई समाधान नहीं निकल पाया है। दोनों देश आपसी तनाव को दूर करने के लिए सैन्‍य व कूटनीतिक स्‍तर पर भी बातचीत कर रहे हैं।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर